दिल्ली-एनसीआर

दिल्ली के सरकारी स्कूलों में आज से शुरू होगी कक्षा छठी से नौवीं की दाखिला प्रक्रिया, त्रुटि होने पर नए सिरे से पंजीकरण

Renuka Sahu
11 April 2022 1:21 AM GMT
दिल्ली के सरकारी स्कूलों में आज से शुरू होगी कक्षा छठी से नौवीं की दाखिला प्रक्रिया, त्रुटि होने पर नए सिरे से पंजीकरण
x

फाइल फोटो 

सरकारी स्कूलों में कक्षा छठी से नौवीं तक के लिए दाखिला प्रक्रिया सोमवार से शुरू हो रही है।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। सरकारी स्कूलों में कक्षा छठी से नौवीं तक के लिए दाखिला प्रक्रिया सोमवार से शुरू हो रही है। दाखिला प्रक्रिया को तीन चरणों में विभाजित किया गया है। पहले चरण के लिए 11 अप्रैल से दो मई तक छात्रों का पंजीकरण किया जाएगा। दाखिले के लिए छात्र या अभिभावक शिक्षा विभाग की वेबसाइट पर पंजीकरण कर सकते हैं।

शिक्षा निदेशालय के मुताबिक, छठी से आठवीं कक्षा में दाखिले के लिए जिन बच्चों ने किसी मान्यता प्राप्त स्कूल से कक्षा उत्तीर्ण की हो, वे दाखिले के पात्र रहेंगे। वहीं, नौवीं कक्षा में दाखिले के लिए मान्यता प्राप्त स्कूल से आठवीं पास होना जरूरी है। छात्र या अभिभावक दाखिले के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए उन्हें अपने साथ पंजीकरण नंबर रखना होगा। साथ ही आवेदक को मोबाइल पर भी संदेश भेजा जाएगा।
पहले चरण के लिए पंजीकृत आवेदकों को क्लस्टर लेवल कमेटी की ओर से चार से 12 मई तक स्कूल आवंटित हो जाएगा। वहीं, छह से 12 मई तक जिला शिक्षा विभाग द्वारा जोन में रहने वाले उन आवेदकों को स्कूल आवंटित होगा , जिन्हें क्लस्टर कमेटी की ओर से सीटें नहीं मिल सकी हैं। अलग-अलग जोन में रहने वाले छात्रों को 9 से 17 मई तक स्कूल आवंटित होगा। वहीं, 20 मई को पहले चरण के लिए स्कूल आवंटन प्रदर्शित किया जाएगा। इसके बाद 21 से 31 मई तक आवंटित स्कूलों के लिए दस्तावेज का सत्यापन किया जाएगा।
आवेदन में त्रुटि होने पर नए सिरे से करना होगा पंजीकरण
शिक्षा निदेशालय के मुताबिक, पंजीकरण की आखिरी तिथि से पहले यदि किसी आवेदन के फॉर्म में कोई त्रुटि है तो आवेदक नए सिरे से पंजीकरण करा सकते हैं। हालांकि, इसके लिए उन्हें पुराना पंजीकरण फॉर्म नष्ट करना होगा, जिसके लिए पंजीकृत नंबर पर निदेशालय की ओर से एक ओटीपी भेजा जाएगा। फॉर्म को नष्ट करने के लिए वेबसाइट पर ही लिंक उपलब्ध रहेगा।
एक बार आवेदन जमा करने पर आवेदक का नाम नजदीकी स्कूल के क्लस्टर इचांर्ज के पास प्रदर्शित होगा। इसके बाद क्लस्टर इचांर्ज अन्य सदस्यों के साथ कमेटी की बैठक बुलाएगा। इसके लिए प्रत्येक सदस्य को बैठक बुलाने से दो दिन पहले जानकारी देनी होगी। स्कूल में सीटें खाली रहने पर कमेटी की ओर से निर्णय लेने के बाद छात्रों को स्कूल आवंटित होगा।
सीट आवंटित होने पर पहुंचना होगा स्कूल ः सीट आवंटित होने पर बच्चों को जरूरी दस्तावेज के साथ दाखिला प्रक्रिया पूरी करने के लिए स्कूलों में पहुंचना होगा। यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि ऑनलाइन दाखिला मिलने के बाद छात्रों का दाखिला तब ही सुनिश्चित किया जाएगा, जब वह स्कूलों में शारीरिक रूप से पहुंच अपनी उपस्थिति दर्ज कराएंगे।
सीट न मिलने वाले छात्रों की सूची जिला शिक्षा निदेशक के पास
प्रत्येक चरण के लिए जिन छात्रों को सीट नहीं मिली है, उनकी एक सूची तैयार कर जिला शिक्षा निदेशक के पास पंजीकरण बंद होने के दो कार्यदिवस पर पास पहुंचेगी। यदि आवेदक जोन की दायरे से बाहर है, लेकिन जिला के दायरे में है तो जिला शिक्षा निदेशक के साथ सलाह कर स्कूल आवंटित किया जाएगा। वहीं, यदि आवेदक जिला के दायरे से बाहर से है तो शिक्षा अधिकारी के साथ मशवरा कर आवेदक को उसके रिहायशी क्षेत्र में सीट आवंटित की जाएगी।
पंजीकरण व आवंटन की तारीख
पहले चरण का पंजीकरण : 11 अप्रैल से दो मई
दूसरे चरण का पंजीकरण : एक से 20 जून
तीसरे चरण का पंजीकरण : 16 जुलाई से तीन अगस्त
पहले चरण में स्कूल आवंटन : 11 अप्रैल से 12 मई
दूसरे चरण में स्कूल आवंटन : 24 से 28 जून
तीसरे चरण में स्कूल आवंटन : 8 से 16 अगस्त
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta