व्यापार

पीयूष गोयल ने कहा कि प्रस्तावित ई-कामर्स नीति में सभी के हितों का ध्यान रखा जाएगा, सलाह के बाद तैयार की जाएगी एक संतुलित नीति

Tulsi Rao
4 Oct 2021 3:22 AM GMT
पीयूष गोयल ने कहा कि प्रस्तावित ई-कामर्स नीति में सभी के हितों का ध्यान रखा जाएगा, सलाह के बाद तैयार की जाएगी एक संतुलित नीति
x
केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने रविवार को कहा कि प्रस्तावित ई-कामर्स नीति में सभी के हितों का ध्यान रखा जाएगा। उन्होंने मसौदे पर मिल रहे फीडबैक का स्वागत किया

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने रविवार को कहा कि प्रस्तावित ई-कामर्स नीति में सभी के हितों का ध्यान रखा जाएगा। उन्होंने मसौदे पर मिल रहे फीडबैक का स्वागत किया, लेकिन प्रस्तावित नियमों को लेकर मंत्रालयों के बीच मतभेद की खबरों को अनुचित बताया।

बता दें कि उनकी टिप्पणी उन खबरों के बाद सामने आई है, जिसमें कहा गया था कि आंतरिक उद्योग और व्यापार संवर्धन विभाग (डीपीआइआइटी), कारपोरेट मामलों के मंत्रालय और नीति आयोग ने नियमों के मसौदे के कुछ प्रावधानों पर आपत्ति जताई है।
सूचना के अधिकार के तहत मिले जवाब का हवाला देते हुए रिपोर्ट में दावा किया गया था कि नीति आयोग ने आशंका व्यक्त की है कि मसौदे में कुछ ऐसे नियमों को शामिल किया गया है, जिससे विदेशी कंपनियों का देश में व्यवसाय करना मुश्किल हो सकता है। गोयल ने कहा कि मसौदा नियमों को जारी करने का उद्देश्य जनता की राय, दूसरे विभागों के विचार और उनकी प्रतिक्रिया जानना था।
सरकार हमेशा किसी भी नीति पर अंतिम निर्णय लेने से पहले सभी हितधारकों से जुड़ने में विश्वास करती है। इस संदर्भ में उन्होंने डाटा प्राइवेसी नियम, राष्ट्रीय शिक्षा नीति और आभूषण हालमार्किंग का उदाहरण भी दिया, जिन्हें सभी से परामर्श के बाद तैयार किया गया था।
उन्होंने कहा कि सभी हितधारकों से सलाह के बाद एक संतुलित नीति तैयार की जाएगी। जब उनसे यह पूछा गया कि क्या सभी नीतियों को एकसाथ जोड़ने के लिए कोई कदम उठाया गया है तो उन्होंने कहा कि प्रत्येक विभाग को अपने हितधारकों की रक्षा करनी होगी।




Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta