जरा हटके

पढ़ें शापित कुर्सी की कहानी, जिसके बारे में जानकर कांप जाएगी रूह

Gulabi
26 Sep 2021 3:30 PM GMT
पढ़ें शापित कुर्सी की कहानी, जिसके बारे में जानकर कांप जाएगी रूह
x
हमारी ये दुनिया कई रहस्यमयी चीजों से भरी है

हमारी ये दुनिया कई रहस्यमयी चीजों से भरी है। अक्सर इनसे जुड़े कई किस्से कहानियां लोगों के बीच काफी प्रचलित होते हैं। इसी कड़ी में आज हम बात करने वाले हैं ऐसे ही एक रहस्यमयी कुर्सी के बारे में, जिसको लेकर दावा किया जाता है कि उस पर जो कोई भी बैठा वह किसी ना किसी वजह से मारा गया। कहा जाता है कि ये कुर्सी इंग्लैंड या फिलेडेल्फिया के एक म्यूजियम में रखी गई है। इस चेयर के खौफ का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि डर के कारण इसको जमीन से कई फीट ऊपर लटकाया गया है, ताकि इस पर कोई बैठ ना सके। इन्हीं वजहों से इस रहस्यमयी कुर्सी की चर्चा देश दुनिया में की जाती है। मौत की कुर्सी कही जाने वाली इस रहस्यमयी चेयर के ऐसे कई किस्से हैं, जिन्हें जानने के बाद आप हैरान हो जाएंगे। इसी सिलसिले में आइए जानते हैं इस शापित कुर्सी के बारे में, जिस पर जो कोई भी बैठा वो मारा गया।


आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ये कुर्सी थॉमस बस्बी नामक एक शख्स की थी। कहा जाता है कि उसकी इस पसंदीदा चेयर पर एक बार उसके ससुर बैठ गए थे। इससे थॉमस काफी गुस्सा हो गया और उसने उनका मर्डर कर दिया।

इस मर्डर के कारण थॉमस बस्बी को फांसी के तख्ते पर लटका दिया गया था। हालांकि मरने से ठीक पहले थॉमस ने ये श्राप देते हुए कहा कि जो कोई भी इस कुर्सी पर बैठने की हिमाकत करेगा उसकी मौत हो जाएगी। गौरतलब बात है कि थॉमस की मृत्यु के बाद भी कई लोगों ने इस बात को गंभीरता से नहीं लिया और उस कुर्सी पर बैठना चाहा। हालांकि चेयर पर बैठने के बाद कुछ ही दिनों में उनकी मृत्यु हो गई।

कुछ समय बाद जब कुर्सी पर बैठने वाले 4 और लोगों की मृत्यु हुई, तो कई लोगों को इस बात का एहसास हुआ कि ये कुर्सी शापित हो चुकी है। द्वितीय विश्व युद्ध के समय कुछ सैनिक इस चेयर पर बैठे थे। युद्ध के दौरान इन सभी सैनिकों में से एक भी जिंदा नहीं बचा सका। कहा तो ये भी जाता है कि आज भी थॉमस बस्बी की आत्मा इस कुर्सी में है।

उसके बाद से इस चेयर को लोगों की पहुंच से दूर कर दिया गया। इसे अब एक म्यूजियम में रखा गया है। इस कुर्सी को डेथ चेयर के नाम से भी जाना जता है। इसे लेकर लोगों के भीतर डर इतना ज्यादा है कि वे इसे म्यूजियम में भी देखने से डरते हैं।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta