व्यापार

क्या केंद्र सरकार ने चीन के सेब पर लगने वाली इंपोर्ट ड्यूटी को हटा दिए है? जानिए पूरा मामला

Renuka Sahu
30 Sep 2021 1:17 AM GMT
क्या केंद्र सरकार ने चीन के सेब  पर लगने वाली इंपोर्ट ड्यूटी को हटा दिए है? जानिए पूरा मामला
x

फाइल फोटो 

भारत में सस्ता चीनी सेब आने की अफवाहों को खारिज करते हुए, वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार को कहा कि सरकार ने कोई शुल्क कम नहीं किया है

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। भारत में सस्ता चीनी सेब आने की अफवाहों को खारिज करते हुए, वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार को कहा कि सरकार ने कोई शुल्क कम नहीं किया है और सभी आयात विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) की शर्तों के अनुरूप होते हैं.उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में पड़ोसी देश से सस्ते सेब आने पर एक सवाल का जवाब देते हुए कहा, ''कुछ लोग झूठ फैला रहे हैं कि सरकार ने चीन से आने वाले सेबों पर शुल्क कम कर दिया है यह आधारहीन अफवाह है. सरकार ने ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया है.

भारत में सबसे ज्यादा सेब जम्मू कश्मीर में होता है जो देश मे सेब के कुल उत्पादन का 70% है. दूसरे नंबर पर हिमाचल प्रदेश है यहां देश के कुल उत्पादन का 21% है. अब बिहार में सेब की खेती शुरू हो गई है.
जानिए क्या है मामला
उन्होंने कहा कि सभी आयात विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) द्वारा निर्धारित मानदंडों के तहत होते हैं. उन्होंने कहा, ''मुझसे पहले भी यह सवाल पूछा गया था… ऐसा कोई फैसला नहीं लिया गया है. मुझे लगता है कि कुछ लोगों का काम केवल आधारहीन अफवाहें फैलाना होता है, जिनका कोई मतलब नहीं होता.''
एक अन्य सवाल पर कि क्या चीन में बिजली संकट भारतीय निर्यातकों के लिए एक अवसर है, मंत्री ने कहा कि घरेलू कंपनियों के लिए बहुत सारे अवसर हैं. उन्होंने कहा, ''आज देश उन अवसरों का लाभ उठाने को तैयार है. हम उद्यमियों, उद्योग और कारोबारियों का देश हैं. हम एमएसएमई का देश हैं जो दुनिया के बाकी हिस्सों से आत्मविश्वास से निपटने के लिए सशक्त हैं.''
मंत्री ने यह भी बताया कि चालू वित्त वर्ष में भारत का निर्यात 21 सितंबर तक 185 अरब डॉलर का रहा, और वर्ष 2021-22 की पहली छमाही के अंत तक यह निर्यात 195 अरब डॉलर को छू सकता है.वर्ष 2020-21 के दौरान भारत का निर्यात 290 अरब डॉलर का रहा था.
बिहार में सेबी की खेती
बेगूसराय में एक किसान ने यह पहल शुरू की है जिनकी पढ़ाई-लिखाई बीएससी (एग्रीकल्चर) तक हुई है. इनके खेतों में अभी पौधे नए हैं और महज साल भर के हैं. ये पौधे एक बरस बाद फल भी देने लगेंगे. सेब की खेती ठंडे प्रदेशों में होती है लेकिन बिहार में इसे 40-45 डिग्री के तापमान पर उगाया जा रहा है.
ऐसे में यह पौधे कैसे तैयार होगा? इसके बारे में किसान अमित कुमार बताते हैं कि ऊंचे तापमान के लिए एक खास किस्म तैयार की गई है जिसका नाम है हरमन-99. यह वेरायटी ऐसे स्थान के लिए ही तैयार की गई है जो गर्म हैं और जहां तापमान ज्यादा है. हरमन-99 राजस्थान में भी उगाया जा रहा है और खेती सफल हो रही है. इस लिहाज से बिहार में भी इसकी खेती की जा सकती है.
सवाल ये भी है कि हिमाचल और कश्मीर में जिस तरह की मिट्टी है, वैसी बिहार में नहीं है. ऐसे में बेगूसराय में सेब की खेती कैसे हो सकती है? इसके जवाब में अमित कुमार ने कहा कि हरमन-99 वेरायटी किसी भी तरह की मिट्टी में उगाया जा सकता है. चाहे वह पथरीली मिट्टी हो या दोमट या लाल. इस हिसाब से बेगूसराय में भी इसकी उपयुक्त खेती की जा सकती है. इस फसल के लिए सबसे जरूरी बात जलवायु है जिसे देखते हुए हरमन-99 तैयार किया गया है.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta