छत्तीसगढ़

ठग ने खुद को बताया अपर कलेक्टर...नौकरी लगवाने का झांसा देकर ठगी, अपराध दर्ज

Janta se Rishta
18 Sep 2020 6:00 AM GMT
ठग ने खुद को बताया अपर कलेक्टर...नौकरी लगवाने का झांसा देकर ठगी, अपराध दर्ज
x

रायपुर (जसेरि)। खुद को अपर कलेक्टर बताकर एक ठग ने नौकरी लगवाने के नाम पर कुछ लोगों से लाखों रुपये ठग लिए। पंडरी पुलिस ने गुरुवार रात अपराध दर्ज किया है। पंडरी पुलिस के मुताबिक जशपुर जिले की ग्राम पंचायत सिकिरमा के सरपंच सर्वेश्वर साय पैकरा ( 31) ने शिकायत दर्ज कराई कि नौकरी लगवाने का लालच देकर ठग ने नरेंद्र साय, गुलेश्वर साय, रंजीत साय, कु. यश्पति पैकरा, कु. मंजू पैकरा, लक्ष्मण साय पैकरा, चंद्रिका पैकरा, देवव्रत राम सिदार, आसुनदेव साय से फोन पर संपर्क बना रखा था। उसने उक्त लोगों को बता रखा था कि उसका नाम निर्मल तिग्गा है और वह अपर कलेक्टर है। अप्रैल, 2020 से वह उक्त लोगों से बातचीत किया करता था। उसने कहा था कि छत्तीसगढ़ में 1,380 पद खाली हैं। वह जशपुर, बलरामपुर और अंबिकापुर में डाटा एंट्री ऑपरेटर, क्लर्क, भृत्य और वाहन चालक पद पर भर्ती करा देगा। 14 जून, 2020 को नौ लाख 20 हजार रुपये, आठ जुलाई को नौ लाख 31 हजार रुपये कुछ लोगों से लिए। सुधावती पैकरा से दो लाख 56 हजार, सुनीता पैकरा से दो लाख 58 हजार 207 रुपये लिए। लोगों से कुल 23 लाख 65 हजार 207 रुपये लेकर उसने धोखाधड़ी की। रकम रायपुर में देने की बात कही गई। 14 जून को सरपंच सुबह सात बजे रायपुर पहुंचे। ठग ने उन्हें मोवा ब्रिज के आगे एफसीआइ रोड पर आने के लिए कहा। ठग का भतीजा उक्त जगह पर मिला। सरपंच ने उसे नौ लाख 20 हजार नकद दिए। पैसा और एटीएम कार्ड देते समय ठग तिग्गा स्वयं नहीं आया था। वह फोन से संपर्क कर रहा थे। इसके बाद सरपंच वापस अपने गांव लौट गए। उधर ठग तिग्गा प्रतिदिन फोन करके कह रहा था कि सूची बन रही है, नियुक्ति आदेश जारी हो रहा है। 10 जुलाई, 2020 तक नियुक्ति आदेश डाक से भिजवा देंगे। जशपुर जिले के सरपंच की शिकायत पर केस दर्ज हुआ है।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta