शमी ने बुमराह की काबिलियत पर सवाल उठाने वालों को दिया मुंहतोड़ जवाब…| जनता से रिश्ता

file pic

जनता से रिश्ता वेबडेस्क।   भारत के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने शनिवार को कहा कि महज दो-चार मैचों में खराब प्रदर्शन के बाद लोग जसप्रीत बुमराह के कई एकदिवसीय मैचों में जीत दिलाने वाले प्रदर्शन को कैसे भूल सकते हैं। बुमराह न्यूजीलैंड के खिलाफ सभी तीन वनडे मैचों में विकेट हासिल नहीं कर सके जिसमें भारत को हार का सामना करना पड़ा। इससे उनके प्रदर्शन पर सवाल उठाए जा रहे हैं। न्यूजीलैंड एकादश के खिलाफ अभ्यास मैच के दूसरे दिन के खेल के बाद शमी ने कहा कि मैं समझ सकता हूं कि अगर हम एक विषय पर कुछ समय बाद चर्चा करें, पर महज दो-चार मैचों के बाद ऐसा करना। उसने महज दो मैचों में अच्छा नहीं किया तो आप उसकी मैच जीतने की काबिलियत की अनदेखी नहीं कर सकते।

बुमराह के सीनियर जोड़ीदार शमी ने न्यूजीलैंड एकादश के खिलाफ 18 रन देकर तीन विकेट झटककर शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि बुमराह ने भारत के लिये कितना कुछ हासिल किया है, आप इसे कैसे भूल सकते हो या फिर आप इसकी अनदेखी कैसे कर सकते हो? इसलिए अगर आप सकारात्मक रूप से सोचोगे तो यह खिलाड़ी के लिए अच्छा है और उसके आत्मविश्वास के लिए भी।

इस अनुभवी तेज गेंदबाज ने आलोचकों पर सवाल करते हुए कहा कि खिलाड़ी के तौर पर, यह बहुत अलग होता है। बाहर से किसी की आलोचना करना बहुत आसान है क्योंकि कुछ का काम टिप्पणी करना और पैसा कमाना है। हर खिलाड़ी चोटिल हो सकता है और किसी भी व्यक्ति को नकारात्मक चीजों की बातें करने के बजाय सकारात्मक चीजों को देखने की कोशिश करनी चाहिए।

अगर एक खिलाड़ी की अचानक फार्म खराब हो जाती है तो इससे लोगों का रवैया एकदम से बदल जाता है जो शमी को बिलकुल अच्छा नहीं लगता। शमी ने कहा कि जब आप कुछ मैचों में अच्छा नहीं करते तो लोग बहुत अलग तरीके से सोचना शुरू कर देते हैं और उनका आपके बारे में रवैया बदल जाता है। इसलिए हमें ज्यादा सोचना नहीं चाहिए।