Top
COVID-19

जानिए क्यों माना जाता लगातार 3 दिनों तक बुखार आने का मतलब Covid-19 के लक्षण

Janta se Rishta
19 Sep 2020 11:33 AM GMT
जानिए क्यों माना जाता लगातार 3 दिनों तक बुखार आने का मतलब  Covid-19 के लक्षण
x

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या में बड़ी तेजी से इजाफा हो रहा है। इस वायरस को हराने के लिए दुनियाभर में युद्धस्तर पर प्रयास जारी है। हालांकि, अब तक विश्वसनीय सफलता नहीं मिल पाई है। साथ ही कई रिसर्च Covid-19 विषय पर किए जा रहे हैं, जिनमें Covid-19 से बचने के तरीके पर विशेष बल दिया जा रहा है। इस क्रम में एक रिसर्च से खुलासा हुआ है कि Covid-19 के लक्षण क्रमबद्ध अथवा चरणबद्ध तरीके से दिखाई दे सकते हैं। यह रिसर्च दक्षिण कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय (University of South California)ने की है।

इस रिसर्च से पता चला है कि Covid-19 के मरीजों में सबसे पहले बुखार के लक्षण पाए जाते हैं। जबकि अन्य लक्षण समय के साथ पनपते रहते हैं, जिनमें फ्लू भी शामिल हैं। इसके लिए दक्षिण कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने चीन के Covid-19 से संक्रमित 55,000 मरीजों की हेल्थ रिपोर्ट पर अध्ययन किया। इन मरीजों की पुष्टि विश्व स्वास्थ्य संगठन के आंकड़ों से हुई है।

शोधकर्ताओं ने दिसंबर और जनवरी में दर्ज Covid-19 के 1100 मामलों पर भी गंभीरता से अध्ययन किया। जबकि इन आंकड़ों की तुलना उत्तरी अमेरिका और यूरोप में दर्ज किए गए 2000 से अधिक इन्फ्लुएंजा मामलों से भी की। इस रिसर्च से पता चला कि ज्यादातर मामलों में संक्रमित मरीजों में सबसे पहले फीवर के लक्षण पाए गए हैं।

शोधकर्ताओं ने उन तथ्यों का खंडन किया है, जिनमें कहा जाता रहा है कि Covid-19 के प्रथमिक लक्षण फ्लू हैं। इस बारे में रिसर्च रिपोर्ट में बताया गया है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन के आंकड़ों पर गौर करें, तो पता चलता है कि बुखार के लक्षण सबसे अधिक पाए गए हैं। जून महीने में 55,924 प्रयोगशालाओं के 87.9 प्रतिशत मामलों में बुखार के लक्षण पाए गए हैं। रिसर्च में यह भी पाया गया है कि बदलते मौसम में होने वाले फ्लू में पहले सर्दी-खांसी लगती है। जब यह बलगम में तब्दील हो जाता है। इसके बाद बुखार आने का खतरा रहता है।

फ्लू और कोरोना वायरस के लक्षण समान हैं। ऐसे में यह समझना और पहचानना थोड़ा मुश्किल हो जाता है कि मरीज किससे पीड़ित है। चीन के मामलों के विश्लेषण से पता चला है कि Covid-19 के लक्षण निम्नलिखित तरीके से हो सकते हैं। मरीज को पहले बुखार आ सकता है। इसके बाद सर्दी, खांसी, कफ और मांसपेशियों में दर्द की शिकायत हो सकती है। इन समस्याओं के बाद उल्टी, सिर चकराना और दस्त के लक्ष्ण दिखाई दे सकते हैं। जबकि अंत में सांस लेने में तकलीफ हो सकती है।

बुखार आने पर क्या करें

अमूनन व्यक्ति के शरीर का तापमान 97 से 99 फारेनहाईट के बीच रहता है। अगर किसी व्यक्ति को फीवर आता है और लगातार तीन दिन तक शरीर का तापमान 99 फारेनहाईट से ऊपर रहता है, तो व्यक्ति को कोरोना टेस्ट जरूर कराना चाहिए। जबकि व्यक्ति को अन्य लोगों से आइसोलेट यानी पृथक भी कर लेना चाहिए। इस समय कोरोना के अन्य लक्षणों पर भी ध्यान देना चाहिए। हालांकि, बुखार और फ्लू ही कोरोना के लक्षण नहीं हैं। कई और लक्षण भी हो सकते हैं, जिनका पता रिसर्च के माध्यम से आने वाले समय में चल सकता है। अतः सावधानी और परहेज जरूरी है।

https://jantaserishta.com/news/china-to-test-corona-vaccine-on-children-now-clinical-trial-may-start-from-28-september/

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it