CG-DPR

ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने ली हाथकरघा संघ की विभागीय समीक्षा बैठक

Janta se Rishta
14 Sep 2020 4:09 PM GMT
ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने ली हाथकरघा संघ की विभागीय समीक्षा बैठक
x

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। रायपुर। ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने आज हाथकरघा संघ की विभागीय समीक्षा बैठक ली। मंत्री गुरु रुद्रकुमार ने कहा कि गणवेश निर्माण संबंधी कार्यों में अनियमितता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य शासन की मंशा के अनुरूप ग्रामीण अर्थव्यवस्था के सुदृढ़ीकरण की दिशा में ग्रामोद्योग विभाग अपनी पूर्ण सहभागिता निभाते हुए स्थानीय लोगों को अधिक से अधिक रोजगार उपलब्ध कराया है। मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने बैठक में हाथकरघा संघ के प्रबंध संचालक राजेश सिंह राणा को प्रकाशित समाचार के संदर्भ में विस्तृत जांच और परीक्षण कराकर 15 दिवस में अवगत कराने के निर्देश दिए हैं, साथ ही जांच में जो भी अधिकारी-कर्मचारी की संलिप्तता पाए जाने पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

बैठक में हाथकरघा संघ के प्रबंध संचालक ने जानकारी देते हुए बताया कि छत्तीसगढ़ राज्य हाथकरघा विकास एवं विपणन सहकारी संघ मर्यादित, रायपुर द्वारा प्रदेश के 234 बुनकर सहकारी समितियों के माध्यम से हाथकरघा वस्त्र उत्पादन तथा 486 महिला स्व-सहायता समूहों को गणवेश सिलाई में संलग्न कर प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रूप से 45000 लोगों को नियमित रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि विगत दिनों एक दैनिक समाचार पत्र में प्रकाशित ’हाथकरघा में गड़बड़झाला’ शीर्षक वाले समाचार को संज्ञान में लेते हुए आज हाथकरघा संघ की समीक्षा बैठक ली गई। मंत्री गुरु रूद्रकुमार के निर्देश पर प्रबंध संचालक राज्य हाथकरघा संघ द्वारा कमेटी गठित कर जांच करने के निर्देश जारी किए गए हैं।

गणवेश निर्माण में छत्तीसगढ़ के 5832 महिलाओं को मिल रहा रोजगार

छत्तीसगढ़ राज्य हाथकरघा विकास एवं विपणन सहकारी संघ मर्यादित रायपुर द्वारा गणवेश सिलाई के कार्य में छत्तीसगढ़ के लोगों को ही प्राथमिकता से कार्य दिया जा रहा है। गणवेश सिलाई के इस कार्य में अन्य प्रदेश के लोग शामिल नहीं हैं। छत्तीसगढ़ राज्य हाथकरघा विकास एवं विपणन सहकारी संघ मर्यादित रायपुर के प्रबंध संचालक राजेश सिंह राणा ने बताया कि ग्रामोद्योग विभाग के अंतर्गत छत्तीसगढ़ राज्य हाथकरघा विकास एवं विपणन सहकारी संघ मर्यादित रायपुर द्वारा कोरोना संक्रमण के बावजूद प्रदेश के 486 महिला स्व-सहायता समूह को गणवेश सिलाई के माध्यम से 5832 महिलाओं को रोजगार उपलब्ध करा रही है। महिला स्व-सहायता समूह को समय-सीमा में गणवेश आपूर्ति करने के लिए फरवरी 2020 से ही गणवेश सिलाई का कार्य चालू किया गया था। कोरोना संक्रमण के कारण महिला स्व-सहायता समूह द्वारा गणवेश सिलाई में विलंब हुआ। संघ कार्यालय द्वारा प्रदेश के महिला स्व-सहायता समूह जो संघ के निर्धारित मापदण्ड के अनुसार 486 महिला स्व-सहायता समूह को गणवेश सिलाई का कार्य आदेश दिया है एवं उन्हीं महिला स्व-सहायता समूह को सिलाई के विरूद्ध आर.टी.जी.एस. के माध्यम से सिलाई पारिश्रमिक भुगतान किया गया है। महिला स्व-सहायता समूह के सिलाई क्षमता, कुशलता, दक्षता के आधार पर गणवेश सिलाई का कार्य संघ द्वारा दिया जाता है।

प्रबंध संचालक राणा ने बताया कि विगत दिनों एक दैनिक समाचार पत्र में ‘हाथकरघा में गड़बड़ झाला स्कूलों ड्रेस का काम बंगाल के कारीगरों को सौंपा‘ शीर्षक से प्रकाशित समाचार अनुसार माधुरी यदु, क्षीरसागर महिला स्व-सहायता समूह द्वारा काम देने के एवज में पैसे की मांग की जा रही है एवं माह फरवरी से काम दिया गया था। उसके बाद अचानक काम देना बंद कर दिया गया, का प्रकाशन हुआ था। इस प्रकाशित समाचार के संबंध में उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य हाथकरघा संघ रायपुर द्वारा विगत कई वर्षों से महिला स्व-सहायता समूह के माध्यम से गणवेश सिलाई कर स्कूल शिक्षा विभाग एवं राजीव गांधी शिक्षा मिशन को आपूर्ति की जाती है। राणा ने बताया कि महिला स्व-सहायता समूह द्वारा समूह के महिलाओं को असुविधा से बचाने के लिए कार्यालय से सिलाई कार्य आदेश तैयार कर संघ के भनपुरी गोदाम से वस्त्र प्रदाय किया जाता है। जिसमें अभी तक किसी भी प्रकार की शिकायत प्राप्त नहीं हुई है। संघ द्वारा पंजीयन सहकारी संस्थाएं फर्म्स से पंजीकृत एवं हाथकरघा संघ से संबद्ध स्व-सहायता समूहों को ही गणवेश सिलाई हेतु वस्त्र प्रदाय किया जाता है। बंगाली कारीगरों अथवा अन्य राज्य के बाहरी कारीगरों को आज तक नहीं दिया गया है। क्षीर सागर महिला स्व-सहायता समूह रायपुर को इस वर्ष 28 हजार गणवेश सेट का सिलाई आदेश दिया जा चुका है जो कि अन्य महिला स्व-सहायता समूहों के कार्य आदेश से सर्वाधिक है। साथ ही उक्त समूह को विगत एक सितंबर 2020 को ही गणवेश सिलाई का भी कार्य आदेश दिया गया है।

https://jantaserishta.com/news/raipur-bjp-delegation-meets-district-superintendent-of-police/

https://jantaserishta.com/news/birju-bhaiya-was-a-karmayogi/

https://jantaserishta.com/news/384-new-corona-patients-identified-in-raipur-today-all-patients-from-these-areas/

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta