बाप रे! कोरोना के नाम पर 2 महिला ने की बड़ी साजिश…चार लोगों को पिला दिया जहर…पुरे मामले का इस तरह हुआ खुलासा

दिल्ली के अलीपुर इलाके में एक ही परिवार के चार लोगों को स्वास्थ्यकर्मी बनकर पहुंचीं महिलाओं ने दवा कहकर जहरीला पदार्थ पिला दिया. इससे एक होमगार्ड, उनकी मां, चाचा और एक अन्य रिश्तेदार बेहोश हो गए. जब पड़ोसियों ने चारों को जमीन पर बेहोशी की हालत में देखा तो फौरन सभी को अस्पताल भेजा गया. राजा हरीशचंद्र अस्पताल में चारों को भर्ती कराया गया है. जहां सभी की हालत गंभीर बताई जा रही है.

दरअसल, डीसीपी के अनुसार रविवार 3 बजे के आसपास दो महिलाएं होमगार्ड विक्रम के घर पहुंचीं और कहा कि वो स्वास्थ्य विभाग से आई हैं. जैसे पोलियो की दवा दी जाती है उसी तरह कोरोना से बचने के लिए विभाग द्वारा दिल्ली में घर-घर दवा पिलाई जा रही है. इसके बाद दोनों ने विक्रम, उसकी मां, चाचा और एक रिश्तेदार को दवा के नाम पर जहरीला पदार्थ पिला दिया.

विक्रम के घरवालों को जहर देने के बाद दोनों महिलाएं मौके से फरार हो गईं. दो दिन की जांच के बाद जब पुलिस ने दोनों महिलाओं को अलीपुर बॉर्डर से गिरफ्तार किया तो पूरी साजिश का खुलासा हुआ. दोनों महिलाओं ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि वो प्रदीप नाम के सख्स की फैक्ट्री में काम करती हैं. ये प्लानिंग बाहरी दिल्ली के रमजानपुर के रहने वाले प्रदीप ने रची थी. पुलिस ने रमजानपुर से प्रदीप को भी गिरफ्तार कर लिया है.

दरअसल कुछ महीनों पहले तक विक्रम और प्रदीप पड़ोसी थे. आरोप है कि विक्रम का प्रदीप की पत्नी से संबंध था. जब ये बात प्रदीप को पता चली तो उसका विक्रम से खूब झगड़ा हुआ. तंग आकर प्रदीप ने घर ही बदल दिया. इसके बावजूद भी विक्रम ने प्रदीप की पत्नी से मिलना जुलना बंद नही किया. लिहाजा विक्रम से बदला लेने की नीयत से प्रदीप ने पूरे परिवार को खत्म करने की साजिश रची.

इसके बाद प्रदीप ने अपनी फैक्टरी में काम करने वाली दो महिलाओं को पैसों का लालच दिया. लिहाजा दोनों पूरे परिवार को जहर देने के लिए राजी हो गईं.

पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज से छानबीन कर जहर देने वाली दो महिलाओं को समयपुर बादली से गिरफ्तार कर लिया. पुलिस की पूछताछ में उन्होंने बताया कि विक्रम की प्रेमिका के पति ने उनसे कोरोना वैक्सीन के नाम पर चारों को जहर देने के लिए कहा था.