खेल

विंबलडन: जोकोविच चारों ग्रैंडस्लैम में 80 मैच जीतने वाले पहले खिलाड़ी, पहले राउंड में नोवाक को करना पड़ा संघर्ष

AJAY
27 Jun 2022 6:36 PM GMT
विंबलडन: जोकोविच चारों ग्रैंडस्लैम में 80 मैच जीतने वाले पहले खिलाड़ी, पहले राउंड में नोवाक को करना पड़ा संघर्ष
x
पढ़े पूरी खबर
लगातार तीन बार के चैंपियन सर्बिया के नोवाक जोकोविच सोमवार को यहां विंबलडन टेनिस के दूसरे दौर में पहुंच गए। शीर्ष वरीय जोकोविच ने कोरिया के सून वू क्वोन को सेंटर कोर्ट पर दो घंटे 27 मिनट चले मुकाबले में 6-3, 3-6, 6-3, 6-3 से हराया। यह नोवाक की इस ग्रासकोर्ट ग्रैंडस्लैम में 90 मुकाबलों में 80 वीं जीत है। इसके साथ ही वह सभी चार ग्रैंड स्लैम में 80 जीत हासिल करने वाले पहले खिलाड़ी हो गए। अन्य मुकाबले में ब्रिटेन के नंबर एक कैमरून नूरी ने पाब्लो एंडुजर को 6-0, 7-6, 6-3 से हराकर जीत से शुरुआत की।
दुनिया के पूर्व नंबर एक जोकोविच ने जीत से शुरुआत की लेकिन 81वीं रैंकिंग के कोरियाई खिलाड़ी ने उन्हें अच्छी टक्कर देने का प्रयास किया। क्वोन ने पहले सेट के तीसरे गेम में एक ब्रेक हासिल किया और 3-1 की बढ़त बना ली। उसके बाद जोकोविच ने अपने गेम का स्तर उठाया और छठे व आठवें गेम में ब्रेक हासिल करते हुए 6-3 से पहला सेट जीत लिया।
दूसरे सेट में कोरियाई खिलाड़ी ने बेहतर खेल दिखाया, खासतौर पर उनके फोरहैंड बेहतरीन रहे। चौथे गेम ब्रेक प्वाइंट हासिल किया और फिर 5-3 की बढ़त के बाद शानदार लय के साथ दूसरा सेट अपने नाम कर लिया। तीसरे सेट के पहले चार गेमों में क्वोन ने चार अंक गवाएं, लेकिन जोकोविच ने 4-3 पर ब्रेक कर लिया और दबदबे के साथ तीसरा सेट भी अपने नाम कर लिया।
चौथे सेट में कोरियाई खिलाड़ी पर बड़ा दबाव था। चौथे सेट के दूसरे गेम में नोवाक ने तीन बार ब्रेक प्वाइंट बचाए और उसके बाद अच्छा सर्विस खेल दिखाया। पांचवें गेम में ब्रेक कर महत्वपूर्ण बढ़त ली और उसके बाद सेट और मैच अपने कब्जे में कर लिया।
पिछली बार जब जोकोविच ने विंबलडन में खिताब जीता था तो उन्होंने अपना 20वां ग्रैंडस्लैम हासिल किया था। इस साल रूसी खिलाड़ियों पर रोक के कारण डेनिएल मेदवेदेव भाग नहीं ले रहे हैं। ऐसे में जोकोविच को शीर्ष वरीयता दी गई है।
जीत के बाद जोकोविच ने कहा- मेरी 80 जीत हो गई हैं, सौ जीत की कोशिश करेंगे। मैंने विंबलडन से पहले कोई प्रमुख टूर्नामेंट नहीं खेला। ऐसे में आप उतना सहज नहीं हो पाते। क्वोन ने अच्छा खेल दिखाया। फोरहैंड और बैकहैंड अच्छे थे और मुझे जीत के लिए युक्ति लगानी पड़ी।
फेडरर की बराबरी
सर्बियाई खिलाड़ी जोकोविच स्विट्जरलैंड के दिग्गज रोजर फेडरर के बाद ऐसे दूसरे पुरुष खिलाड़ी हैं जिन्होंने चारों ग्रैंडस्लैम में 90 मैच खेले हैं। कोरियाई खिलाड़ी सून वू क्वोन के खिलाफ मैच उनका यहां 90वां मैच था। इस मैच में जोकोविच ने विंबलडन में लगातार 22वां मुकाबला जीता। पैंतीस वर्षीय नोवाक ने फ्रेंच ओपन में 101, यूएस ओपन में 94, ऑस्ट्रेलियन ओपन और विंबलडन में 90-90 मैच खेले हैं।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta