छत्तीसगढ़

मोहर्रम और ताजिया के त्यौहार मनाने की मिली अनुमति... जिला प्रशासन ने दिए सख़्त दिशा निर्देश...

Janta se Rishta
17 Aug 2020 3:24 PM GMT
मोहर्रम और ताजिया के त्यौहार मनाने की मिली अनुमति... जिला प्रशासन ने दिए सख़्त दिशा निर्देश...
x

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। रायपुर। राजधानी में आगामी मोहर्रम त्यौहार मनाये जाने के लिए आज एक बड़ी बैठक ली गई। मोहर्रम त्यौहार को मद्देनजर रखते हुए आहूत की बैठक गई। इस बैठक में मोहर्रम त्यौहार मनाया जाये इसके लिए नियम और शर्तों का ऐलान किया गया। इस बैठक में पुलिस अधिकारियों के साथ मुस्लिम समाज के लोग भी उपस्थित हुए थे। कोरोना वैश्विक महामारी को ध्यान में रखते हुये बैठक में आपसी सहमति से कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। पूरे रायपुर शहर में मोमिनपारा आजाद चौक और ईरानी डेरा सिविल लाईन से सिर्फ 1-1 ताजियां ही निकाली जाएगी। ताजियां के साथ सिर्फ 4 व्यक्ति और सवारी के साथ सिर्फ 2 व्यक्तियों को जाने की अनुमति होगी। और ध्वनि विस्तारक यंत्रों का उपयोग और शस्त्र प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं होगी। भारत सरकार, राज्य सरकार एवं जिला प्रशासन के गाइड लाईन के निर्देशों का पालन करते हुये मोहर्रम त्यौहार मनाने की अनुमति दी गई है।

जिला प्रशासन एवं जिला पुलिस के तत्वाधान में आज पुलिस नियंत्रण कक्ष में आगामी मोहर्रम त्यौहार मनाये जाने को लेकर शहर के मुस्लिम समाज के प्रतिष्ठित व्यक्ति एवं पदाधिकारीगण के साथ बैठक आहूत की गई। बैठक में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर तारकेश्वर पटेल, अनुविभागीय दण्डाधिकारी प्रणव सिंह, नगर पुलिस अधीक्षक सिविल लाईन नसर सिद्धकी, नगर पुलिस अधीक्षक कोतवाली डी.सी. पटेल, नगर पुलिस अधीक्षक पुरानी बस्ती मनोज ध्रुव तथा मुस्लिम समाज के करीब 30 व्यक्ति उपस्थित हुये। वर्तमान में कोरोना वैश्विक महामारी को ध्यान में रखते हुये मोहर्रम त्यौहार मनाने के कार्यक्रम को सीमित रखने तथा सांकेतिक रूप से मनाये जाने हेतु चर्चा की गई। प्रशासकीय चर्चा में आपसी सहमति से निर्णय लिया गया है कि इस बार पूरे शहर में मोमिनपारा आजाद चैक एवं ईरानी डेरा सिविल लाईन से एक - एक ताजियां तथा काफी सीमित संख्या में सवारियां निकाली जाएगी। प्रत्येक ताजियां के साथ 04 व्यक्ति तथा प्रत्येक सवारी के साथ 02 व्यक्तियों को जाने की अनुमति दी गई है। ताजियां अथवा सवारी एक साथ रैली के रूप में नहीं चलेंगी तथा एक - दूसरे के मध्य पर्याप्त सोशल डिस्टेन्सिंग रखना अनिवार्य होगा। समस्त ताजियां एवं सवारियां सूर्यास्त (मगरीब) के पूर्व करबला पहुंचाये जाने की जिम्मेदारी कमेटी की होगी। ताजियां अथवा सवारी के साथ ढोल, बाजा एवं किसी भी प्रकार के ध्वनि विस्तारक यंत्रों के उपयोग की अनुमति नहीं दी गई है। संाकेतिक रूप से भी शस्त्र प्रदर्शन अथवा अखाड़ा करने की अनुमति प्रदान नहीं की गई है। भारत सरकार, राज्य सरकार एवं जिला प्रशासन के गाइड लाईन के अनुसार मोहर्रम त्यौहार मनाये जाने पर सहमति प्राप्त की गई।

https://jantaserishta.com/news/chhattisgarh-corona-report-of-bjp-mla-shivratan-sharma-came-positive-tweeted-information/

https://jantaserishta.com/news/chhattisgarh-accused-arrested-for-injecting-drug-addicts/

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta