दिल्ली-एनसीआर

निर्माण कार्य की वजह से रेलवे ने रद्द की कई ट्रेनें, कुछ बदले हुए रूट पर चलेंगी

Renuka Sahu
4 April 2022 1:20 AM GMT
निर्माण कार्य की वजह से रेलवे ने रद्द की कई ट्रेनें, कुछ बदले हुए रूट पर चलेंगी
x

फाइल फोटो 

बुनियादी ढांचा ठीक करने के लिए रेलवे ने कई मंडलों व जोन में ट्रैफिक ब्लॉक लेने का निर्णय लिया है।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। बुनियादी ढांचा ठीक करने के लिए रेलवे ने कई मंडलों व जोन में ट्रैफिक ब्लॉक लेने का निर्णय लिया है। इस दौरान स्टेशन, ट्रैक, सिग्नलिंग सिस्टम को दुरुस्त किया जाएगा। लिहाजा नवरात्र के दिनों में ट्रेनों के निरस्त होने, परिवर्तित मार्ग से चलने की वजह से यात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।

निर्माण कार्य की वजह से 11 अप्रैल तक 24 से अधिक ट्रेनों की चाल प्रभावित होंगी। इसका असर लोकल ट्रेन पर भी पड़ेगा। 6 अप्रैल को चलने वाली ट्रेन संख्या 04449 नई दिल्ली- कुरुक्षेत्र ईएमयू स्पेशल, ट्रेन संख्या 04452 कुरुक्षेत्र-दिल्ली जंक्शन ईएमयू स्पेशल रद्द रहेंगी। इसी दिन चलने वाली ट्रेन संख्या 12460/2459 नई दिल्ली-अमृतसर-नई दिल्ली इटरसिटी एक्सप्रेस रद्द रहेगी।
इसके अलावा ट्रैफिक ब्लॉक होने की वजह से लंबी दूरी की मुख्य रूप से ट्रेन संख्या 14010 आनंद विहार टर्मिनल-बापूधाम मोतिहारी एक्सप्रेस 5 व 10 अप्रैल को, ट्रेन संख्या 12491 बरौनी-जम्मूतवी एक्सप्रेस 10 अप्रैल को रद्द रहेगी। 7 अप्रैल को ट्रेन संख्या 15530 आनंद विहार टर्मिनल-सहरसा एक्सप्रेस निरस्त रहेगी। 4, 7 व 9 अप्रैल को ट्रेन संख्या 15211 दरभंगा-अमृतसर एक्सप्रेस निरस्त रहेगी। 4, 6, 9 व 11 अप्रैल को ट्रेन संख्या 15212 अमृतसर-दरभंगा एक्सप्रेस रद्द रहेगी।
ये ट्रेनें परिवर्तित मार्ग से चलेंगी
8 अप्रैल को चलने वाली ट्रेन संख्या 12408 अमृतसर-न्यूजलपाईगुड़ी एक्सप्रेस रोजा-लखनऊ-बुरवाल के रास्ते चलेगी। इसी तरह ट्रेन संख्या 15708 अमृतसर-कटिहार एक्सप्रेस अंबाला-सहारनपुर-मेरठ सिटी-खुर्जा के रास्ते चलेगी। 6 अप्रैल को रवाना होने वाली ट्रेन संख्या 14507 दिल्ली-फाजिल्का एक्सप्रेस बरास्ता सोनीपत-गोहना-पानीपत चलेगी। 12 अप्रैल को चलने वाली ट्रेन संख्या 22429 दिल्ली जंक्शन-पठानकोट एक्सप्रेस बारास्ता चंडीगढ़-साहनेवाल होकर चलेगी। 6 अप्रैल को ट्रेन संख्या 22430 पठानकोट-दिल्ली जंक्शन एक्सप्रेस को कुरुक्षेत्र-करनाल के बीच 20 मिनट रोक कर चलाई जाएगी।
स्क्रैप बिक्री से उत्तर रेलवे को 624.36 करोड़ राजस्व अर्जित
माल लदान ही नहीं उत्तर रेलवे ने स्क्रैप निपटान के क्षेत्र में भी रिकार्ड बनाया है। जीरो स्क्रैप नीति के तहत वित्तीय वर्ष 2021-22 के दौरान स्क्रैप निपटान से 624.36 करोड़ रुपये की कमाई की है। वित्तीय वर्ष 2018-19 में 536.99 करोड़ रुपये के पिछले आंकड़े को पार कर उत्तर रेलवे एक वर्ष में 600 करोड़ रुपये की स्क्रैप बिक्री कर एक मात्र जोनल रेलवे बन गई है।
रेलपथों के किनारे पड़े पटरियों के टुकड़े, स्लीपर, टाई बार की मौजूदगी से संरक्षा संबंधी चुनौतियां उत्पन्न होती है। इसे देखते हुए रेलवे ने अपने स्टाफ क्वार्टर का स्क्रैप, केबिन, शेड, पानी की टंकियों का निपटान भी किया। इसके लिए 8 स्थानों से 592 ई-नीलामी की गई और एक लाख मीट्रिक टन से अधिक लोहे के स्क्रैप का निपटान किया गया। इसमें 70 हजार मीट्रिक टन का रेल स्क्रैप, 850 मीट्रिक टन अलौह स्क्रैप, 1930 मीट्रिक टन लीड एसिड बैट्री, 201 मीट्रिक टन से अधिक ई-कचरा, 250 से अधिक सेवा से हटाये गये रोलिंग स्टॉक, रेलपथों के किनारे पड़े 1.55 लाख कंक्रीट स्लीपर शामिल हैं।
उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल के अनुसार न केवल अपने पिछले वर्ष के आंकड़े में 40 प्रतिशत की वृद्धि इस साल दर्ज की है बल्कि रेल मंत्रालय द्वारा दिए गये 370 करोड़ रुपये के लक्ष्य से 69 प्रतिशत अधिक राजस्व अर्जित किया है।
नड्डा ने ट्रेनों में सफाई के लिए रेलवे की सराहना की
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से सवाई माधोपुर तक ट्रेन से यात्रा की। इसकी जानकारी उन्होंने ट्वीट कर दी है। भारतीय रेलवे की सफाई, स्वच्छता और स्वागत के लिए खुशी जाहिर की है। साथ ही रेल मंत्रालय व रेल मंत्री की सराहना की है।
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर सुरक्षा घेरे के बीच शनिवार देर रात पहुंचे। स्टेशन परिसर के बाहर से प्लेटफार्म तक उन्होंने बैट्री वाले गोल्फ कोर्ट का उपयोग किया। प्लेटफार्म नंबर-1 पर खड़ी सवाई माधोपुर के लिए जाने वाली ट्रेन में सवार हुए। ट्रेन में वह अपने कंपार्टमेंट के मुसाफिर बच्चे से बातचीत भी की। ट्रेन से यात्रा करने का अपना अनुभव नड्डा ने ट्वीट करके बताया है।
साथ ही उन्होंने एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर सांझा किया है, जिसमें वह नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से अपनी रेल यात्रा शुरू करते हुए राजस्थान के सवाई माधोपुर तक की यात्रा करते हुए दिखा दे रहे हैं। अपने अनुभव में जेपी नड्डा ने बताया कि वह काफी दिनों बाद ट्रेन से यात्रा कर रहे है। सफाई और स्वच्छता के मामले में रेलवे के सुधार को लेकर प्रसन्नता व्यक्त की। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव व रेल मंत्रालय दोनों की सराहना करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी के नेतृत्व में अच्छा काम किया है।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta