Top
विश्व

डोनोल्ड ट्रंप पर महाभियोग प्रस्ताव पर कार्यवाही शुरू

Admin1
13 Jan 2021 3:40 PM GMT
डोनोल्ड ट्रंप पर महाभियोग प्रस्ताव पर कार्यवाही शुरू
x

फाइल  फोटो 

अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने राष्ट्रपति डोनोल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग के लिए सत्र की कार्यवाही शुरू कर दी है. पिछले सप्ताह अमेरिकी संसद परिसर में हिंसा में डोनाल्ड ट्रंप की भूमिका को लेकर अमेरिका के निचले सदन में उन पर महाभियोग के लिए वोटिंग होने जा रही है. डेमोक्रेट्स ने राष्ट्रपति ट्रंप पर संसद पर हमला करने के लिए अपने समर्थकों को उकसाने का आरोप लगाया. इस घटना में 5 लोगों की मौत हो गई थी.

न्यूज के मुताबिक 215 डेमोक्रेट्स सांसद और 5 रिपब्लिकन सांसदों ने ट्रंप के खिलाफ महाभियोग का समर्थन किया है. महाभियोग के लिए 218 मतों की जरूरत होती है. हाउस के प्रमुख नेता होयर का कहना है कि वह महाभियोग के लिए आर्टिकल को अमेरिकी सीनेट को तुरंत भेजेंगे.
इससे पहले, बताया गया था कि अमेरिकी संसद भवन कैपिटल बिल्डिंग पर पिछले सप्ताह हुई हिंसा के मद्देनजर अमेरिका के निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव पर डेमोक्रेटिक नेताओं के नियंत्रण वाली अमेरिकी प्रतिनिधि सभा वोटिंग के लिए तैयार है.
महाभियोग प्रस्ताव पर वोटिंग के साथ ही ट्रंप अमेरिका के इतिहास में पहले ऐसे राष्ट्रपति बन सकते हैं जिनके खिलाफ दो बार महाभियोग चलाया गया. बहरहाल, सांसदों जैमी रस्किन, डेविड सिसिलिने और टेड लियू ने महाभियोग का प्रस्ताव तैयार किया है जिसे प्रतिनिधि सभा के 211 सदस्यों ने सह-प्रायोजित किया. महाभियोग के प्रस्ताव को सोमवार को पेश किया गया था. महाभियोग प्रस्ताव में ट्रंप पर छह जनवरी को 'राजद्रोह के लिए उकसाने' का आरोप लगाया गया है.
समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की कार्यवाही के लिए कुछ रिपब्लिकन सदस्य भी सत्र में शामिल हो रहे हैं. बता दें कि महाभियोग प्रस्ताव में कहा गया था कि ट्रंप ने अपने समर्थकों को संसद भवन की घेराबंदी के लिए तब उकसाया, जब वहां इलेक्टोरल कॉलेज के मतों की गिनती चल रही थी और लोगों के धावा बोलने की वजह से यह प्रक्रिया बाधित हुई. इस घटना में एक पुलिस अधिकारी समेत पांच लोगों की मौत हो गई.
गौरतलब है कि नवंबर में आए चुनाव के नतीजों के खिलाफ ट्रंप ने वॉशिंगटन डीसी में एक बड़ी रैली में अपने समर्थकों से कहा था कि लड़ाई करो. उन्होंने अपने समर्थकों से वॉशिंगटन डीसी की तरफ कूच करने का भी आह्वान किया था. ट्रंप के भाषण के बाद ही पिछले बुधवार को अमेरिकी संसद परिसर में ये हिंसा हुई थी. वहीं प्रतिनिधि सभा की न्यायिक समिति के अध्यक्ष जेरोल्ड नैडलर ने ट्रंप के खिलाफ महाभियोग के लिए 50 पन्नों की एक रिपोर्ट जारी की थी, जिसमें महाभियोग चलाने के लिए मजबूत आधार पेश किए गए हैं. हालांकि पूरी कार्यवाही को ट्रंप बोलने की अपनी स्वतंत्रता के खिलाफ बता रहे हैं.
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it