CG-DPR

जिले की शिक्षकों की मेहनत लायी रंग...प्रदेश में पढ़ाई तुंहर द्वार से ऑनलाइन पढ़ा हर तीसरा छात्र है रायगढ़ जिले का

Janta se Rishta
5 Sep 2020 5:38 AM GMT
जिले की शिक्षकों की मेहनत लायी रंग...प्रदेश में पढ़ाई तुंहर द्वार से ऑनलाइन पढ़ा हर तीसरा छात्र है रायगढ़ जिले का
x

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। देश कोरोना जैसी अभूतपूर्व आपदा का सामना कर रहा है। लोगों के सेहत की सुरक्षा हर शासन-प्रशासन की पहली प्राथमिकता है। तकरीबन सारे महकमें इन्ही प्रयासों में लगे हैं कि जल्द कोरोना की रफ्तार थमे और जिंदगी वापस पटरी पर लौटे। इस वैश्विक महामारी का खासा असर स्कूल कॉलेज के बच्चों की पढ़ाई पर भी देखने को मिला। कोरोना संकट के शुरूआती दौर में नौनिहालों की पढाई-लिखाई में भी रुकावटें आयी हैं। फिर हालातों को समझते हुए छत्तीसगढ़ शासन ने घर बैठे ही बच्चों को पढाई मुहैय्या कराने का जो संकल्प लिया उसकी परिणति 'पढ़ाई तुंहर द्वार ' के रूप में सामने आयी जिसे मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने शुभारंभ कर प्रदेश व्यापी ऑनलाइन अध्ययन-अध्यापन की बुनियाद रखी।

' पढ़ाई तुंहर द्वार से पढ़ रहा हर तीसरा छात्र है रायगढ़ जिले का ' इस ऑनलाइन पोर्टल ने एक ऐसा मंच उपलब्ध कराया जिससे शिक्षक और विद्यार्थी कोरोना संक्रमण की चिंता से मुक्त होकर ई-क्लास द्वारा आपस में जुड़कर पढाई जारी रख सकें। पोर्टल में बच्चों की पढाई आसान बनाने स्टडी मटेरियल, वीडियो लेशन, अकादमिक, सुविधाओं को भी जोड़ा गया। इसका बच्चों को बड़ा फायदा हुआ। रायगढ़ जिले की बात करें तो रायगढ़ जिले के शासकीय स्कूलों के शिक्षक इन प्रतिकूल परिस्थितियों के बीच अपने प्रयासों, समर्पण, अनुशासन व सहभागिता से तमाम नवाचारी शैक्षिक विकल्पों को अपनाकर शिक्षा का अलख जगा रहे हैं। शासन की महती योजना पढ़ई तुंहर दुआर अंतर्गत रायगढ़ जिले के शिक्षक और शासकीय विद्यालयों की सहभागिता से रायगढ़ जिले में अब तक कुल पंजीकृत शिक्षक 11137, स्कूल 146631, स्कूलों में वर्चुअल ग्रुप 3135, ऑनलाइन असाइनमेंट व गृहकार्य 56294, शंका के निराकृत सवाल 3088 एवं सीजी वेबसाइट के माध्यम से ली गई क्लासेस 296338, लाभान्वित विद्यार्थी 1980387, अपलोड सामग्री 16309 कर पढ़ई तुंहर दुआर योजना में नए कीर्तिमान गढ़ रहे है। योजना के तहत बच्चों की प्रोगेसिव अटेडेंस होती है। प्रत्येक कक्षा में जुड़े कुल छात्रों की संख्या का योग होता जाता है, इस लिहाज से योजना की शुरूआत से आज तक पुरे प्रदेश में ऑनलाइन क्लासेज से 4876078 बच्चे प्रोगेसिव रूप से जुड़ चुके हैं जिनमें से 1980387 बच्चे सिर्फ रायगढ़ जिले से हैं। अर्थात कुल बच्चों में 40.61 प्रतिशत बच्चे रायगढ़ जिले से ही हैं, सरल शब्दों में कहें तो आज राज्य में योजना के तहत ऑनलाइन क्लास से पढ़ाई कर रहा हर तीसरा छात्र रायगढ़ जिले का है।

शिक्षक वही जो हमे सोचने में सक्षम बनाये

आज शिक्षक दिवस के दिन जो कि देश के दूसरे राष्ट्रपति डॉ.राधाकृष्णन की जयंती पर मनाया जाता है उनकी कही एक बात बड़ी प्रासंगिक जान पड़ती है कि सही मायनों में शिक्षक वे होते हैं जो हमे हमारे बारे में सोचने में सक्षम बनाये, उनकी इस वाक्य को चरितार्थ करते हुए हमारे शिक्षकों ने उन बच्चों के लिए भी तोड़ निकाल लिया जो कमजोर अथवा नेटवर्क विहीन क्षेत्रों में रहने की वजह से ऑनलाइन क्लासेज से नहीं जुड़ पा रहे थे। ऐसे बच्चों के लिए ऑफलाइन क्लासेज अंतर्गत शिक्षण की नवाचारी तरीकों से पढ़ाई शुरू करवाई। जिसका नतीजा ये रहा कि पढ़ई हमर पारा से 1193, लाउडस्पीकर गुरुजी से 1193, बुलटू के बोल से 01 बच्चों को जोड़ा गया।

केबल से ली लाइव क्लासेज

कलेक्टर श्री भीम सिंह ने जिले में पढ़ाई तुंहर द्वार योजना को एक नया आयाम दिया, केबल टीवी के जरिये कक्षाएं शुरू कर छात्रों को इससे जोड़ा गया। जिससे बच्चों को बड़ी स्क्रीन पर पढाई करने का फायदा मिला और क्लासेज की रिकॉर्डिंग होने से केबल से टेलीकास्ट कर कभी भी इसका प्रसारण किया जा सकता है। इस नवाचार का भी बहुत से बच्चों ने लाभ उठाया।

रायगढ़ बदलाव की चुनौतियों के बीच

जिले के टॉप 5 शिक्षक जिन्होंने अब तक सर्वाधिक ऑनलाइन क्लासेस ली है

कठिन परिस्थितियों के बीच रायगढ़ जिले के ऐसे टॉप 5 शिक्षक हैं, जिन्होंने अब तक पढ़ई तुंहर दुआर अंतर्गत सर्वाधिक ऑनलाइन क्लासेस ली हैं। जिनमें बोजिया धरमजयगढ़ के निरंजन लाल पटेल कुल 214 क्लासेस, सारंगढ़ की शकुंतला केशरवानी 197 क्लासेस, तराईमाल रायगढ़ की निशा सिंह 190 क्लासेस, तारापुर रायगढ़ की श्याम पटेल 187 क्लासेस एवं सरवानी के मुरलीधर सिदार 183 क्लासेस ने बच्चों तक अबाधित शिक्षा पहुचाने का अनुकरणीय कार्य किया है।

जिले के टॉप 5 विद्यालय जिन्होंने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है

रायगढ़ जिले की पांच शाला जिन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय घरघोड़ा 793 कक्षाएं 25575 बच्चे नगर पालिका उच्चतर माध्यमिक विद्यालय रायगढ़ 1214 कक्षाएं 22665 शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय रायकेरा 1011 कक्षाएं 16577 बच्चे शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय तरकेला 815 कक्षाएं 15136 कक्षा शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नहरपाली 815 कक्षा 15440 बच्चे है।

जिले के टॉप 5 ऐसे शिक्षक जिनकी ऑनलाइन क्लासेस में सर्वाधिक विद्यार्थी जुड़े

जिले में संचालित हो रही ऑनलाइन शिक्षा अंतर्गत ऐसे टॉप 5 शिक्षक हैं, जिनकी ऑनलाइन क्लासेस में सर्वाधिक बच्चे जुड़कर लाभान्वित हुए हैं। इन शिक्षकों में घरघोड़ा के विजय कुमार पंडा की क्लास में 16652 बच्चे, बोजिया धरमजयगढ़ के निरंजनलाल पटेल की क्लास में 9801 बच्चे, नहरपाली के संजय त्रिपाठी की क्लास में 6684 बच्चे, लेन्ध्रा के सुरेश कुमार पटेल की क्लास में 4153 बच्चे, लुकापारा के श्री हरि शंकर पटेल 3840 बच्चे जुड़कर लाभान्वित हुए हैं। जिला शिक्षा अधिकारी श्री आर.पी. आदित्य एवं जिला मिशन संचालक श्री रमेश देवांगन, एपीसी भुवनेश्वर पटेल, भूपेंद्र पटेल ने पढ़ई तुंहर दुआर अंतर्गत सर्वश्रेष्ठ कार्य कर रहे इन शिक्षकों व विद्यालय प्रमुखों को शुभकामनाएं प्रेषित की हैं।

https://jantaserishta.com/news/cm-announces-family-of-7-people-who-died-in-raipur-road-accident-will-get-rs-2-lakh/

https://jantaserishta.com/news/teachers-day-cm-bhupesh-baghel-congratulated-and-congratulated-all-the-teachers-and-people-of-the-state/

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta