Top
विश्व

श्रीलंका : तेल टैंकर की आग बुझाने में विशेषज्ञो को भी होना पड़ा शामिल | जनता से रिश्ता

Janta se Rishta
6 Sep 2020 3:13 PM GMT
श्रीलंका : तेल टैंकर की आग बुझाने में विशेषज्ञो को भी होना पड़ा शामिल | जनता से रिश्ता
x

जनता से रिश्ता वेबडेस्क कोलंबो। श्रीलंका के पूर्वी तट से दूर एक तेल टैंकर में लगी आग को भारत की मदद से नियंत्रित करने की कोशिशों के एक दिन बाद देश की नौसेना ने कहा है कि सिंगापुर की कंपनी के विशेषज्ञों का एक दल आग बुझाने के प्रयास में शामिल हो रहा है।
श्रीलंका की नौसेना ने कहा है कि इस टैंकर के व्यावसायिक स्वामियों ने सिंगापुर की एक अंतरराष्ट्रीय कंपनी को विशेषज्ञ के तौर पर नियुक्त किया है। कच्चे तेलों के टैंकरों को खींचने में सक्षम दो विशाल टगबोट इस तेल टैंकर में लगी आग को बुझाने के अभियान में शामिल होने के लिए सिंगापुर एवं मॉरीशस से रवाना हो चुके हैं।

एमटी न्यू डायमंड नामक यह टैंकर पनामा में पंजीकृत है और इसमें गुरुवार को आग लग गई थी। यह जहाज दो लाख 70 हजार मिट्रिक टन कच्चा तेल लेकर कुवैत से भारत जा रहा था। श्रीलंका की नौसेना ने इस बात की पुष्टि की है कि जहाज के इंजन कक्ष में बायलर विस्फोट से फिलीपीन के एक नाविक की मौत हो गई है।

भारतीय जहाज पूर्वी जिले अम्पारा के तट से करीब 40 समुद्री मील दूर खड़े इस टैंकर में लगी आग पर काबू पाने के लिए श्रीलंकाई नौसेना की सहायता कर रहे हैं। आग को नियंत्रित किया जा चुका है लेकिन अब भी लपटें निकल रही हैं।

नौसेना ने बताया कि भारतीय तट रक्षक बल के पांच जहाज तथा भारतीय नौसेना का एक जहाज अब भी आग बुझाने के प्रयास में लगे हुए हैं। उसने कहा कि हादसे के बाद पहला मौका है जब चालक दल के 20 सदस्य दूरभाष के माध्यम से अपने परिजनों के संपर्क में हैं।

टैंकर में चालक दल के 23 सदस्य थे जिसमें 18 ​फिलीपीन के और पांच यूनान के नागरिक हैं, इनमें से 22 सदस्यों को टैंकर से सुरक्षित निकाल लिया गया है।

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it