जरा हटके

जानिए क्यों और कैसे मिलता है गोल्डन वीजा? हाल ही में मिली थी अभिनेता संजय दत्त को

Gulabi
29 May 2021 2:06 PM GMT
जानिए क्यों और कैसे मिलता है गोल्डन वीजा? हाल ही में मिली थी अभिनेता संजय दत्त को
x
गोल्डन वीजा

हाल ही में भारतीय अभिनेता संजय दत्त (Sanjay Dutt) ने ट्विटर पर एक फोटो शेयर की जिसमें उन्होंने यूएई (UAE) की तरफ से गोल्डेन वीजा (Golden Visa) मिलने की जानकारी दी. उन्होंने लिखा कि मेजर जनरल मोहम्मद अल मारी की उपस्थिति में गोल्डन वीजा पाकर काफी सम्मानित महसूस कर रहे हैं. गोल्डेन वीजा प्राप्त करने के बाद संजय दत्त 10 साल तक यूएई में रह सकते हैं. उन्हें यूएई की यात्रा करने के लिए बार-बार वीजा लेने की जरूरत नहीं होगी.

ऐसे में कई लोगों के मन में ये सवाल उठा कि आखिर ये गोल्डेन वीजा क्या होता है और इसे कैसे हासिल किया जाता है? बता दें कि यूएई गोल्डेन वीजा देने वाला अकेला देश नहीं है. इसके अलावा पुर्तगाल, स्पेन और ग्रीस जैसे कई देश कुछ खास लोगों को गोल्डेन वीजा जारी करता है.
2019 में हुई थी शुरुआत
दरअसल यूएई का गोल्डेन वीजा दुबई में 10 साल का रेजिडेंट परमिट है. गोल्डेन की वीजा की शुरुआत पहली बार 2019 में की गई थी. दुबई के उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और शासक हिज हाइनेस शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम ने इसकी शुरुआत निवेशकों और व्यापारियों के लिए की थी.
अगले साल यानी 2020 में गोल्डेन वीजा की इजाजत कुछ विशेष लोगों के लिए भी दे दी गई, जिसमें किसी विशेष डिग्री, डॉक्टरों, वैज्ञानिकों और प्रोफेशन के लोग शामिल हो सकते हैं. नियमों में इन बदलावों के बाद ही संजय दत्त को गोल्डन वीजा दिया गया है. यूएई के अलावा पुर्तगाल, ग्रीस, स्पेन, माल्टा, यूएसए, सेंट किट्स एंड नोविस, एंटीगुआ एंड बारबुडा और डोमिनिका जैसे देश भी गोल्डेन वीजा देते हैं.
कैसे मिलता है?
गोल्डेन वीजा देने के पीछे देशों का उद्देश्य निवेश को बढ़ावा देना है. नागरिक 'रेंजिडेंस बाई इंवेस्टमेंट कार्यक्रम' के तहत से गोल्डेन वीजा की मांग कर सकते हैं. आवेदन के बाद देश वीजा की मांग करने वाले दस्तावेजों की जांच करता है और आश्वस्त होने के बाद आवेदक को गोल्डन वीजा दिया जाता है.
दो तरह का होता गोल्डन वीजा
यूएई का गोल्डन वीजा दो तरह का होता है. एक 10 साल के लिए और एक 5 साल के लिए. 10 साल का गोल्डेन वीजा सिर्फ निवेशकों को दिया जाता है. इसमें अपने साथ पति या पत्नी, बच्चों, एक कार्यकारी निदेशक और एक सलाहकार को साथ ले जाने की अनुमति होती है. वहीं पांच साल का गोल्डन वीजा निवेशकों के साथ-साथ आंट्रेप्रेनोर, प्रतिभाशाली छात्रों, विज्ञान और ज्ञान के क्षेत्र में काम करने वाले लोगों, डॉक्टर और वैज्ञानिक जैसे शोधकर्ताओं और कला के क्षेत्र से जुड़े व्यक्तियों को दिया जाता है. इसमें भी पति या पत्नी और बच्चों को साथ यात्रा करने की अनुमति होती है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta