व्यापार

बचाना चाहते हैं अपने फोन की Battery तो जरूर करें ये काम

Chandravati Verma
3 May 2021 4:59 PM GMT
बचाना चाहते हैं अपने फोन की Battery तो जरूर करें ये काम
x
ब्राइटनेस को कम कर काफी बैटरी बचा सकते हैं

ब्राइटनेस को कम करें

दिनभर में फोन का कई घंटों तक चलते रहना निश्चित तौर पर बैटरी को खत्म करने के लिए काफी है. बता दें कि स्क्रीन ऑन टाइम जितना ज्यादा होगा, बैटरी की खपता भी उतनी ही ज्यादा होगी. यहां आप ब्राइटनेस को कम कर काफी बैटरी बचा सकते हैं.
यदि आप ज्यादातर समय अपना फोन वाइब्रेट मोड पर रखते हैं तो ऐसे करने से बचना चाहिए. वाइब्रेशन मोटर भी बैटरी का इस्तेमाल करती है. मैसेज या कॉलिंग के समय तो इसका इस्तेमाल होता ही है, लेकिन आप जब भी टाइपिंग करते हैं, तो कई कीबोर्ड हैप्टिक फीडबैक देते हैं, जिस वजह से बैटरी खपत बढ़ने लगती है. फोन में वाइब्रेट मोड की जरूरत ना हो तो इस फीचर को ऑफ कर दें.
नोटिफिकेशन सेटिंग्स
हमारे स्मार्टफोन में ऐप्स का भंडार होता है और ये ऐप्स समय-समय पर हमें नोटिफिकेशन्स देते रहते हैं. इनमें से कई नोटिफिकेशन्स बेतुके होते हैं. कोशिश करें कि इन ऐप्स के नोटिफिकेशन्स को आप बंद कर दें. इसके लिए आपको Settings में App & notifications के अंदर Notifications पर जाना होगा और आप अपने इच्छा अनुसार, ऐप्स के नोटिफिकेशन्स को बंद कर सकते हैं.
लोकेशन, ब्लूटूथ और वाईफाई को बंद रखें
आज के समय में हमारे फोन में घंटों तक वाई-फाई कनेक्टेड रहता है. वायरलेस ईयरफोन और स्मार्टवॉच या स्मार्ट बैंड ने ब्लूटूथ का इस्तेमाल बढ़ा दिया है. कई ऐप्स लगातार GPS का एक्सेस लेते हैं, जिसकी वजह से आपके फोन पर लोकेशन सर्विस भी लगातार ऑन रहती है. ऐसे में कोशिश करें कि जरूरत पड़ने पर ही लोकेशन सर्विस, वाई-फाई और ब्लूटूथ का इस्तेमाल करें, अन्यथा इन्हें बंद रखें.
बैटरी सेविंग मोड या अडेप्टिव बैटरी मोड
गूगल अपने एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम में बैटरी बचाने के लिए बैटरी सेविंग मोड या अडेप्टिव बैटरी मोड फीचर देता है. कई स्मार्टफोन कंपनियां Android पर आधारित अपनी कस्टम स्किन में इस फीचर को अपने हिसाब से ट्वीक भी कर देती है. यह फीचर आपको बैटरी बचाने में बहुत मदद कर सकता है.



Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta