जगी उम्मीद: अमेरिकन कंपनी का दावा…अक्टूबर में आ सकती है कोरोना वैक्सीन…सीईओ ने कहा…

कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने में अब एक और कंपनी ने दुनिया की उम्मीदें जगा दी हैं. वियाग्रा जैसी दवाओं का आविष्कार करने वाली अमेरिकन फार्मास्यूटिकल कंपनी Pfizer ने दावा किया है कि इस साल अक्टूबर के अंत तक उनकी वैक्सीन बनकर तैयार हो जाएगी.

Pfizer के सीईओ अल्बर्ट बुर्ला ने ‘द टाइम्स ऑफ इजराइल’ के हवाले से बताया, ‘अगर सबकुछ ठीक चलता रहा और हमें किस्मत का साथ मिला तो अक्टूबर के अंत तक वैक्सीन होगी. एक गुणकारी और सुरक्षित वैक्सीन के लिए हम भरपूर प्रयास कर रहे हैं.’

कंपनी के सीईओ ने रिपोर्ट में बताया कि Pfizer जर्मनी की फर्म बायोन्टेक के साथ यूरोप और संयुक्त राज्य अमेरिका में कई संभावित वैक्सीन को लेकर काम कर रहा है.

इसके अलावा, एस्ट्राजेनेका नाम की एक और कंपनी ने दावा किया है कि इस साल के अंत तक एक या एक से ज्यादा वैक्सीन तैयार हो सकते हैं. बता दें कि एस्ट्राजेनेका फिलहाल ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के साथ वैक्सीन पर काम कर रही है, जिसमें एक वैक्सीन पर काम इस साल के अंत तक खत्म हो सकता है.

एस्ट्राजेनेका के प्रमुख पास्कल सोरिएट्स ने कहा, ‘हमारी वैक्सीन से कई लोगों की उम्मीदें जगी हैं. अगर सभी चरणों में कामयाबी मिली तो इस साल के अंत तक हमारे पास वैक्सीन होगी.’ उन्होंने कहा कि हम समय के विपरीत चल रहे हैं. पूरी दुनिया में अब तक 50 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं और साढ़े तीन लाख से ज्यादा की मौत हो चुकी है.

रिपोर्ट में एक्सपर्ट्स की चेतावनी को रेखांकित करते हुए कहा गया है कि आने वाले समय में चुनौती और भी कठिन हो सकती है. इस महामारी से लोगों को बचाने के लिए हमें 1,500 करोड़ (15 बिलियन) डोसेज तैयार करने होंगे.

सोरिएट्स ने बताया कि पूरी दुनिया में तकरीबन 100  लैब्स में कोरोना वायरस की वैक्सीन पर काम किया जा रहा है. लेकिन अभी तक सिर्फ 10 ही क्लिनिकल ट्रायल्स तक पहुंच पाए हैं.