विज्ञान

चंद्रमा पर ऑक्सीजन का पता लगाने के लिए ऑस्ट्रेलिया करेंगे नासा मदद

Rani Sahu
13 Oct 2021 1:13 PM GMT
चंद्रमा पर ऑक्सीजन का पता लगाने के लिए ऑस्ट्रेलिया करेंगे नासा मदद
x
चंद्रमा पर ऑक्सीजन का पता लगाने के लिए अब ऑस्ट्रेलिया अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा (National Aeronautics and Space Administration) की मदद करेगा

NASA Moon Mission: चंद्रमा पर ऑक्सीजन का पता लगाने के लिए अब ऑस्ट्रेलिया अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा (National Aeronautics and Space Administration) की मदद करेगा. इसके लिए ऑस्ट्रेलिया 20 किलोग्राम वजनी एक रोवर का निर्माण करने पर सहमत हो गया है, जिसे साल 2026 के शुरू में भेजे जाने की योजना है. रोवर चांद पर ऑक्साइड युक्त मिट्टी एकत्र करेगा और नासा इस मिट्टी से ऑक्सीजन तत्व निकालने के लिए एक अलग उपकरण का इस्तेमाल करेगा. नासा के प्रशासक बिल नेल्सन ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया की अंतरिक्ष एजेंसी के साथ हुआ समझौता अंतरिक्ष संबंधी खोज में दोनों देशों के बीच संबंधों को मजबूत करेगा.

ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन का कहना है कि उनकी सरकार ने जुलाई 2018 के बाद से सिविल स्पेस सेक्टर में 700 मिलियन डॉलर से अधिक का निवेश किया है (Search of Oxygen on Moon). अब चांद पर रोवर भेजने की नई योजना से इंडस्ट्री में और नौकरियां पैदा होंगी. मॉरिसन ने कहा, 'चंद्रमा से जुड़ा ये मिशन भविष्य के लिए अवसर और रोजगार पैदा करने का एक रोमांचक तरीका है. हमारी सरकार सुनिश्चित करेगी कि ऑस्ट्रेलियाई लोग इसका लाभ उठाएं.'
देश में रोजगार को मिलेगी बढ़ोतरी
प्रधानमंत्री ने आगे कहा, 'यह ऑस्ट्रेलिया के लिए वैश्विक अंतरिक्ष क्षेत्र में सफल होने का एक अविश्वसनीय अवसर है और यह हमारी सरकार के अधिक रोजगार देने और बढ़ती अंतरिक्ष अर्थव्यवस्था का एक बड़ा हिस्सा बनने के विजन का केंद्र भी है (Australian Space Agency). साल 2030 तक, हम अपने अंतरिक्ष क्षेत्र के आकार को तिगुना करना चाहते हैं, अपनी अर्थव्यवस्था में 12 बिलियन डॉलर जोड़ना चाहते हैं और 20,000 नई और उच्च स्किल वाली नौकरियां पैदा करना चाहते हैं. जो ऑस्ट्रेलिया के लोगों और उद्योगों के लिए अधिक अवसर प्रदान करेंगे.'
ऑस्ट्रेलिया के लिए ऐतिहासिक उपलब्धि
विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री मेलिसा प्राइस ने कहा कि यह मिशन ऑस्ट्रेलिया के लिए एक ऐतिहासिक उपलब्धि होगी. उन्होंने कहा, 'रोबोटिक्स टेक्नोलॉजी के मामले में हमारी विशेषज्ञता है (Australia NASA Moon Mission). इसी के साथ नासा इस प्रोजेक्ट पर चंद्रमा के लिए हमारे साथ साझेदारी करना चाहता है, जिससे हमारा भी चांद से जुड़ा इतिहास बन सकेगा. इससे ऑस्ट्रेलिया वैज्ञानिक खोजों के लिए फ्रंट और सेंटर दोनों जगह खड़ा दिखाई देगा. हमारे 50 मिलियन डॉलर के समर्थन से ऑस्ट्रेलियाई बिजनेस और रिसर्चर्स को नासा के चंद्रमा और दूसरे मिशन में योगदान करने का अवसर मिलेगा.'


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it