Top
विश्व

वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हुए आतंकी हमले से कांप उठी थी दुनिया, 3 हजार लोगों ने गवाई थी जान, अमेरिका पर हुए 9/11 हमले में देखिये इसकी आइकॉनिक फोटो

Janta se Rishta
11 Sep 2020 2:59 AM GMT
वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हुए आतंकी हमले से कांप उठी थी दुनिया, 3 हजार लोगों ने गवाई थी जान, अमेरिका पर हुए 9/11 हमले में देखिये इसकी आइकॉनिक फोटो
x

जनता से रिश्ता वेबडेस्क|11 सितंबर के हमले (जिन्हें अक्सर सितम्बर 11 या 9/11 कहा जाता है) 11 सितम्बर 2001 को संयुक्त राज्य अमेरिका पर अल-क़ायदा द्वारा समन्वित आत्मघाती हमलों की एक श्रंखला थी। उस दिन सबेरे, 19 अल कायदा आतंकवादियों ने चार वाणिज्यिक यात्री जेट वायुयानों का अपहरण कर लिया। अपहरणकर्ताओं ने जानबूझकर उनमें से दो विमानों को वर्ल्ड ट्रेड सेंटर, न्यूयॉर्क शहर के ट्विन टावर्स के साथ टकरा दिया, जिससे विमानों पर सवार सभी लोग तथा भवनों के अंदर काम करने वाले अन्य अनेक लोग भी मारे गए। दोनों भवन दो घंटे के अंदर ढह गए, पास की इमारतें नष्ट हो गईं और अन्य क्षतिग्रस्त हुईं। अपहरणकर्ताओं ने तीसरे विमान को बस वाशिंगटन डी॰सी॰ के बाहर, आर्लिंगटन, वर्जीनिया में पेंटागन में टकरा दिया। अपहरणकर्ताओं द्वारा वाशिंगटन डी॰सी॰ की ओर पुनर्निर्देशित किए गए चौथे विमान के कुछ यात्रियों एवं उड़ान चालक दल द्वारा विमान का नियंत्रण फिर से लेने के प्रयास के बाद, विमान ग्रामीण पेंसिल्वेनिया में शैंक्सविले के पास एक खेत में जा टकराया। किसी भी उड़ान से कोई भी जीवित नहीं बचा।

9/11 हमला: दर्द और अवसाद में डूबे अमेरिकी | ओसामा 'दि एंड'

इन हमलों में लगभग 3,000 शिकार तथा 19 अपहरणकर्ता मारे गए। न्यूयॉर्क राज्य स्वास्थ्य विभाग के अनुसार जून, 2009 तक अग्निशामकों एवं पुलिस कर्मियों सहित, 836 आपातसेवक मारे जा चुके हैं। वर्ल्ड ट्रेड सेन्टर पर हुए हमले में मारे गए 2,752 पीड़ितों में से न्यूयॉर्क शहर तथा पोर्ट अथॉरिटी के 343 अग्निशामक और 60 पुलिस अधिकारी थे। पेंटागन पर हुए हमले में 184 लोग मारे गए थे। हताहतों में 70 देशों के नागरिकों सहित नागरिकों की भारी संख्या थी। इसके अलावा, वहां कम से कम एक द्वित्तीयक मृत्यु हुई थी- चिकित्सा परीक्षक के अनुसार वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के ढहने से धूल में प्रकटन के कारण हुए फेफड़ों के रोग की वजह से एक व्यक्ति की मृत्यु हुई थी।

संयुक्त राज्य अमेरिका ने आतंक के विरुद्ध युद्ध शुरू करके हमले की प्रतिक्रिया व्यक्त की है: आतंकवाद को आश्रय देने वाले तालिबान को पदच्युत करने के लिए इसने अफगानिस्तान पर आक्रमण कर दिया। संयुक्त राज्य अमेरिका ने यूएसए (USA) पैट्रियट एक्ट कानून भी बनाया। कई मंजय के देशों ने भी अपने आतंकवाद विरोधी कानूनों को मजबूत बनाया तथा कानून प्रवर्तक क्षमताओं का विस्तार किया। कुछ अमेरिकी शेयर बाजार हमले के बाद सप्ताह के शेष दिनों में बंद रहे तथा फिर से खुलने पर भारी घाटा, खासकर एयरलाइन और बीमा उद्योग में, दर्ज किया। अरबों डॉलर के कार्यालय स्थान के नष्ट होने से लोअर मैनहटन की अर्थव्यवस्था को गंभीर हानि का सामना करना पड़ा।

9/11 हमला: दर्द और अवसाद में डूबे अमेरिकी | ओसामा 'दि एंड'

पेंटागन को हुए नुकसान के एक वर्ष के अंदर साफ कर दिया गया और मरम्मत कर दी गई तथा भवन के बगल में पेंटागन स्मारक का निर्माण किया गया। वर्ल्ड ट्रेड सेंटर स्थल पर पुनर्निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो गई है। 2006 में, एक नया कार्यालय टॉवर 7 वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के स्थल पर पूर्ण हो गया। वर्तमान में नया 1 वर्ल्ड ट्रेड सेंटर स्थल पर निर्माणाधीन है और 2013 में पूर्ण होने पर 1,776 फुट (541मी) ऊंचाई वाली यह उत्तरी अमेरिका में सबसे ऊंची इमारत हो जाएगी। मूल रूप से तीन और टावर 2007 और 2012 के बीच उस स्थल पर बनाए जाने की उम्मीद की गई थी। 8 नवम्बर 2009 को फ्लाइट 93 नेशनल मेमोरियल की परियोजना प्रारंभ का गई थी और प्रथम चरण का निर्माण 11 सितम्बर 2011 को हमलों की दसवीं सालगिरह के लिए तैयार हो जाने का आशा है।

11 सितम्बर 2001 के हमले - विकिपीडिया

वहीं दूसरी ओर पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू. बुश ने कहा है कि अमेरिकी ‘9-11 और उस वक्त बहादुरी से काम लेकर देश की रक्षा करने वालों को कभी नहीं

9/11 हमला: दर्द और अवसाद में डूबे अमेरिकी | ओसामा 'दि एंड'

वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हुए भयावह हमले की दसवीं बरसी पर पूरे देश में उस घटना में जान गंवाने वालों के प्रति संवेदनाएं व्यक्त की जा रही हैं.

9/11 हमला: दर्द और अवसाद में डूबे अमेरिकी | ओसामा 'दि एंड'

न्यूयॉर्क और वाशिंगटन में पुलिस की उपस्थिति बहुत ज्यादा बढ़ गयी है और ओबामा ने ‘उच्च स्तरीय सतर्कता’ के आदेश दिए हैं.

9/11 हमला: दर्द और अवसाद में डूबे अमेरिकी | ओसामा 'दि एंड'

दसवीं बरसी पर आतंकवादी हमले की आशंका के कारण सुरक्षा के कड़े से कड़े इंतजाम किए जा रहे हैं.

9/11 हमला: दर्द और अवसाद में डूबे अमेरिकी | ओसामा 'दि एंड'

पेनसिल्वेनिया के शांक्सविले में पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज बुश, बिल क्लिंटन और वर्तमान उपराष्ट्रपति जो बाइडेन ने कल ‘यूनाइटेड एयरलाइंस फ्लाइट 93’ पर सवार

9/11 हमला: दर्द और अवसाद में डूबे अमेरिकी | ओसामा 'दि एंड'

बुश ने कहा कि विमान के यात्री और चालक दल के सदस्यों ने ही आतंकवाद के खिलाफ पहली लड़ाई शुरू की.

9/11 हमला: दर्द और अवसाद में डूबे अमेरिकी | ओसामा 'दि एंड'

तीनों व्यक्ति न्यूयार्क और वाशिंगटन जैसे शहरों में विस्फोटक से लदे वाहन से पुलों या सुरंगों में आतंकवादी हमला करेंगे.

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it