दिल्ली-एनसीआर

अब फोन और वॉट्सऐप पर डॉक्टरी सलाह ले सकेंगे मरीज, दिल्ली के अस्पतालों में शुरू हुई सुविधा

Renuka Sahu
10 Jan 2022 5:26 AM GMT
अब फोन और वॉट्सऐप पर डॉक्टरी सलाह ले सकेंगे मरीज, दिल्ली के अस्पतालों में शुरू हुई सुविधा
x

फाइल फोटो

दिल्ली में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने के साथ ही नॉन कोविड मरीजों की परेशानियां बढ़ गई हैं।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। दिल्ली में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने के साथ ही नॉन कोविड मरीजों की परेशानियां बढ़ गई हैं। अधिकतर सरकारी अस्पतालों में ओपीडी में मरीजों को देखने का समय कम कर दिया गया है। कई अस्पतालों में ओपीडी के जरिये दाखिले बंद होने के अलावा गैर इमरजेंसी सेवाएं बंद हैं। ऐसे में अब ऑनलाइन टेली कंसल्टेशन के जरिए इलाज के विकल्प उपलब्ध हैं। अधिकतर सरकारी अस्पतालों में टेली कंसल्टेशन की सुविधा है। इसकी मदद से घर बैठे डॉक्टर से परामर्श प्राप्त कर सकते हैं।

वीडियो कॉल से संपर्क
केंद्र सरकार की ओर से लॉन्च किए गए ई-संजीवनी ऐप का इस्तेमाल कोरोना की दूसरी लहर के दौरान भी बहुत हुआ था। देशभर में लाखों लोगों ने इस ऐप का इस्तेमाल किया था। आप इसके माध्यम से वीडियो कॉल कर डॉक्टर से परामर्श ले सकते हैं।
एम्स में पुराने मरीज ले सकेंगे सलाह
एम्स में पुराने मरीज टेलीफोन के जरिए विशेषज्ञ डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं। टेली कंसल्टेशन के लिए विशेष फोन नंबर भी तय हैं। मरीज सोमवार से शनिवार के बीच 9115444155 नंबर पर सुबह 8.30 से दोपहर 2.30 के बीच कॉल कर अग्रिम अपॉइंटमेंट ले सकते हैं। उस रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर यूएचआईडी नंबर के वेरिफिकेशन के बाद अपॉइंटमेंट की तारीख और समय का एसएमएस आएगा।
यूं करें इस्तेमाल
ई-संजीवनी ऐप को गूगल प्ले स्टोर पर जाकर डाउनलोड किया जा सकता है। डाउनलोड होने के बाद इसमें तीन ऑप्शन मिलेंगे। पहला, मरीज के रजिस्ट्रेशन और टोकन से जुड़ा होगा। दूसरा मरीज के लॉगइन और तीसरा प्रिस्क्रिप्शन का ऑप्शन होगा। ऐप से रजिस्ट्रेशन और टोकन प्राप्त करने के बाद मोबाइल नंबर डालना होगा। इसके बाद एक ओटीपी आएगा। ओटीपी को डालकर फॉर्म भर सकेंगे। यहां सामान्य बीमारियों जैसे सर्दी, बुखार, खांसी, सिरदर्द, पेटदर्द से लेकर संक्रामक रोग, शुगर, ब्लड प्रेशर, कैंसर के इलाज के लिए डॉक्टरों से नि:शुल्क परामर्श पा सकेंगे।
दिल्ली सरकार की कोविड हेल्पलाइन से भी जुड़े हैं कई महत्वपूर्ण अस्पताल
दिल्ली सरकार ने भी मरीजों के लिए कोविड हेल्पलाइन की सुविधा दी है। सरकार की इस हेल्पलाइन से कई अस्पताल जुड़े हुए हैं। 1031 नंबर पर कॉल कर आप कोरोना के अलावा भी अपनी बीमारी का इलाज पा सकते हैं।
बच्चों की समस्या के लिए टोल फ्री नंबर
कोरोना के इस दौर में जिन बच्चों को कोई न्यूरोलॉजिकल प्रॉब्लम हो और वे ऑटिज्म, सेरेब्रल पाल्सी, मसल डिस्ट्रॉफी या मिर्गी जैसी बीमारी से पीड़ति हों उनके परिवार वालों के लिए बार-बार अस्पताल आने की परेशानी का अंदाजा लगाया जा सकता है। एम्स की नई हेल्पलाइन पर कॉल कर उन्हें एम्स के चाइल्ड न्यूरोलॉजी विभाग के अनुभवी डॉक्टरों की सलाह मिल जाएगी। डॉक्टर बच्चों को अस्पताल लाने को तभी कहेंगे, जब उन्हें लगेगा कि इसकी जरूरत है। टोल फ्री नंबर 1800117776 पर आप संपर्क कर सकते हैं।
घर बैठे ओपीडी का समय लें
आरएमएल, सफदरजंग, दिल्ली कैंसर संस्थान, लेडी हार्डिंग समेत अधिकतर सरकारी अस्पतालों में सभी मरीजों के लिए ऑफलाइन के अलावा ऑनलाइन ओपीडी का अपॉइंटमेंट की सुविधा है। सरकारी अस्पताल में ऑनलाइन अपॉइंटमेंट लेने के लिए https://ors.gov.in/ors/ पर जाएं। यहां पंजीकरण करें। लेडी हार्डिंग अस्पताल में टेली मेडिसिन के लिए इन नंबरों पर 011-24300633 और 9354770787 संपर्क किया जा सकता है।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta