दिल्ली-एनसीआर

दिल्ली में बढ़ने लगा कोरोना संकट, एक हफ्ते में 400 से ज्यादा स्वास्थ्यकर्मी संक्रमित, जानें किस अस्पताल में हैं कितने पॉजिटिव

Renuka Sahu
5 Jan 2022 3:59 AM GMT
दिल्ली में बढ़ने लगा कोरोना संकट, एक हफ्ते में 400 से ज्यादा स्वास्थ्यकर्मी  संक्रमित, जानें किस अस्पताल में हैं कितने पॉजिटिव
x

फाइल फोटो 

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना के ओमिक्रॉन स्वरूप के मामले बढ़ने पर स्वास्थ्यकर्मी भी इसकी चपेट में आ रहे हैं।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना के ओमिक्रॉन स्वरूप के मामले बढ़ने पर स्वास्थ्यकर्मी भी इसकी चपेट में आ रहे हैं। दिल्ली के अलग अलग अस्पतालों काम करने वाले 400 से अधिक स्वास्थ्यकर्मी पिछले एक सप्ताह में कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। इनमें डॉक्टरों की संख्या अधिक है।

एम्स में काम करने वाले करीब 50 डॉक्टर और 53 स्वास्थ्यकर्मी कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। इनमें रेजिडेंट डॉक्टरों की संख्या अधिक है। मनोचिकित्सा, एनेस्थेसिया विभाग के एक दर्जन रेजिडेंट डॉक्टरों को कोरोना ने अपनी चपेट में लिया है। वहीं कई नर्सिंग कर्मचारी भी कोरोना संक्रमित होकर होम आइसोलेशन में हैं।
सफदरजंग में एक दिन में 26 डॉक्टर संक्रमित मिले
दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल के सूत्रों ने बताया कि मंगलवार को 26 डॉक्टरों को कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इनमें प्रसूति रोग विभाग की कई रेजिडेंट डॉक्टर भी कोरोना की चपेट में आई हैं। अभी तक अस्पताल में 49 डॉक्टर एक सप्ताह के अंदर कोरोना संक्रमित मिले हैं। इसके छह नर्सिंग कर्मचारियों को भी संक्रमण की पुष्टि हुई है।
आरएमएल में 65 स्वास्थ्यकर्मी संक्रमित
राम मनोहर लोहिया अस्पताल में पिछले एक सप्ताह में 65 स्वास्थ्य कर्मियों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। इनमें लगभग 30 रेजिडेंट डॉक्टर शामिल हैं। कोरोना संक्रमित आए एक डॉक्टर ने बताया कि उन्हें जांच कराई तो कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। उनके साथ संपर्क में आए छह अन्य डॉक्टर भी संक्रमित मिल चुके हैं।
लोकनायक अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर सुरेश कुमार ने बताया कि पिछले कुछ दिनों में उनके यहां दस डॉक्टर और तीन नर्स कर्मचारियों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। अंबेडकर अस्पताल में भी पांच रेजिडेंट और तीन इंटर्न डॉक्टरों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव मिली है। लेडी हार्डिंग अस्पताल में भी 30 से अधिक रेजिडेंट डॉक्टर पिछले एक सप्ताह में कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं।
एम्स ने नया प्रोटोकॉल बनाया
दिल्ली स्थित एम्स ने कोरोना संक्रमण की चपेट में आए स्वास्थ्यकर्मियों के लिए नया प्रोटोकॉल बनाया है। दरअसल, कोरोना की तीसरी लहर में स्वास्थ्य कर्मियों के संक्रमित होने से अस्पतालों में दिक्कत न आए इसलिए संक्रमित होने के बाद सात दिन के आइसोलेशन में रहने का नियम बनाया है। संक्रमित होने के छठे दिन स्वास्थ्यकर्मी रैपिड एंटीजन जांच कराएंगे और सातवें दिन आरटीपीसीआर जांच कराएंगे। अगर रिपोर्ट निगेटिव आयी तो वे काम पर लौट सकेंगे।
कहां कितने कोविड पॉजिटिव
एम्स: 50 डॉक्टर, 53 स्वास्थ्यकर्मी
सफदरजंग: 49 डॉक्टर, 6 नर्स
हिंदूराव: 12 डॉक्टर, तीन नर्स
अंबेडकर अस्पताल: 5 डॉक्टर , तीन इंटर्न, दो नर्स
लोकनायक: 10 डॉक्टर, तीन नर्स
आरएमएल: 65 स्वास्थ्यकर्मी जिनमें 30 डॉक्टर हैं
लेडी हार्डिंग: करीब 30 से अधिक डॉक्टर एक सप्ताह में संक्रमित मिले
जीटीबी: 25 स्वास्थ्यकर्मी
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta