CG-DPR

सुनहरे भविष्य की ओर बढ़ते कदम-स्वामी आत्मानंद शासकीय अंग्रेजी माध्यम स्कूल

jantaserishta.com
21 April 2022 8:07 AM GMT
सुनहरे भविष्य की ओर बढ़ते कदम-स्वामी आत्मानंद शासकीय अंग्रेजी माध्यम स्कूल
x

रायगढ़: वास्तविक शिक्षा मानवीय गरिमा और व्यक्ति के स्वाभिमान में वृद्धि करती है। उत्कृष्ट शिक्षा के द्वारा ही बच्चों में जन्मजात शक्तियों का विकास उनके ज्ञान एवं कला कौशल में वृद्धि एवं व्यवहार में परिवर्तन कर उन्हें सभ्य सुसंस्कृत एवं योग्य नागरिक बनाया जा सकता है। शिक्षा हर समाज व देश की प्रगति का प्रतिबिंब होती है। कलेक्टर श्री भीम सिंह के कुशल निर्देशन और मार्गदर्शन में उत्कृष्ट शिक्षा का संकल्प लिए वर्तमान में रायगढ़ जिले के सभी 9 विकास खंडों में संचालित स्वामी आत्मानंद शासकीय अंग्रेजी उत्कृष्ट माध्यम स्कूल में विभिन्न कक्षाओं में प्रवेश हेतु पालकों व बच्चों का रुझान अनवरत बढ़ता ही जा रहा है, जिसकी बानगी यह है कि जिले के सभी 9 विकास खंडों में संचालित स्वामी आत्मानंद शासकीय अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों में प्रवेश हेतु अब तक लगभग 6759 आवेदन आ चुके हैं। प्रदेश में स्वामी आत्मानंद शासकीय अंग्रेजी माध्यम स्कूल योजना का शुभारंभ 1 नवंबर 2020 को राज्य उत्सव पर प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया, जिसका उद्देश्य बच्चों को अंग्रेजी माध्यम में बेहतर शिक्षा दिलाने का प्रयास है। स्कूल शिक्षा विभाग छत्तीसगढ़ शासन के एक अभिनव प्रयास के तहत प्रदेश में 1 नवंबर 2020 को स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट शासकीय अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों का शुभारंभ हुआ और इसी कड़ी में छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले के विकासखंड रायगढ़ में सत्र 2020-21 में तथा जिले के अन्य 08 विकास खंडों में सत्र 2021-22 में इसका शुभारंभ हुआ। विदित हो कि स्वामी आत्मानंद शासकीय अंग्रेजी उत्कृष्ट माध्यमिक विद्यालय की तर्ज पर ही सत्र 2022-23 हेतु स्वामी आत्मानंद शासकीय हिन्दी उत्कृष्ट माध्यमिक विद्यालय प्रारंभ करने की घोषणा की गई है।

कलेक्टर श्री भीम सिंह ने कहा कि सेजस सरकार की अभिनव पहल है। उत्कृष्ट शैक्षणिक वातावरण व आदर्श सुविधाओं में अध्ययन-अध्यापन से बच्चों का सर्वांगीण विकास एवं भविष्य उज्जवल होगा। सही मायनों में अच्छा रिजल्ट स्कूल को बेहतर बनाता है, इसलिए जिले के सभी उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों में उत्कृष्ट अध्ययन-अध्यापन के साथ बेहतर संचालन और व्यवस्था बनाए रखना बेहद जरूरी है।
जिला शिक्षा अधिकारी ने श्री आर.पी.आदित्य ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा प्रारंभ किए गए इस महत्वपूर्ण कदम से समाज का हर वर्ग पूर्ण समानता के साथ अपने और बच्चों के सपनों को साकार करेगा। जिले के स्वामी आत्मानंद शासकीय उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों में गुणवत्तापूर्ण शैक्षणिक वातावरण, उपलब्ध आदर्श शैक्षणिक सुविधाओं एवं उत्कृष्ट अध्ययन-अध्यापन द्वारा बच्चों का भविष्य स्वर्णिम होगा।
गरीब परिवारों के बच्चों के सपनों को मिल रहे नए पंख-नयी उड़ान
रायगढ़ जिले के ऐसे पालक जो कमजोर आर्थिक स्थिति के वजह से अपने बच्चों को महंगे अंग्रेजी निजी स्कूल में शिक्षा दिलाने में समर्थ नहीं थे, रायगढ़ जिले के सभी 09 विकास खंडों में संचालित इन उत्कृष्ट शासकीय अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों ने गरीब परिवारों के प्रतिभाशाली बच्चों की बेहतर शिक्षा के लिए एक सुनहरा अवसर दिया है। जहां बच्चों को मुफ्त में राष्ट्रीय स्तर की शिक्षा अंग्रेजी माध्यम में दिए जाने एवं छात्रों की प्रतिभा को निखारने और उन्हें राष्ट्रीय स्तर की सभी प्रकार की प्रतियोगिताओं के काबिल बनाने के उद्देश्य से अंग्रेजी माध्यम में अध्ययन-अध्यापन को बढ़ावा देने की कोशिश की जा रही है। जिले के सभी 09 विकास खंडों में संचालित इन उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों में अध्ययन-अध्यापन की सुविधा का विशेष ध्यान रखा जा रहा है। उल्लेखनीय है कि जिले के इन विद्यालयों में अत्याधुनिक लाइब्रेरी, कंप्यूटर और साइंस लैब, स्मार्ट क्लासेज के साथ ही ऑनलाइन शिक्षा की भी पूरी सुविधा उपलब्ध हो रही है। वर्तमान में रायगढ़ जिले में कक्षा पहली से बारहवीं तक अंग्रेजी माध्यम की कक्षाएं संचालित हो रही है और पालकों एवं बच्चों का रुझान लगातार इन विद्यालय में प्रवेश पाने के लिए अनवरत बढ़ता ही जा रहा है। इन सबमें खास बात यह है कि इनमें अधिकांश विद्यार्थी ऐसे हैं जिन्होंने अन्य किसी निजी विद्यालय को छोड़कर स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों में प्रवेश लिया है
जिले में स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट शासकीय अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों में प्रवेश हेतु पालकों एवं बच्चों के बढ़ते रुझान की खास वजह यह भी है कि इन विद्यालयों में बेहतरीन शैक्षणिक वातावरण आदर्श सुविधाएं योग्य एवं प्रशिक्षित शिक्षक हैं, जहां प्रतिदिन व्यवस्थित समय सारणी अनुसार अध्ययन-अध्यापन किया जाता है। बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए उत्कृष्ट शैक्षणिक वातावरण में खेल एवं अन्य पाठ्य सहगामी व कलात्मक गतिविधियों से बच्चों में उनकी रचनात्मकता को नया आयाम देने हेतु सुविधा युक्त व्यवस्थाएं की जा रही हैं। गुणवत्ता युक्त अध्यापन और स्कूल प्रबंधन को अनुशासित स्वरूप देने उत्कृष्ट शिक्षकों का चयन कर प्रतिनियुक्ति व संविदा नियुक्ति के माध्यम से प्राचार्य एवं माध्यमिक शाला प्रधान अध्यापक व अन्य शिक्षकों का चयन किया गया है। संस्था के विद्यार्थियों के द्वारा विकासखंड, जिला व राज्य स्तर पर होने वाली प्रतियोगिताओं में अपनी प्रतिभा को साबित करते हुए शाला को गौरवान्वित भी कर रहें हैं।
जिले के सेजस में प्रवेश हेतु सीट, अंतिम तिथि व आवेदनों के अब तक के आंकड़े
जिले के विभिन्न विकास खंडों में संचालित स्वामी आत्मानंद शासकीय अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों की विभिन्न कक्षाओं में प्रवेश हेतु अंतिम तिथि 30 अप्रैल 2022 एवं कुल सीटों की संख्या 6120 है। विदित हो कि 19 अप्रैल 2022 तक की स्थिति में विकासखंड सारंगढ़ में 101, बरमकेला में 836, धरमजयगढ़ में 384, खरसिया में 1014, पुसौर में 838, लैलूंगा में 249, तमनार में 543, घरघोड़ा में 646 और रायगढ़ में 2148 सहित अब तक कुल 6759 आवेदन प्राप्त हुए हैं


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta