व्यापार

Air India के लिए टाटा ग्रुप ने लगाई बोली, है भारी भरकम कर्ज, पहले था Tata Air Service

Rounak
15 Sep 2021 12:52 PM GMT
Air India के लिए टाटा ग्रुप ने लगाई बोली, है भारी भरकम कर्ज, पहले था Tata Air Service
x

फाइल फोटो 

नई दिल्ली: Air India के लिए सरकार ने फाइनेंशियल बिड्स मंगवाई थीं. सरकार इसी वित्त वर्ष में इस सरकारी एयरलाइंस का प्राइवेटाइजेशन करने का लक्ष्य लेकर चल रही है. ये सरकार के विनिवेश कार्यक्रम का हिस्सा भी है.

Air India की खरीद में कई कंपनियों ने रुचि दिखाई है. इसमें Tata Group का नाम सबसे आगे है. Air India की शुरुआत 1932 में टाटा ग्रुप ने ही की थी. टाटा समूह के जे. आर. डी. टाटा (JRD Tata) ने इसके फाउंडर थे. वे खुद भी एक बेहद कुशल पायलट थे. तब इसका नाम Tata Air Service रखा गया था.
अब जब Air India वापस से प्राइवेट होने जा रही है और Tata Group ने इसकी खरीद के लिए फाइनेंशियल बिड जमा की है, तो देखना होगा कि क्या Air India फिर से टाटा समूह की कंपनी बनती है?
Tata Air Service ने 1938 तक अपनी घरेलू उड़ानें शुरू कर दी थीं. लेकिन द्वितीय विश्व युद्ध के बाद भारत से सामान्य हवाई सेवा की शुरुआत हुई और तब Air India को सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी बना दिया गया. वर्ष 1947 में देश की आज़ादी के बाद एक राष्ट्रीय एयरलाइंस की जरूरत महसूस हुई और भारत सरकार ने Air India में 49% हिस्सेदारी अधिग्रहण कर ली.
इसके बाद 1953 में भारत सरकार ने एयर कॉरपोरेशन एक्ट पास किया और Tata Group से इस कंपनी में बहुलांश हिस्सेदारी खरीद ली. इस तरह Air India पूरी तरह से एक सरकारी कंपनी बन गई.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it