दिल्ली-एनसीआर

देश में फिर तेजी से फैलने लगा कोरोना, स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों को किया अलर्ट

abhishek gahlot
30 Dec 2021 11:42 AM GMT
देश में फिर तेजी से फैलने लगा कोरोना, स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों को किया अलर्ट
x

नई दिल्लीः देश में एक बार फिर कोरोना संकट (Corona Crisis) गहराने लगा है. रोजाना आने वाले कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Union Health Ministry) ने भी माना है बीते तीन-चार दिन में महामारी से जुड़ी स्थिति बदली है.

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक बीते तीन-चार दिन में कोरोना संक्रमण की रफ्तार में तेजी आई है. गंभीर होती स्थिति को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों को अलर्ट किया है.

मिशन मोड पर काम करने की जरूरत

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने गुरुवार को भारत में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इसमें उन्होंने कहा राज्यों को मिशन मोड पर काम करने की जरूरत है. कोरोना संबंधित सभी बचाव के आयामों को दुरुस्त करने की जरूत है.

पूरी दुनिया में बढ़ रहे मामले

उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के मामले में बढ़ोतरी हुई है. पूरी दुनिया में कोरोना संक्रमण के 2 करोड़ 68 लाख केस हैं. देश में रोजाना 8 हजार केस सामने आ रहे हैं. सात राज्यों के 22 जिलों में सबसे ज्यादा केस हैं.

गहराया तीसरी लहर का संकट

देशभर में पिछले 24 घंटे में 13154 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद कोविड-19 की तीसरी लहर (Covid-19 3rd Wave) का खतरा भी बढ़ने लगा है. इस बीच दिल्ली, मुंबई और बिहार ने ये बात मान ली है कि कोरोना की तीसरी लहर दस्तक दे दी है.

ओमिक्रॉन का कम्युनिटी ट्रांसमिशन

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने गुरुवार को कहा कि कोरोना वायरस के नए स्वरूप 'ओमिक्रॉन' के मामले धीरे-धीरे सामुदायिक स्तर (Omicron Community Transmission) पर फैल रहे हैं और राष्ट्रीय राजधानी में जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजे गए नमूनों में से 46 प्रतिशत में 'ओमिक्रॉन' की पुष्टि हुई है.

यात्रा नहीं करने वाले भी ओमिक्रॉन से संक्रमित

सत्येंद्र जैन ने कहा, 'दिल्ली के अस्पतालों में कोविड-19 के 200 मरीज भर्ती हैं. जीनोम सीक्वेंसिंग की हालिया रिपोर्ट में 46 प्रतिशत नमूनों में 'ओमिक्रॉन' की पुष्टि हुई है. इनमें वे लोग भी शामिल हैं, जिन्होंने हाल ही में यात्रा नहीं की थी. इसका मतलब है कि अब ओमिक्रॉन वेरिएंट दिल्ली के अंदर आ चुका है. इसका मतलब है कि यह धीरे-धीरे सामुदायिक स्तर पर फैल रहा है.

मुंबई में भी खराब हो रहे हालात

दिल्ली के साथ ही मुंबई में भी कोरोना के मामले तेजी से बढ़े हैं. महाराष्ट्र कोविड टास्क फोर्स के सदस्य डॉ. शशांक जोशी ने कहा है कि मुंबई में तीसरी लहर शुरू हो गई है. उन्होंने कहा कि जो नए केस मिल रहे हैं, उनमें हल्के लक्षण हैं. संख्या बड़ी है, लेकिन इससे हम निपट सकते हैं.

कोरोना के 80% नए केस में ओमिक्रॉन

मुंबई में बुधवार को कोरोना वायरस के 2510 नए मामले सामने आए थे और पॉजिटिविटी रेट 4 फीसदी के करीब पहुंच गया है. मुंबई में 8 मई के बाद इतने ज्यादा केस आए हैं. इससे एक दिन पहले मंगलवार को 1377 केस दर्ज किए गए थे. डॉ. शशांक जोशी ने बताया कि नए मामलों के बढ़ने का कारण ओमिक्रॉन है और जीनोम सीक्वेंसिंग में 80 फीसदी नए केस में ओमिक्रॉन की पुष्टि हो रही है.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta