खेल

ICC के कई स्टाफ कोरोना के चपेट में, आइसोलेशन हुए सभी संक्रमित

Bharti
28 Sep 2020 7:47 AM GMT
ICC के कई स्टाफ कोरोना के चपेट में, आइसोलेशन हुए सभी संक्रमित
x
इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC)के कई स्टाफ कोरोना वायरस (COVID-19)के चपेट में आ गए हैं। आइसीसी के सूत्र ने इसकी जानकारी दी है।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC)के कई स्टाफ कोरोना वायरस (COVID-19)के चपेट में आ गए हैं। आइसीसी के सूत्र ने इसकी जानकारी दी है। दुबई स्थित आइसीसी मुख्यालय के संक्रमित सदस्य यूएई के हेल्थ प्रोटोकॉल के अनुसार इस समय अनिवार्य रूप से आइसोलेशन में हैं। हालांकि, इससे इंडियन प्रीमियर लीग (IPL)प्रभावित नहीं होगा।

बता दें कि कोरोना के कारण आइपीएल का आयोजन यूएई में हो रहा है। टूर्नामेंट के मैच दुबई शारजाह और अबूधाबी में खेले जा रहे हैं। समाचार एजेंसी एएनआइ को आइसीसी के एक सूत्र ने बताया कि आइसीसी के स्टाफ कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं। कोरोना से संक्रमित सभी सदस्य स्थानीय नियमों के अनुसाल आइसोलेट हो गए हैं। पिछले कुछ दिनों में इनसे मिले लोगों को भी आइसोलेट होने को कहा गया है। ICC के कई स्टाफ कोरोना के चपेट में, आइसोलेशन हुए सभी संक्रमित

सूत्न ने यह भी बताया कि अतिरिक्त सावधानी बरतने के लिए कार्यालय की अच्छी तरह साफ सफाई कराई जा रही है। इसके चलते लोग कुछ दिनों तक घर से काम करेंगे। इसके लिए पहले से ही काफी तैयारियां की जा चुकी थीं। इसलिए इसे बहुत अच्छी तरह से निपटा जा रहा है और यह आइपीएल को बिल्कुल प्रभावित नहीं करेगा।

कोरोना के चलते क्रिकेट समेत पूरा खेल जगत काफी प्रभावित हुआ है। इसके चलते आइपीएल को स्थगित करना पड़ा था। इसके चलते टी 20 वर्ल्ड कप पहले ही स्थगित किया जा चुका है। यह टूर्नामेंट अक्टूबर नवंबर में ऑस्टेलिया में ही होना था। हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अफगानिस्तान का टेस्ट मैच व न्यूजीलैंड की वनडे सीरीज को स्थगित करना पड़ा।

बता दें कि दुनियाभर में कोरोना के तीन करोड़ 30 लाख से ज्यादा मामले सामने आ गए हैं और 10 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। अमेरिका इससे सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है, जहां अभी तक 70 लाख से ज्यादा मामले सामने आ गए हैं और दो लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। इस मामले में भारत दूसरे नंबर पर है, जहां 60 लाख मामले सामने आ गए हैं और मरने वालों की संख्या एक लाख के करीब पहुंच गया है। यूएई की बात करें तो यहां 90 हजार से ज्यादा मामले सामने आ गए हैं।

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it