व्यापार

बिटक्वॉइन की कीमतों में तेजी, Ethereum, Dogecoin में गिरावट, जाने

Bhumika Sahu
25 Nov 2021 7:13 AM GMT
बिटक्वॉइन की कीमतों में तेजी, Ethereum, Dogecoin में गिरावट, जाने
x
ग्लोबल क्रिप्टो मार्केट का कैपिटलाइजेशन पिछले 24 घंटों के दौरान 1.23 फीसदी बढ़कर 2.60 ट्रिलियन डॉलर पर पहुंच गया. मार्केट कैपिटलाइजेशन के हिसाब से दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी बिटक्वॉइन वर्तमान में 57,517 डॉलर पर ट्रेड कर रही है.

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। ग्लोबल क्रिप्टो मार्केट का कैपिटलाइजेशन पिछले 24 घंटों के दौरान 1.23 फीसदी बढ़कर 2.60 ट्रिलियन डॉलर पर पहुंच गया. मार्केट कैपिटलाइजेशन के हिसाब से दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी बिटक्वॉइन वर्तमान में 57,517 डॉलर पर ट्रेड कर रही है. इससे पिछले दिन बुधवार के मुकाबले बाजार में उसकी मौजूदगी में करीब 0.28 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है, जिसके साथ यह 41.92 फीसदी पर पहुंच गया है.

पिछले 24 घंटों के दौरान कुल क्रिप्टोकरेंसी ट्रेडिंग वॉल्यूम 137.06 अरब डॉलर पर रहा है. इसमें 9.65 फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई है. जहां DeFi (18.03 अरब डॉलर) कुल क्रिप्टो वॉल्यूम के 13.16 फीसदी पर रहा है. वहीं, स्टेबल क्वॉइन (103.77 अरब डॉलर) क्रिप्टो मार्केट के 24 घंटे के मार्केट वॉल्यूम का 75.71 फीसदी रहे हैं.
Solana 2.96% गिरी
बड़ी क्रिप्टोकरेंसी की बात करें, तो बिटक्वॉइन में 2.12 फीसदी की तेजी देखी गई है. इसके साथ Ethereum 1.10 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 4,303 डॉलर पर पहुंच गई. मार्केट कैपिटलाइजेशन के हिसाब से तीसरी सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी Binance Coin में भी करीब 3 फीसदी की तेजी आई है. दूसरी तरफ, Solana 2.96 फीसदी गिरकर 208 डॉलर पर पहुंच गई. Cardano 1.40 फीसदी की गिरावट के साथ 1.66 डॉलर पर आ गई. वहीं, Polkadot 0.85 फीसदी घटकर 39.11 डॉलर पर पहुंच गई है.
Dogecoin 2.78 फीसदी की गिरावट के साथ 0.2168 डॉलर पर ट्रेड कर रहा है. वहीं, डिजिटल टोकन Stellar 1.02 फीसदी घटकर 0.331 डॉलर और Litecoin 2.07 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 216.91 डॉलर पर पहुंच गया है.
XRP में 0.95% की गिरावट
XRP 0.95 फीसदी की गिरावट के साथ 1.04 डॉलर पर पहुंच गई और Uniswap 4.86 फीसदी घटकर 20.73 डॉलर पर आ गई. क्रिप्टो की कीमतें अरबपति एलन मस्क और आर्क इन्वेस्मेंट मैनेजमेंट LLC के Cathie Wood के बयानों के बाद तेजी दिखा रही हैं.
भारत शेयर बाजारों पर क्रिप्टोकरेंसी की वैल्यू में बुधवार को बड़ी गिरावट देखी गई है. उन्हें वैल्यू में एक चौथाई का नुकसान हुआ है. इसकी वजह रही है कि निवेशकों को इस बात की कन्फ्यूजन थी कि क्या देश में क्रिप्टोकरेंसी की ट्रेडिंग बैन होगी या नहीं. इसे लेकर परेशान और घबराए निवेशकों ने जल्दी से अपनी होल्डिंग्स को बेच दिया.
कई मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सरकारी सूत्रों ने उन्हें बताया कि क्रिप्टोकरेंसी पर पूरी तरह बैन की कोई उम्मीद नहीं है. हालांकि, एक रेगुलेटरी व्यवस्था को लागू किया जाएगा. इसमें निवेशकों को जरूरत पड़ने पर क्रिप्टोकरेंसी से एग्जिट करने के लिए एक मजबूत विन्डो मिलेगी.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it