युवक पर रेप का आरोप लगाना महिला को पड़ा भारी…कोर्ट ने पॉस्को एक्ट के तहत महिला के खिलाफ मामला दर्ज करने के दिए निर्देश |जनता से रिश्ता

DEMO PIC

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। पलवल। जिले में एक महिला पर दुष्कर्म का मामला दर्ज करवाने का दांव उलटा पड़ गया है। कोर्ट की सुनवाई के दौरान महिला के खिलाफ पॉस्को एक्ट के तहत मामला दर्ज करने के निर्देश दिए हैं। केस में प्रकरण के तथ्यों के मुताबिक 29 वर्षीय महिला ने 14 वर्षीय किशोर के साथ शारीरिक संबंध बनाए और उसके खिलाफ रेप का झूठा मामला दर्ज करवाया था। घटना सिंतबर 2019 की है, कोर्ट में सुनवाई के दौरान जिसके खिलाफ रेप का प्रकरण दर्ज करवाया गया था, उसकी उम्र मात्र 14 वर्ष पाई गई। इस संबंध में कोर्ट के आदेश पर आरोपी महिला के खिलाफ पॉस्को एक्ट के तहत महिला थाने में मामला दर्ज किया गया है। महिला आरोपी केस दर्ज करवाने केनिर्देश के बाद फरार हो गई है। पुलिसआरोपी महिला की तलाश कर रही है।

जानकारी के मुताबिक 13 सितंबर 2019 को 29 वर्षीय विधवा महिला ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उसकी शादी दस वर्ष पूर्व हुई थी और चार वर्ष पहले करंट लगने से पति की मौत हो गई। जिसके बाद पीड़िता पलवल में किराए के मकान में रह रही थी। इसी दौरान महिला का परिचय किशोर से हो गया । किशोर का महिला के घर आना-जाना शुरु हो गया। महिला के मुताबिक युवक ने आश्वासन दिया कि वह उससे शादी करेगा। इस वजह से उसने युवक से संबंध बनाए।

महिला की शिकायत के मुताबिक, लगभग एक वर्ष पूर्व युवक और महिला के बीच संबंध बन गए, जिससे महिला गर्भवती हो गई और उसने युवक से शादी करने की बात कही तो युवक ने शादी करने से साफ इंकार कर दिया। जिस संबंध में महिला थाना पुलिस ने शिकायत के आधार पर युवक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया और युवक को गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश किया । न्यायालय में सुनवाई के दौरान महिला ने जिस युवक के खिलाफ मामला दर्ज कराया है, वो नाबालिग किशोर निकला । कोर्ट ने जांच के दौरान युवक की उम्र 14 वर्ष होना पाया है। आरोपी के नाबालिग होने की स्थिति में कोर्ट ने महिला आरोपी के खिलाफ पॉस्को एक्ट के तहत मामला दर्ज करने और किशोर को बरी करने के आदेश जारी किए। कोर्ट के आदेश पर महिला थाना पुलिस ने 12 जनवरी को महिला आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई। इस आदेश के बाद महिला फरार हो गई है। पुलिस महिला की तलाश कर रही है।