टी-सेल थेरेपी करेगी हर तरह के कैंसर का इलाज | जनता से रिश्ता

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी पर वैज्ञानिकों ने बड़ी जीत हासिल की है. वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर हर तरह के कैंसर से लड़ा जा सकता है इंग्लैंड की कार्डिफ यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने पाया कि इंसान की रक्त कोशिकाओं में एक नए तरह का किलर टी-सेल भी होता है. ये टी-सेल एक तरह की प्रतिरोधी कोशिकाएं होती हैं, जो शरीर में निगरानी करने का काम करती हैं और शरीर के लिए किसी भी तरह के खतरे को खत्म कर देती हैं

फेफड़ों से लेकर कोलोन कैंसर का होगा इलाज :
जब लैब में इन टी-कोशिकाओं का इस्तेमाल किया गया तो पाया गया कि ये कोशिकाएं फेफड़े, त्वचा, रक्त, कोलोन, स्तन, हड्डियां, प्रोस्टेट, ओवेरियन, किडनी और सर्वाइकल में मौजूद कैंसर कोशिकाओं को लक्षित करती हैं जबकि शरीर की स्वस्थ कोशिकाओं को यह किसी भी तरह का नुकसान नहीं पहुंचातीं

ऐसे करती है काम:
कैंसर के इलाज में टी-सेल थेरेपी बिल्कुल नई मिसाल है और इस थेरेपी में प्रतिरोधी कोशिकाओं को निकालकर, उनमें थोड़ा बदलाव करके मरीज के खून में वापस डाल दिया जाता है, ताकि ये प्रतिरोधी कोशिकाएं कैंसर कोशिकाओं का खात्मा कर सकें.

नए तरह का टी-सेल रिसेप्टर भी मिला:शोधकर्ताओं ने जिस टी-सेल की खोज की है उसमें एक अलग तरह का सेल रिसेप्टर होता है, जो इंसानों में पाए जाने वाले ज्यादातर कैंसर की पहचान कर कैंसर वाली कोशिकाओं का खात्मा करता है औरस्वस्थ कोशिकाओं को किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचाता