खेल

अश्विन ने किया बड़ा खुलासा, शास्त्री पर लगाए गंभीर आरोप

Tulsi Rao
21 Dec 2021 5:09 PM GMT
अश्विन ने किया बड़ा खुलासा, शास्त्री पर लगाए गंभीर आरोप
x
टी20 वर्ल्ड कप के तुरंत बाद रवि शास्त्री ने भारत के कोच पद से इस्तीफा दे दिया. अब टीम के एक सीनियर प्लेयर ने शास्त्री के ऊपर ही हमला बोल दिया है.

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। टी20 वर्ल्ड कप के तुरंत बाद रवि शास्त्री ने भारत के कोच पद से इस्तीफा दे दिया. इसी के साथ भारत को राहुल द्रविड़ के रूप में एक नया कोच मिला. शास्त्री ने इस पद को छोड़ते ही मैनेजमेंट को लेकर कई बड़े खुलासे किए. लेकिन टीम के एक सीनियर प्लेयर ने उन्हीं पर हमला बोल दिया है. ये खिलाड़ी पहली बार पूर्व कोच को लकेर दुनिया के सामने आया है.

शास्त्री पर लगे गंभीर आरोप
भारत के प्रमुख ऑफ स्पिनर आर अश्विन ने खुलासा किया है कि पूर्व मुख्य कोच रवि शास्त्री की एक टिप्पणी के बाद उन्हें ऐसा लग रहा था कि उन्हें बीच भंवर में छोड़ दिया गया और करियर के मुश्किल समय में उन्होंने कई बार खेल को अलविदा कहने के लिए सोचा. 'ईएसपीनक्रिकइंफो' ने अश्विन से जब पूछा कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2019 के सिडनी टेस्ट में पांच विकेट लेने के बाद जब कोच शास्त्री ने कुलदीप यादव को विदेशों में भारत का शीर्ष स्पिनर करार दिया तो उन्हें कैसा लगा था.
अश्विन ने कहा कि वह कुलदीप के लिए वह वास्तव में खुश थे क्योंकि उन्हें पता था कि ऑस्ट्रेलिया में एक स्पिनर के रूप में पांच विकेट लेना कितना मुश्किल है लेकिन शास्त्री की टिप्पणी ने उन्हें ' पूरी तरह से हताश कर दिया था.' अश्विन ने कहा, 'मैं रवि भाई का बहुत सम्मान करता हूं. हम सब करते हैं और मैं समझता हूं कि हम सब कुछ कहने के बाद भी अपने शब्दों को वापस ले सकते है. उस समय मैं हालांकि बहुत हताश महसूस कर रहा था. पूरी तरह से टूटा हुआ.'
अश्विन को किया गया साइड
इस दिग्गज स्पिनर ने कहा, 'हम सभी इस बारे में बात करते हैं कि अपने साथियों की सफलता का लुत्फ उठाना लेना कितना जरूरी है. मैं कुलदीप के लिए खुश था. मैं ऑस्ट्रेलिया में पांच विकेट हासिल नहीं कर पाया था लेकिन ऐसा किया. मुझे पता है कि यह कितनी बड़ी उपलब्धि है. यहां तक कि जब मैंने अच्छी गेंदबाजी की है तभी यह कारनामा नहीं कर सका था, इसलिए मैं वास्तव में उसके लिए खुश हूं और ऑस्ट्रेलिया में जीत हासिल करना बेहद खुशी का मौका है.'
अश्विन ने कहा, 'मुझे अगर उनकी खुशी और टीम की सफलता में हिस्सा लेना है, तो मुझे ऐसा महसूस होना चाहिए कि मैं उसका हिस्सा हूं. अगर मुझे लगता है कि मेरा तिरस्कार हो रहा है तो मैं टीम या टीम के साथी की सफलता का आनंद लेने के लिए कैसे उठा पाउंगा?' अश्विन, हालांकि भारतीय टीम की ऐतिहासिक सीरीज जीत के बाद आयोजित की गई पार्टी में शामिल हुए थे.
अश्विन की तुलना लियोन से हुई
भारतीय गेंदबाज ने कहा, 'मैं अपनी चोट के कारण पहले ही निराश था क्योंकि मैं गेंदबाजी के मामले में अच्छी लय में था. इस दौरान मैं किसी से कोई तुलना नहीं चाहता था लेकिन उस प्रतिक्रिया (लियोन से तुलना) और फिर सिडनी के बाद ऐसा लगा जैसे मैंने टीम के लिए कोई भूमिका नहीं निभाई है.' अश्विन खेल के लंबे फॉर्मेट में घरेलू और विदेशों में भारत के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज रहे हैं. इस स्पिनर ने अब तक 427 टेस्ट विकेट लिए हैं. वह अनिल कुंबले और कपिल देव के बाद लाल गेंद फॉर्मेट में देश से तीसरे सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta