इन 3 दिग्गजों ने भारत का नया सेलेक्टर बनने के लिए भेजा आवेदन | जनता से रिश्ता

file pic

जनता से रिश्ता वेबडेस्क।  भारत के पूर्व लेग स्पिनर लक्ष्मण शिवरामकृष्णन ने राष्ट्रीय चयन पैनल में पूर्व ऑफ स्पिनर राजेश चौहान और बाएं हाथ के बल्लेबाज अमय खुरसिया के साथ पद के लिए आवेदन भरा है। सभी तीन पूर्व भारतीय अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों ने पीटीआई को पुष्टि की कि वे चयन समिति में पद के लिए आवेदन भर रहे हैं। आवेदन भरने की अंतिम तारीख शुक्रवार 24 जनवरी है। बीसीसीआई एमएसके प्रसाद (दक्षिण क्षेत्र) और गगन खोड़ा (मध्य क्षेत्र) की जगह चयन समिति में दो पद भरेगा जबकि सरनदीप सिंह, जतिन परांजपे और देवांग गांधी एक और सत्र तक अपने पद पर बने रहेंगे। 

भारत के लिये बेंसन एंड हेजेस क्रिकेट विश्व चैम्पियनशिप में नायक रहे शिवरामकृष्णन 20 साल से कमेंटरी कर रहे हैं और वह आईसीसी क्रिकेट समिति का हिस्सा होने के अलावा राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में भी स्पिन गेंदबाजी कोच हैं। पूर्व जूनियर मुख्य चयनकर्ता वेंकटेश प्रसाद और पूर्व भारतीय बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ भी इसमें आवेदन कर सकते हैं जिससे चेयरमैन के पद के लिये दावेदारी दिलचस्प हो जायेगी। पता चला है कि दोनों खिलाड़ियों ने अभी फैसला नहीं किया है।

शिवरामकृष्णन (54 वर्ष) नौ टेस्ट और 16 वनडे (25 अंतरराष्ट्रीय) जबकि बांगड़ 12 टेस्ट और 15 वनडे (27 अंतरराष्ट्रीय) खेल चुके हैं। प्रसाद इन सबसे ज्यादा मैच (33 टेस्ट और 161 वनडे) खेल चुके हैं लेकिन जूनियर राष्ट्रीय चयन समिति में ढाई साल के कार्यकाल को देखते हुए वह केवल डेढ़ साल के लिए सीनियर चयनकर्ता रह सकते हैं।

शिवरामकृष्णन ने पीटीआई से कहा, ”मैंने अपने परिवार से बात की और राष्ट्रीय चयकनर्ता पद के लिए आवेदन करने का फैसला किया। अगर बीसीसीआई मुझे मौका देता है तो मैं इस भूमिका को निभाना चाहूंगा। मेरा मानना है कि अगर मुझे चार साल मिलते हैं तो मैं ‘बेंच स्ट्रेंथ के मामले में सभी तीनों विभागों विशेषकर स्पिन गेंदबाजी में भारतीय क्रिकेट को बेहतर स्थान पर पहुंचा दूंगा।

चौहान 21 टेस्ट और 35 वनडे के अनुभवी हैं और अनिल कुंबले और वेंकटपति राजू के साथ खेल चुके हैं। और उन्होंने उम्मीद जतायी कि वह दूसरी बार भाग्यशाली रहेंगे। खुरसिया ने भी पुष्टि की कि उन्होंने आवेदन भरा है।