दिल्ली-एनसीआर

दिल्ली: सरकार ने निर्माण श्रमिकों के 15,971 बच्चों को 12.35 करोड़ की छात्रवृति प्रदान की

Admin Delhi 1
31 March 2022 7:09 AM GMT
दिल्ली: सरकार ने निर्माण श्रमिकों के 15,971 बच्चों को 12.35 करोड़ की छात्रवृति प्रदान की
x

दिल्ली: दिल्ली सरकार ने सरकारी स्कूलों में पढ़ रहे निर्माण श्रमिकों के 15,791 बच्चों को 12.35 करोड़ रूपए की छात्रवृति जारी की है। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि यह राशि निर्माण श्रमिकों के बच्चों के सपनों को उड़ान देगी और उनके भविष्य को बेहतर बनाने में मदद करेगी। उन्होंने कहा कि सरकार कभी भी पैसों की तंगी को बच्चों के सपनों को पूरा करने में बाधा नहीं बनने देगी।

इस योजना के तहत सरकार पहली से आठवीं तक के बच्चों को सालाना 6,000 रूपए, नौवीं व दसवीं के बच्चों को सालाना 8,400 रूपए और 11वीं व 12वीं के बच्चों को सालाना 12,000 रूपए की स्कॉलरशिप देती है। इस वित्तीय सहायता का उद्देश्य निर्माण श्रमिकों के बच्चों को मजबूती के साथ अपनी पढ़ाई जारी रखने का मौका देना है। इस योजना के तहत 15791 बच्चों को 12.35 करोड़ रूपए की छात्रवृति प्रदान की गई है। वहीं, छठी से आठवीं तक के 8062 बच्चों को 4.8 करोड़ रूपए, नौवीं व दसवीं में पढ़ने वाले 4,888 बच्चों को 4.1 करोड़ रूपए और 11वीं व 12वीं के 2841 बच्चों को 3.4 करोड़ रूपए की राशि वितरित की गई। नए सत्र में छात्रवृति के लिए 15 दिनों के भीतर आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। एसकेवी नेहरु विहार में पढ़ने वाली हायाल्वी ने बताया कि मेरा भाई स्कूल से वापस आते समय घायल हो गया और अब चलने में सक्षम नहीं है। माता-पिता की कमाई का सारा पैसा उसके इलाज में चला जाता है। हम कुछ भी नहीं बचा पा रहे हैं। इस स्कॉलरशिप से मुझे भविष्य में हायर एजुकेशन में मदद मिलेगी। सर्वोदय बाल विद्यालय बुराड़ी में 12वीं में पढ़ने वाले आदित्य कुमार ने कहा कि मेरा परिवार मेरी उच्च शिक्षा का खर्च वहन नहीं कर सकता। मैं इस पैसे को अभी के लिए बचाऊंगा और इसे आगे एमबीए करने में उपयोग करूंगा।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta