भारत

महागठबंधन में सीटों को लेकर सियासत शुरू, आरजेडी ने 160 सीटों पर चुनाव लड़ने का दावा ठोका...कांग्रेस ने कहा-दावे का कोई मतलब नहीं...

Janta se Rishta
22 Aug 2020 11:13 AM GMT
महागठबंधन में सीटों को लेकर सियासत शुरू, आरजेडी ने 160 सीटों पर चुनाव लड़ने का दावा ठोका...कांग्रेस ने कहा-दावे का कोई मतलब नहीं...
x

जनता से रिश्ता वेबडेस्क, पटना । बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) से पहले महागठबंधन के भीतर सीटों को लेकर सियासत शुरू हो गई है. राष्ट्रीय जनता दल (RJD) ने 160 सीटों पर अकेले लड़ने का दावा कर दिया है. राजद के दावे के बाद कांग्रेस और आरजेडी के बीच सीटों को लेकर रस्साकसी शुरू हो गई है. राजद नेता विजय प्रकाश (RJD Leader Vijay Prakash) ने दावा करते हुए कहा कि उनकी पार्टी के पास पहले से ही 80 विधायक हैं. ऐसे में राजद महागठबंधन की सबसे बड़ी पार्टी है. इसलिए राजद कम से कम 160 सीटों पर चुनाव लड़ेगी.

आरजेडी भले ही 160 सीटों के दावा कर रही हो पर कांग्रेस (Congress) का मानना है कि किसी के दावे का कोई मतलब नहीं. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और विधायक दल के नेता सदानंद सिंह ने कहा कि कौन क्या दावा करता है फिलहाल उसका कोई मतलब नहीं है. कांग्रेस कितनी सीटों पर जीत सकती है इसका आंकड़ा आलाकमान को भेज दिया गया है. अगले एक सप्ताह के भीतर आलाकमान सारी बातों पर फैसला ले लेगी. सीट को लेकर स्थानीय स्तर पर अब बात करने का कोई मतलब नहीं है.

रालोसपा ने भी आरजेडी के दावे से किया किनारा
महागठबन्धन के सहयोगी रालोपसा ने भी आरजेडी के दावों को पूरी तरह नकार दिया है. रालोसपा के मुख्य प्रवक्ता अभिषेक झा ने बताया कि सीट बंटवारे की बात महागठबंधन के बैठक में तय होगा. बिना बैठक किये कोई कुछ भी दावा करे इसका कोई मतलब नहीं है. राजद का दावा पूरी तरह से निराधार है.

जेडीयू ने महागठबंधन पर कसा तंज

सीट बंटवारे को लेकर महागठबन्धन में चल रहे घमासान पर जेडीयू ने तंज कसते हुए तेजस्वी यादव को अहंकारी बताया है. जेडीयू प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा कि तेजस्वी यादव के अहंकार के कारण उसके सहयोगी भी साथ देने को तैयार नहीं हैं. अगर राजद 160 सीटों पर चुनाव लड़ेगी तो रालोसपा और वीआईपी को क्या मिलेगा वो ही जानें.

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it