दिल्ली-एनसीआर

1 दिसंबर को नार्को से पता चलेगा आफताब ने कितना सच और कितना झूठ बोला

Admin Delhi 1
30 Nov 2022 7:46 AM GMT
1 दिसंबर को नार्को से पता चलेगा आफताब ने कितना सच और कितना झूठ बोला
x

दिल्ली क्राइम न्यूज़: श्रद्धा मर्डर मामले में गिरफ्तार आरोपी आफताब अमीन का पॉलीग्राफ टेस्ट पूरा हो गया है। इस दौरान इससे करीब 250 सवाल किए गए। प्रत्येक सवाल का जवाब आफताब ने पूरे कॉन्फिडेंस के साथ दिया, लेकिन पुलिस को इसके जवाबों से अभी तक कोई बड़ी सफलता हाथ नहीं लगी है। ऐसे में शक है कि यह बड़ा शातिर है। जो मामले की सीक्वेंस और सबूत छिपा रहा है। ऐसे में इसका 1 दिसंबर को आंबेडकर हॉस्पिटल में कराए जाने वाले नार्को टेस्ट से पुलिस को बड़ी उम्मीदें हैं। क्योंकि नार्को टेस्ट के बाद ही यह साफ हो सकेगा कि जितने सवालों के जवाब इसने पॉलीग्राफ से पहले और पॉलीग्राफ टेस्ट के दौरान दिए थे, उसमें कितने झूठ थे और कितने सच।

सूत्रों का कहना है कि आफताब से जितने भी सवाल पॉलीग्राफ टेस्ट में पूछे गए। कमोबेश इसी तरह के तमाम सवालों के जवाब इसने पहले भी पुलिस पूछताछ में दिए थे। इसलिए पुलिस को पॉलीग्राफ टेस्ट से कोई बड़ी सफलता हाथ नहीं लगी है। मामले की जांच कर रही साउथ दिल्ली की महरौली थाना पुलिस आफताब का 1 दिसंबर को नार्को टेस्ट कराएगी। 5 दिसंबर की डेट भी रिजर्व रखी गई है। 29 नवंबर को इसे एक बार फिर से एफएसएल रोहिणी ले जाया गया था, वहां यह साढ़े 4 घंटे से अधिक वक्त तक रहा। इस दौरान इसका नार्को से पहले किया जाने वाला मेडिकल रिव्यू और अन्य सवाल-जवाब का सेशन पूरा कर लिया गया। बताया जाता है कि सेशन में यह नार्को के लिए पूरी तरह से फिट पाया गया है।

जंगलों से 4-5 चाकू और कैंची मिले:पुलिस सूत्रों का कहना है कि इस मामले में न तो अभी तक बरामद हड्डियों की कोई डीएनए रिपोर्ट आई है और न ही पुलिस को कोई आरी बरामद हुई है। हां, इसके घर, छतरपुर और गुरुग्राम के जंगलों से पुलिस को 4-5 चाकू और कैंची मिले हैं। इनमें दो चाकू चापड़ जैसे बड़े हैं। इन सभी को पुलिस ने जब्त कर लिया है। सूत्रों का कहना है कि जंगलों से जो हड्डियां पुलिस को बरामद हुई हैं। इनमें कमर, थाई, हाथ और पैर की भी कुछ हड्डियां हैं। इन्हें देखकर लगता है कि जैसे शव को किसी आरी या अन्य किसी तेज धारदार हथियार से काटा गया हो। इसलिए पुलिस को जांच में इस बात से बल मिलता दिखाई दे रहा है कि हो ना हो जंगलों से बरामद हड्डियां श्रद्धा की हो सकती हैं।

खोपड़ी की जारी है तलाश: सूत्रों का कहना है कि पुलिस को अभी तक श्रद्धा की खोपड़ी नहीं मिली है। स्कल मिलने से पुलिस इसका सुपर इंपोजिशन टेस्ट कराने की तैयारी में है। जिसका श्रद्धा के फोटो से मिलान होने पर यह कोर्ट में अहम सबूत के तौर पर पेश किया जा सकेगा। इसकी खोज लगातार जारी है। मामले में गुजरात में गिरफ्तार ड्रग पैडलर फैजल मोमिन से भी दिल्ली पुलिस आफताब को ड्रग्स दिए जाने वाले मामले में पूछताछ कर सकती है। बताया जाता है कि फैजल ने गुजरात पुलिस से यह कहा है कि वह आफताब को ड्रग्स देता था। लेकिन आफताब के नशा लेने वाली बात पर तिहाड़ जेल के सूत्र अचंभे में हैं। क्योंकि, जब से आफताब तिहाड़ जेल पहुंचा है। इसे एक बार भी वहां नशा लेने की कोई तलब नहीं लगी। जेल सूत्रों का कहना है कि जेल में जितने कैदी भी नशा लेने वाले आते हैं। इनकी एकदम अलग से पहचान हो जाती है। वो बिना नशा लिए बेचैन होने लगते हैं, लेकिन आफताब में अभी तक ऐसा कोई लक्षण सामने नहीं आया है। यह एकदम सामान्य लग रहा है। जैसे की इसने कुछ किया ही न हो।

जेल में सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त: रोहिणी एफएसएल में इसकी वैन पर हमला होने के बाद महरौली पुलिस पहले इसे सोमवार रात को महरौली थाने में ले गई। जहां से इसकी जेल वैन के आगे पीछे पुलिस ने अपनी सिक्योरिटी और लगाई। इसके बाद इसे सोमवार रात करीब 8:30 बजे तिहाड़ जेल लाया गया। यहां हरि नगर थाना पुलिस ने भी इसे सुरक्षा दी। जेल में इसके ऊपर कोई हमला न कर दे। इसके लिए सुरक्षा के और इंतजाम किए गए हैं।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta