जरा हटके

धरती पर कितने पक्षी रहते हैं? Population का आंकड़ा जान हो जाएंगे हैरान

Gulabi
22 May 2021 11:04 AM GMT
धरती पर कितने पक्षी रहते हैं? Population का आंकड़ा जान हो जाएंगे हैरान
x
पक्षी का Population का आंकड़ा

Knowledge: सुबह से लेकर शाम तक चिड़ियों की चहचहाहट से माहौल खुशनुमा बना रहता है. दुनियाभर में कई तरह की रंगबिरंगी और अलग-अलग तरह की चिड़िया पाई जाती हैं (Birधरती पर कितने पक्षी रहते हैं? आपको चौंका सकता है इनकी Population का आंकड़ाd's World). लेकिन क्या आप जानते हैं कि दुनियाभर में चिड़िया की कितनी आबादी (Birds Population) है? इंसानों की तरह इनकी भी एक दुनिया है और इसके बारे में लगातार जानकारी जुटाई जाती है कि किस प्रजाति (Birds Species) कि कितनी चिड़िया पाई जाती हैं

अलग-अलग प्रजाति की पक्षियों (Birds Population) की गणना कर उनकी आबादी का पता लगाया जाता है. दुनिया में पक्षियों की एक ऐसी प्रजाति है, जिनकी आबादी सबसे ज्यादा है. यह चिड़िया बहुत मुश्किल से नजर आती है. इसको लेकर कई तरह की रिसर्च भी हो चुकी हैं. जानिए उसके बारे में.
धरती पर कुल मिलाकर 50 बिलियन यानी 5000 करोड़ पक्षी रहते हैं. हालांकि इनमें से सिर्फ चार प्रजातियां ही ऐसी हैं, जो इस पूरी आबादी का सबसे ज्यादा हिस्सा बनाती हैं. इनमें पहले स्थान पर है घरेलू गौरैया (House Sparrows). इसके बाद यूरोपियन स्टारलिंग्स (European Starlings), फिर रिंग-बिल्ड गुल्स (Ring-Billed Gulls) और लास्ट में बार्न स्वैलोस (Barn Swallows). इन चारों प्रजातियों की आबादी 1000 करोड़ से ज्यादा है.
चिड़ियों की कुछ प्रजातियां ऐसी भी हैं, जो अब विलुप्त (Extinct Birds) होने की कगार पर हैं. चिड़ियों की 1180 प्रजातियां ऐसी हैं, जिनमें हर एक में करीब 5000 पक्षी ही बचे हैं. ऑस्ट्रेलिया स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ साउथ वेल्स (University Of South Wales, Australia) के पोस्ट-डॉक्टोरल फेलो कोरी कैलेगन (Corey Callaghan) ने पक्षियों की आबादी (Birds Population Survey) की गणना की है. कोरी ने बताया कि प्रकृति (Nature) हमेशा दुर्लभ प्रजातियों (Rare Species) से ज्यादा प्यार करती है. इसलिए उनके संरक्षण की व्यवस्था भी खुद कर देती है.
कोरी (Corey Callaghan) और उनके साथियों की रिसर्च में पता चला कि धरती पर हर इंसान के ऊपर छह पक्षी हैं. इससे पहले पक्षियों की प्रजातिवार आबादी (Birds Population Survey) की गणना 24 साल पहले हुई थी. तब बताया गया था कि इनकी आबादी 20 से 40 हजार करोड़ के बीच है. ये आंकड़े बहुत ज्यादा थे, जबकि इस बार की गणना में काफी कम पक्षी गिने गए हैं.
कोरी ने सिटिजल साइंस डेटा से पक्षियों के आंकड़े निकाले थे. ये आंकड़े ऑनलाइन डेटाबेस ईबर्ड (Online Database ebird) पर उपलब्ध हैं. इसके आधार पर उन्होंने एक मॉडल तैयार किया. उस पर विश्लेषण करके विभिन्न प्रजातियों के पक्षियों की संख्या (Birds Population) का पता किया गया. कोरी और उनकी टीम ने 724 प्रजातियों (Birds Species) का अलग-अलग अध्ययन भी किया. इस मॉडल से पता चला कि दुनिया में 9700 प्रजाति के 5000 करोड़ पक्षी मौजूद हैं.
इंग्लैंड की रॉयल सोसाइटी फॉर द प्रोटेक्शन ऑफ बर्ड्स (Royal Society For The Protection Of Birds, England) के रिचर्ड ग्रेगरी ने बताया कि रेड बिल्ड क्यूलिया (Red Billed Quelea) को धरती पर सबसे ज्यादा आबादी वाला पक्षी माना जाता है. कोरी और उनके साथियों के रिसर्च में इसकी आबादी सिर्फ 9.50 करोड़ ही बताई गई है.
कोरी कैलेगन (Corey Callaghan) ने कहा कि इंसान चाहे तो पक्षियों की आबादी (Birds Population) को सुधारने का काम कर सकता है. इसके लिए कुछ और रिसर्च करने की जरूरत है और नए संरक्षण वाले कदम भी उठाने होंगे. सबसे पहले तो इंसानों को जंगल काटने बंद कर देने चाहिए. कोई ऐसी जगह भी बनाई जा सकती है, जहां पक्षी आराम से अपना जीवन बिता सकें. वे भी इसी धरती पर रहते हैं इसलिए उन्हें मारने या उनका घर उजाड़ने का अधिकार इंसानों को नहीं है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta