मंत्री ने की ई-साइकल की सवारी…राष्ट्रीय बाल विज्ञान प्रदर्शनी स्थल का किया भ्रमण

 जनता से रिश्ता वेबडेस्क।  स्कूली बच्चों और युवाओं के लिए ई-सायकल बन रही है आकर्षण का केन्द्र। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रूद्र कुमार आज पांच दिवसीय 46वीं जवाहरलाल नेहरू विज्ञान गणित एवं पर्यावरण प्रदर्शनी के समापन समारोह के दौरान ई-साईकिल की सवारी कर इसकी खूबियों की जानकारी ली। उन्होंने ई-सायकल में प्रदर्शनी स्थल का भ्रमण किया।

प्रदर्शनी में जिला यवतमाल पुसद महाराष्ट्र के ज्योतिर्गमय इंग्लिश स्कूल से आए विद्यार्थी कैवल्य अभय लापसेटवार ने मंत्री गुरु रूद्र कुमार को इस साईकिल की खूबियों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि ई-साइकल में ईंधन डालने की कोई जरूरत नहीं है, साथ ही अन्य वाहनों की अपेक्षा कम खर्चे में बन जाती है। इस सायकल में हेडलाइट, डायनमों, बैटरी, चार्जिंग इंडिकेटर तथा मोटर लगी है। यह मोटर के जरिए चलती है। मोटर चार्ज करने के लिए इसमें डायनमों के साथ ही इलेक्ट्रिक और सोलर पैनल भी लगाया गया है। स्पीड कंट्रोल करने के लिए इसमें एक्सीलेटर भी है। इसे पैडल से भी चलाया जा सकता है। इस सायकल के लिए लाइसेंस की जरूरत नहीं पड़ती। इसका उपयोग शारीरिक व्यायाम के लिए भी किया जा सकता है। यह सायकल एक बार चार्ज होने पर 30 किलोमीटर तक दूरी तय करती है। यह मानव जीवन के स्वास्थ्य और पर्यावरण की दृष्टि से पूर्णतः उपयुक्त है। इसके किफायती दाम में मिलने की वजह से सभी लोगों के लिए भी उपयोगी है।