व्यापार

आम आदमी को मिली राहत, थोक महंगाई दर में आई गिरावट, दिसंबर के मुकाबले रही इतनी

jantaserishta.com
14 Feb 2022 8:34 AM GMT
आम आदमी को मिली राहत, थोक महंगाई दर में आई गिरावट, दिसंबर के मुकाबले रही इतनी
x

नई दिल्ली: थोक कीमतों पर आधारित महंगाई दर (WPI) जनवरी में मासिक आधार पर नरमी के साथ 12.96 फीसदी पर आ गई. इस प्रकार जनवरी में WPI में नवंबर के 14.87 फीसदी और दिसंबर के 13.56 फीसदी के मुकाबले लगातार तीसरे महीने गिरावट देखने को मिली.

मासिक आधार पर गिरावट के बावजूद जनवरी में होलसेल कीमतों पर आधारित महंगाई दर काफी ऊंची रही. इसकी वजह मुख्य रूप से मिनरल ऑयल, क्रूड पेट्रोलियम और नेचुरल गैस, बेसिक मेटल, केमिकल्स और केमिकल प्रोडक्ट्स की कीमतों में तेजी है. मिनिस्ट्री ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री ने ये आंकड़े जारी किए हैं.
ईंधन और बिजली की महंगाई बढ़ी
दिसंबर के मुकाबले जनवरी में ईंधन और Power की महंगाई दर 3.90 फीसद बढ़कर 133.2 हो गई. बिजली की महंगाई दिसंबर की तुलना में जनवरी में 15.94 फीसदी बढ़ गई जबकि मिनरल ऑयल के मामले में यह 0.83 फीसदी रही. कोयले के दाम में किसी तरह का बदलाव देखने को नहीं मिला.
मैन्युफैक्चर्ड प्रोडक्ट्स भी हुए महंगे
दिसंबर के मुकाबले जनवरी में मैन्युफैक्चर्ड प्रोडक्ट्स की महंगाई दर 0.51 फीसदी की तेजी के साथ 137.1 हो गई. बेसिक मेटल, मोटर व्हीकल्स, ट्रेलर्स और सेमी-ट्रेलर्स, मशीनरी एवं इक्विपमेंट, टेक्सटाइल्स और केमिकल्स एवं केमिकल प्रोडक्ट्स के दाम में तेजी देखने को मिली. वहीं, मैन्युफैक्चर ऑफ वुड और वुड के प्रोडक्ट्स एवं कॉर्क, तंबाकू उत्पाद और फार्माश्यूटिकल, मेडिसिनल केमिकल और बोटैनिकल प्रोडक्ट्स की महंगाई दर में कमी देखी गई.
मिनिस्ट्री ने कही ये बात
मिनिस्ट्री की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि जनवरी, 2022 में फूड इंडेक्स घटकर 166.3 पर आ गया है. इसमें प्राइमरी आर्टिकल ग्रुप से फूड आर्टिकल एवं मैन्युफैक्चर्ड ग्रुप से फूड प्रोडक्ट शामिल होते हैं. थोक महंगाई के संदर्भ में दिसंबर में फूड इंडेक्स 169 पर रहा था.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta