जरा हटके

सिर कटने के बाद भी जिंदा रहता है कॉकरोच, फिर इतने दिन बाद होती है मौत

Gulabi
1 Dec 2021 7:09 AM GMT
सिर कटने के बाद भी जिंदा रहता है कॉकरोच, फिर इतने दिन बाद होती है मौत
x
आपमें से शायद ही कुछ लोग जानते होंगे कि कॉकरोच को हिंदी में तिलचट्टा कहते हैं
आपमें से शायद ही कुछ लोग जानते होंगे कि कॉकरोच (Amazing Facts about Cockroach) को हिंदी में तिलचट्टा कहते हैं. क्या आप जानते हैं कि कॉकरोच (Cockroach Death) का सिर कटने के बाद भी यह लगभग 9 दिनों तक जिंदा रहता है? अगर उनका सिर कट जाए तो उनके शरीर में 9 दिनों तक जान (Cockroach Death after Week) रहती है और उनकी टांगें हिलती रहती हैं. आप आश्चर्य में पड़ गए होंगे कि कोई भी जीव सिर कटने के बाद जिंदा (How Cockroach Death) कैसे रह सकता है? आप यह भी सोच रहे होंगे कि वह सांस कैसे लेता होगा? बता दें कि कॉकरोच किसी चमत्कार या जादू की वजह से जिंदा नहीं रहते, बल्कि उनके शरीर में एक खासियत होती है. दरअसल, कॉकरोच अपनी नाक से सांस नहीं लेते हैं. बल्कि उनके शरीर में कई सारे छोटे-छोटे छिद्र होते हैं. इन्हीं छिद्रों से वह सांस लेते हैं. इस वजह से वह सिर कटने के बाद भी जिंदा रहते हैं.
भूख और प्यास से मर जाते हैं कॉकरोच
आप सोच रहे होंगे कि जब उन्हें सांस लेने की जरूरत नहीं है तो 9 दिनों बाद वह मर क्यों जाते हैं? तो हमारे पास इस सवाल का भी जवाब है. दरअसल, सिर कटने के बाद कॉकरोच इस वजह से 9 दिनों के बाद जिंदा नहीं रह पाते हैं, क्योंकि वह खाते-पीते अपने सिर से ही हैं. जब उनका सिर कटा नहीं होता तब वह अपने शरीर में बड़ी मात्रा में प्रोटीन इकट्ठा करके रखते हैं. इस कारण जब उनका सिर कट जाता है तो वह 9 दिनों तक तो जिंदा रह जाते हैं, लेकिन इसके बाद भूख और प्यास की वजह से मर जाते हैं.
हर 15-15 मिनट में पादने वाला जानवर
आप जानकर हैरान रह जाएंगे कि कॉकरोच सबसे ज्यादा पादने वाले जानवरों में से एक है. वह हर 15-15 मिनट के अंदर पादता रहता है. तकरीबन 12 से 30 करोड़ साल पहले कॉकरोच धरती पर आए थे. आप जानकर हैरान रह जाएंगे कि दुनियाभर में कॉकरोच की 4600 प्रजातियां पाई जाती हैं. इसमें से सिर्फ 30 प्रजातियां ही इंसानों के निवास पर रहती हैं. क्या आप जानते हैं कि छिपकली और मकड़ी, कॉकरोच के जानी दुश्मन हैं. ये एक-दूसरे को सामने पाते ही झपट पड़ते हैं.
चीन और थाईलैंड में फ्राई करके खाते हैं लोग
अगर आपके आस-पास भी कॉकरोच आ जाए तो आपको उनसे घिन आने लगती होगी. लेकिन आप जानकर आश्चर्य में पड़ जाएंगे कि हमारे पड़ोसी देश चीन तथा थाईलैंड में कॉकरोच को फ्राई कर के खाया जाता है. कॉकरोच चाहे तो अपनी सांस को 40 मिनट तक रोक सकता है. इसी कारण कॉकरोच 30 मिनट तक पानी में जिंदा रहते हैं. कॉकरोच का जीवनकाल औसतन एक साल होता है. कॉकरोच प्रति सेकेंड 5 मीटर की रफ़्तार से अपने पैरों से दौड़ सकता है.
टूटने के बाद फिर से उग आती है कॉकरोच की टांग
कॉकरोच के 18 पैर होतै हैं. जैसे इंसानों के सिर पर बाल उगते हैं, वैसे ही अगर कॉकरोच की एक टांग टूट जाती है तो वह फिर से नई उग आती है. साउथ अमेरिका में विश्व का सबसे बड़ा कॉकरोच 6 इंच का पाया गया था. वैसे नॉर्मल कॉकरोच डेढ़ से दो इंच बड़े होते हैं. कॉकरोच को शराब बहुत पसंद आती है.
फैलाते हैं 33 प्रकार के बैक्टीरिया
कॉकरोच सब कुछ खा सकते हैं. वह साबुन, दीवारों की पुताई, किताब, चमड़ा, गोंद, ग्रीस और यहां तक कि आपके बाल भी खा सकते हैं. बच्चों में एलर्जी और अस्थमा के लिए अगर सबसे ज्यादा कोई जिम्मेदार होता है तो वह कॉकरोच ही होते हैं. वह 33 अलग-अलग प्रकार के बैक्टीरिया फैलाते हैं.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta