व्यापार

महाराष्ट्र सरकार ने ओलावृष्टि एवं बेमौसम बारिश से हुये फसलों को नुकसान पर मुआवजा देने का किया ऐलान

Admin4
6 Oct 2021 3:33 PM GMT
महाराष्ट्र सरकार ने ओलावृष्टि एवं बेमौसम बारिश से हुये फसलों को नुकसान पर मुआवजा देने का किया ऐलान
x
महाराष्ट्र सरकार ने ओलावृष्टि एवं बेमौसम बारिश से फसलों को हुए नुकसान के लिए मुआवजे का ऐलान कर दिया है।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क :- महाराष्ट्र सरकार ने ओलावृष्टि एवं बेमौसम बारिश से फसलों को हुए नुकसान के लिए मुआवजे का ऐलान कर दिया है. सरकार ने कोंकण, पुणे, नासिक, औरंगाबाद, अमरावती और नागपुर जिलों के इस रकम का एलान किया है. मार्च, अप्रैल और मई 2021 के दौरान फसलों को काफी नुकसान पहुंचा था. ओलावृष्टि और बेमौसम बारिश से हुए नुकसान के लिए सहायता प्रदान करने का शासनादेश जारी किया गया है. राहत एवं पुनर्वास मंत्री विजय वडेट्टीवार की पहल पर फसल क्षति से प्रभावित किसानों को सहायता राशि वितरित करने के लिए 122.26 करोड़ रुपये की राशि स्वीकृत की गई है. यह सहायता उन किसानों को दी जाएगी जिनकी फसलों को 33 फीसदी या इससे अधिक नुकसान हुआ है. संभागीय आयुक्तों के माध्यम से जिलों को कुल 122 करोड़ 26 लाख 30 हजार धनराशि वितरित करने के लिए केंद्रीय आपदा मोचन कोष एवं राज्य आपदा मोचन कोष की स्वीकृति प्रदान की गई है.ये मुआवजा उसका नहीं है जो बाढ़ और बारिश हाल में हुई है. मौजूदा बाढ़ और बारिश से मराठवाड़ा में काफी नुकसान हुआ है. इससे सोयाबीन और कपास सहित कई फसलें तबाह हो गईं हैं. राज्य सरकार ने माना है कि 22 लाख हेक्टेयर में फसलों को काफी नुकसान हुआ है.

किस जिले के लिए कितनी रकम
कोंकण मंडल के लिए 29 लाख 30 हजार, पुणे मंडल के लिए 3 करोड़ 16 लाख 75 हजार, नासिक मंडल के लिए 59 करोड़ 36 लाख 34 हजार, औरंगाबाद मंडल के लिए 15 करोड़ 51 लाख 54 हजार और औरंगाबाद मंडल के लिए 15 करोड़ 51 लाख 54 हजार रुपये अमरावती मंडल नागपुर मंडल के लिए 38 करोड़ 87 लाख 56 हजार रुपये, 5 करोड़ 4 लाख 81 हजार रुपये स्वीकृत किए गए हैं.
इन जिलों में हुआ था नुकसान
ओलावृष्टि और बेमौसम बारिश ने कोंकण, पुणे, नासिक, औरंगाबाद, अमरावती और नागपुर जिलों में फसलों और बगीचों को भारी नुकसान पहुंचाया था. विकट स्थिति का पता चलने पर, राहत और पुनर्वास और आपदा प्रबंधन मंत्री विजय वडेट्टीवार ने क्षेत्र का निरीक्षण किया, नागरिकों के साथ सीधे बातचीत करने के लिए सभी नियोजित यात्राओं को रद्द कर दिया और तुरंत प्रभावित जिलों का दौरा किया.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta