महापौर एजाज ढेबर ने की स्मार्ट सिटी मिशन की कार्यों की समीक्षा

 जन सुविधाओं से जुड़ी योजनाओं को प्राथमिकता से  पूरा करने के दिए निर्देश
 महादेव घाट और जयस्तंभ चैक को आकर्षक स्वरूप देने के निर्देश
 तालाबों, शालाओं के साथ उद्यानों का भी होगा कायाकल्प

जनता से रिश्ता वेबडेस्क, रायपुर । महापौर एजाज ढेबर ने रायपुर में स्मार्ट सिटी मिशन के तहत संचालित विकास कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों से कहा है कि लोक कल्याण की कार्य योजनाओं पर फोकस करते हुए सभी योजनाओं का निर्धारण करें। उन्होंने तालाबों के सौंदर्यीकरण को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए शहर में रिक्त भू-खण्ड की पहचान कर उसमें जन उपयोगी कार्य योजनाओं के लिए प्रस्ताव तैयार करने के लिए कहा है। उन्होंने यह भी कहा है कि शहर को 24 घंटे शुद्ध पेयजल मिले और पर्यावरण संरक्षण हेतु सघन वृक्षारोपण किए जाने की दिशा में ठोस कदम उठाएं जाएं। उन्होंने उद्यानों में लगे झूले के नियमित रखरखाव की जिम्मेदारी तय करने सहित हर जगह प्रसाधन की समुचित व्यवस्था करने के लिए कहा है। बैठक में महाप्रबंधक तकनीकी एस.के. सुंदरानी के साथ सभी प्रोजेक्ट से जुड़े अधिकारी और कार्य एजेंसी के सदस्य उपस्थित थे। बैठक में श्री ढेबर ने शहर के ऐतिहासिक व महत्वपूर्ण स्थल जयस्तंभ चैक के सौंदर्यीकरण के के लिए प्लान तैयार कर प्रस्तुत करने के लिए कहा है। उन्होंने इस महत्वपूर्ण चैराहे में किसी भी तरह के बैनर, पोस्टर ना लगे यह भी सुनिश्चित करने के लिए कहा है। उन्होंने स्मार्ट रोड के तहत मार्गों के चिन्हांकन, भूमिगत केबल वायरिंग जैसे कार्यों के अलावा खूबसूरत रौशनी से विभिन्न मार्गों के सौंदर्यीकरण के लिए भी अधिकारियों से कहा है। बैठक में उन्होंने नगर के ऐतिहासिक व पौराणिक स्थल के रूप में चिन्हित महादेव घाट को आकर्षक स्वरूप देकर विकसित करने का निर्देश दिया है, जिससे कि लोग एक सुविधाजनक व आकर्षक स्थल के रूप में इस पौराणिक महत्व के स्थल पर परिवार के साथ समय व्यतीत कर सके। उन्होंने शहर के स्कूलों का कायाकल्प कर उस स्थल का समुचित उपयोग हो सके उसके लिए कोचिंग , जिम सेंटर्स जैसी संस्थाओं को जोड़ने का सुझाव दिया है। बैठक में जी.एम. (तकनीकी) सुंदरानी ने रायपुर स्मार्ट सिटी मिशन के तहत पूर्ण किए गए सभी प्रोजेक्ट की जानकारी दी एवं वर्तमान में चल रहे निर्माण कार्यों व प्रस्तावित कार्यों से महापौर ढेबर को अवगत कराया। ढेबर अब इन सभी प्रोजेक्ट का भ्रमण कर दिशा निर्देश भी अधिकारियों को देंगे।श्री ढेबर ने अधिकारियों से कहा है कि नगर विकास से संबंधित प्रोजेक्ट में इस बात का ध्यान रखा जाए कि उसका पूरा लाभ आम नागरिकों विशेषकर गरीब तबके को अवश्य मिले। उन्होंने सौंदर्यीकरण के साथ ही जन सुविधाओं की उपलब्धता को सर्वोच्च प्राथमिकता देने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। बैठक में स्मार्ट सिटी के मुख्य वित्त अधिकारी अरविंद मिश्रा, डीजीएम अमित शर्मा, मैनेजर (सिविल) संजय शर्मा, मैनेजर (इलेक्ट्रिकल) श्री राजेश सिंह ठाकुर, डिप्टी मैनेजर (इलेक्ट्रिकल) संदीप शर्मा, कंपनी सेक्रेट्री श्रीमती गुंजन दुबे, असिस्टेंट मैनेजर अंकुर अग्रवाल, अर्जिता दीवान सहित स्मार्ट सिटी के अधिकारीगण उपस्थित थे।