दिल्ली-एनसीआर

कौशांबी पुलिस ने एनसीआर में वाहनों का सामान चोरी करने वाले मास्टरमाइंड सहित गिरोह को किया गिरफ्तार

Admin Delhi 1
29 Oct 2022 7:10 AM GMT
कौशांबी पुलिस ने एनसीआर में वाहनों का सामान चोरी करने वाले मास्टरमाइंड सहित गिरोह को किया गिरफ्तार
x

दिल्ली एनसीआर क्राइम न्यूज़: किराये के ऑटो से घर के बाहर और मोहल्लों में खड़ी गाड़ियों की रेकी कर डेढ़ मिनट में बैटरी और ईसीएम चोरी करने वाले मास्टरमाइंड आसिफ समेत गिरोह के चार सदस्य कौशांबी पुलिस ने अपनी गिरफ्त में ले लिया है। बीते बृहस्पतिवार को पुलिस ने चारों आरोपियों को ईडीएम मॉल के पास से गिरफ्तार किया है। इस गिरोह के सदस्य एनसीआर में वाहनों के सामान चोरी कर दिल्ली मायापुरी में कबाड़ी अली हसन को बेच देते थे। पुलिस ने आरोपियों पूछताछ के आधार पर 9 ईसीएम, 9 बैटरी, एक प्लास, एक हथौड़ी, एक गोटी पाना, 3 चाबी, दो पेचकस, एक पाना रिंच, दो आरी के टूट ब्लेड, तीन चाकू, 3600 रुपये के अलावा एक ऑटो बरामद किया है।

मास्टरमाइंड संग गिरोह गिरफ्तार: क्षेत्राधिकारी इंदिरापुरम स्वतंत्र कुमार सिंह ने बताया कि आसिफ बिसोई सराय नगीना, बिजनौर का निवासी है। निखिल ग्रोवर और सूर्य पांडव नगर दिल्ली और कबाड़ी अली हसन सुल्तानपुरी, दिल्ली का निवासी है। आसिफ इस गिरोह का मास्टरमाइंड है। उसने गाड़ियों के बोनट डेढ़ मिनट में खोलकर ईसीएम, बैटरी और अन्य कीमती सामान चोरी करने का तरीका निखिल और सूर्या को सिखाया था। योजना के तहत सूर्या किराए के ऑटो से रात में दिल्ली-एनसीआर के विभिन्न थाना क्षेत्रों की गलियों में घरों के बाहर, सड़क और गली में खड़े वाहनों की रेकी करते थे। इस बीच मौका मिलते ही आसिफ सामान चोरी करता था, जबकि निखिल आने-जाने वाले लोगों पर नजर रखता था। चोरी के लिए पाइप रिंच और अन्य सामान उसी ने मुहैया कराए थे। चोरी के बाद गिरोह के लोग सामान को कबाड़ी अली हसन को बेच देते थे। अली हसन की सुल्तानपुरी दिल्ली में कबाड़ी की दुकान है। कौशांबी पुलिस ने पूछताछ के बाद गाजियाबाद के कौशांबी, साहिबाबाद, सिहानीगेट और अन्य क्षेत्रों में चोरी की घटनाओं का खुलासा किया है।

मास्टरमाइंड ने दिया चोरी का डेमो: थाना प्रभारी प्रभात कुमार दीक्षित का कहना है कि आसिफ पूर्व में भी जेल जा चुका है। उस पर दिल्ली गाजियाबाद में 18 मुकदमे दर्ज हैं। इसके अलावा निखिल पर सिहानी गेट, कौशांबी और साहिबाबाद में दस मुकदमे और सूर्या के खिलाफ भी सिहानी गेट, कौशांबी और साहिबाबाद थाने में दस मुकदमे दर्ज हैं। कौशांबी थाने पर सीओ स्वतंत्र कुमार सिंह की प्रेसवार्ता के बाद गिरोह के मास्टरमाइंड आसिफ ने वाहनों से बैटरी और ईसीएम चोरी करने का डेमो देकर दिखाया। इसके लिए उसे पुलिस ने एक गाड़ी दी। आसिफ ने गाड़ी के आगे वाले पहिये के नीचे हाथ डालकर कोई एक तार खींचा, जिससे बोनट बिना किसी सिस्टम से खुल गया। इसके बाद उसने अपने औजारों से महज एक मिनट में बैटरी खोलकर दिखाई। उसके इस कृत्य को देखकर पुलिस अधिकारी भी हैरान हो गए।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta