Top
व्यापार

आज से फिर पटरी पर देश की पहली प्राइवेट ट्रेन, बिल्कुल नया होगा ट्रैवल का अंदाज, जानिए यह नए नियम

Neha
17 Oct 2020 4:33 AM GMT
आज से फिर पटरी पर देश की पहली प्राइवेट ट्रेन, बिल्कुल नया होगा ट्रैवल का अंदाज, जानिए यह नए नियम
x
देश की पहली प्राइवेट ट्रेन, लखनऊ-नई दिल्ली (82501/82502) और अहमदाबाद-मुंबई (82902/82901) तेजस एक्सप्रेस आज से अपनी सेवाएं शुरू कर रही हैं. बी

देश की पहली प्राइवेट ट्रेन, लखनऊ-नई दिल्ली (82501/82502) और अहमदाबाद-मुंबई (82902/82901) तेजस एक्सप्रेस आज से अपनी सेवाएं शुरू कर रही हैं. बीते 19 मार्च को कोरोना वायरस महामारी के चलते इन ट्रेनों को बंद कर दिया गया था. तेजस एक्सप्रेस (Tejas Express) नाम से चलने वाली ये दो ट्रेनों देश की पहली प्राइवेट ट्रेनें हैं, जिसका संचालन IRCTC करती है. अब इन ट्रेनों को एक बार फिर शुरू करने के साथ ​ही IRCTC ने पैसेंजर्स के लिए कुछ गाइडलाइंस भी जारी किया है. ऐसे में अगर आप भी इन ट्रेनों से ट्रैवल करने की प्लानिंग कर रहे हैं तो आपके ​लिए इन गाइडलाइंस के बारे में जानना जरूरी है.

IRCTC ने एक बयान जारी कर कहा है कि तेजस एक्सप्रेस मैनेज करने वाले सभी कर्मचारियों को विशेष ट्रेनिंग दी गई है, ताकि कोविड-19 संक्रमण के लिए सभी प्रोटोकॉल को हर स्तर पर अपनाया जा सके. पैसेंजर्स और स्टाफ की सुरक्षा को सबसे वरीयता दी जाएगी.

व्रत रखने वाले पैसेंजर्स के लिए फल

एक मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि मौजूदा स्थिति को देखते हुए तेजस ट्रेनों में डायनेमिक प्राइसिंग नहीं लागू किया जाएगा. चूंकि, आज से नवरात्र भी शुरू हो रहा है, इसी को देखते हुए आईआरसीटीसी पैसेंजर्स को फल भी उपलब्ध कराएगा.

यह भी पढ़ें: कोरोना महामारी के बीच बंपर कमाई कराने वाला बिजनेस! एक बार पैसा लागकर कमाएं लाखों

पैसेंजर्स की सुरक्षा के लिए कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत एक स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर (SoPs) जारी किया गया है.

एक बार बैठने के बाद पैसेंजर्स को अपने सीट्स एक्सचेंज करने की अनुमति नहीं दी जाएगी. सभी पैसेंजर्स और स्टाफों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य होगा.

सभी के लिए अपने स्मार्टफोन में 'आरोग्य सेतु' ऐप इंस्टॉल करना अनिवार्य होगा. टिकट बुकिंग के समय सभी पैसेंजर्स को इस बारे में विस्तृत जानकारी दी जाएगी.

सभी पैसेंजर्स को ट्रैवल से पहले कोविड-19 प्रोटेक्शन किट दिया जाएगा. इस किट में हैंड सैनिटाइजर की एक बॉटल, एक मास्क, एक फेस शिल्ड और एक जोड़ी ग्लव्स होंगे.

ट्रेन कोच में एंट्री से पहले सभी पैसेंजर्स की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी और हैंड सैनिटाइज कराया जाएगा.

पैंट्री एरिया और शौचालय को समय-समय पर डिसइन्फेक्ट किया जाएगा. पैसेंजर्स के सामान व बैग को भी डिसइन्फेक्ट किया जाएगा. इसके लिए अलग से स्टाफ लगाए जाएंगे.

कोच के अंदर उन जगहों को समय-समय पर साफ किया जाएगा, जो बार-बार टच किए जाते हों. सर्विस ट्रे और ट्रॉली को भी डिसइन्फेक्ट किया जाएगा.

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it