विश्व

पाकिस्तान ने बैलिस्टिक मिसाइल का किया परीक्षण, हथियारों की भूख बरकरार

Neha
26 Nov 2021 9:21 AM GMT
पाकिस्तान ने बैलिस्टिक मिसाइल का किया परीक्षण, हथियारों की भूख बरकरार
x
सेना के मीडिया प्रकोष्ठ के अनुसार मिसाइल गजनवी में 290 किलोमीटर की रेंज तक अनेक प्रकार के आयुध ले जाने की क्षमता है.

पाकिस्तान (Pakistan) में महंगाई और बेरोजगारी (Pakistan Inflation) अपने चरम पर पहुंचती जा रही है, मगर पड़ोसी मुल्क की हथियारों को लेकर भूख खत्म होने का नाम नहीं ले रही है. पाकिस्तान ने गुरुवार को सतह से सतह तक मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल शाहीन-1ए (Shaheen-1A surface-to-surface ballistic missile) का सफल परीक्षण किया. इससे पहले भी पाकिस्तान ने अगस्त में सतह से सतह पर वार करने वाली परमाणु संचालित बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया था.

पाकिस्तानी सेना (Pakistan Army) ने एक बयान में कहा, 'परीक्षण का मकसद हथियार प्रणाली के कुछ डिजाइन और तकनीकी मानकों का पुन:सत्यापन करना था.' हालांकि, सेना ने मिसाइल का तकनीक साझा नहीं किया. परीक्षण के मौके पर सेना के वरिष्ठ अधिकारी, वैज्ञानिक और इंजीनियर मौजूद थे. इस दौरान महानिदेशक सामरिक योजना प्रभाग के लेफ्टिनेंट जनरल नदीम जकी मांज, कमांडर आर्मी स्ट्रेटेजिक फोर्सेज कमांड और रणनीतिक संगठनों के वैज्ञानिक और इंजीनियर विभाग के लेफ्टिनेंट जनरल मुहम्मद अली मौजूद रहे.
आरिफ अल्वी और इमरान खान ने दी बधाई
सेना के बयान में कहा गया, उड़ान परीक्षण के सफल ऑपरेशन पर वैज्ञानिकों और इंजीनियरों को बधाई देते हुए, मांज ने उनके तकनीकी कौशल, समर्पण और प्रतिबद्धता की सराहना की. राष्ट्रपति आरिफ अल्वी (Arif Alvi), प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) और सैन्य नेतृत्व ने इस उपलब्धि पर वैज्ञानिकों और इंजीनियरों को बधाई दी. इससे पहले मार्च में, सेना ने परमाणु हथियार (Nuclear Weapons) ले जाने में सक्षम शाहीन 1-ए बैलिस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण किया था. उसकी मारक क्षमता 900 किलोमीटर तक थी.
अगस्त में परमाणु क्षमता संपन्न बैलिस्टिक मिसाइल का किया परीक्षण
बता दें कि पाकिस्तान ने 12 अगस्त को सतह से सतह पर प्रहार करने वाली परमाणु क्षमता संपन्न बैलिस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण किया था. ये मिसाइल 290 किलोमीटर तक के लक्ष्यों पर निशाना साध सकती है. पाकिस्तानी सेना ने एक बयान में कहा था कि बैलिस्टिक मिसाइल गजनवी का सफल प्रशिक्षण प्रक्षेपण का उद्देश्य सैन्य रणनीतिक बल कमान की अभियान संबंधी तैयारियों को सुनिश्चित करना तथा शस्त्र प्रणाली के तकनीकी मानदंडों को पुन: मान्यता प्रदान करना था. सेना के मीडिया प्रकोष्ठ के अनुसार मिसाइल गजनवी में 290 किलोमीटर की रेंज तक अनेक प्रकार के आयुध ले जाने की क्षमता है.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it