CG-DPR

नए सत्र से संभाग को मिलेंगी 129 नयी सड़कें

jantaserishta.com
5 April 2022 3:25 AM GMT
नए सत्र से संभाग को मिलेंगी 129 नयी सड़कें
x

DEMO PIC

बिलासपुर: संभागायुक्त डॉ. संजय अलंग ने सड़कों के निर्माण तथा रख-रखाव की प्रगति के संबंध में लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में डॉ. अलंग ने सड़कों के निर्माण तथा रख-रखाव की स्थिति के संबंध में जानकारी ली। डॉ. अलंग ने संभाग के सभी जिलों में बारिश से पहले सड़कों का मरम्मत कार्य पूरा करने के निर्देश पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों को दिए। लोक निर्माण विभाग के मुख्य अभियंता श्री पी.एन. साय ने बताया कि वर्ष 2022-23 के बजट में संभाग के विभिन्न जिलों के लिए लगभग 600 किलोमीटर लंबाई की 129 नई सड़कों को इस सत्र के बजट में शामिल किया गया है।

डॉ. अलंग ने सड़कों के रख-रखाव के लिए मरम्मत कार्य के संबंध में भी जानकारी ली। मुख्य अभियंता श्री साय ने बताया कि संभाग के विभिन्न जिलों में 4 हजार किलोमीटर से अधिक लंबाई के सड़कों का मरम्मत किया जा चुका है और अन्य सड़कों के मरम्मत का कार्य चल रहा है।
संभागायुक्त डॉ. अलंग ने मुख्यमंत्री सुगम सड़क योजना के अंतर्गत स्वीकृत कार्याे की प्रगति की समीक्षा की। मुख्य अभियंता श्री साय ने बताया कि सुगम सड़क योजना के अंतर्गत संभाग के विभिन्न जिलों में 813 सड़कें स्वीकृत की गई थी। जिसमें से 319 सड़कों का निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया गया है। शेष सड़कों का निर्माण कार्य भी तेजी से चल रहा है। डॉ. अलंग ने धरसा योजना के अंतर्गत प्रस्तावित कार्यों की भी जानकारी ली। मुख्य अभियंता श्री साय ने बताया कि धरसा योजना के अंतर्गत बिलासपुर, मुंगेली, जांजगीर-चांपा, कोरबा, पेण्ड्रा तथा रायगढ़ में 45 सड़कें प्रस्तावित की गई है। श्री साय ने बताया कि धरसा योजना के अंतर्गत गांव के खेत-खलिहान तक पहुँचने के लिए धरसा के कच्चे रास्तों को पक्का किया जा रहा है। डॉ. अलंग ने धरसा विकास योजना अंतर्गत प्रस्तावित सड़कों के निर्माण में प्रगति लाने के निर्देश लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को दिए। डॉ. अलंग ने कहा कि सड़कें ग्रामीण भारत के विकास का आधार हैं। अतः कार्य योजना बनाकर समय-सीमा में इनका निर्माण कार्य एवं रख-रखाव सुनिश्चित किया जाना चाहिए। डॉ अलंग ने कहा कि सड़कें और भवन निर्माण में सुगम्य भारत योजना की मार्गदर्शी सिद्धांतों का पालन किया जाना चाहिये। इन सरकारी भवनों में न केवल सामान्य जन बल्कि बच्चे, वृद्ध तथा नेत्रहीन लोगों के सुगम आने-जाने की सुविधाओं को भी शामिल किया जाना चाहिये।
बैठक में उपायुक्त श्रीमती अर्चना मिश्रा, श्री अखिलेश साहू, लोक निर्माण विभाग के मुख्य अभियंता श्री पी.एन.साय, अधीक्षण अभियंता श्री के.पी.संत सहित संभाग के सभी जिलों के कार्यपालन अभियंता एवं अधिकारी मौजूद रहे।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta