जानिए इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए करें, फल और दूध का सेवन

    जनता से रिश्ता वेबडेस्क। कोरोना से बचाव के लिए शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए अगर आप दिन में कई बार काढ़े का सेवन कर रहे हैं तो सावधान हो जाइए। अत्यधिक काढ़े का सेवन आपको पेट का रोगी बना सकता है। पेट में अल्सर और लीवर एप्सिस जैसी बीमारी से आप पीड़ित हो सकते हैं। डॉक्टरों ने भी इस बात को माना है। 

    डॉक्टरों का कहना है कि प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए फल और दूध का नियमित का सेवन करें। दिनचर्या में योग और व्यायाम को शामिल करते हुए संयमित भोजन लें। शरीर की प्रतिरोधक क्षमता खुद ब खुद बढ़ जाएगी। इसका शरीर पर कोई नकारात्मक प्रभाव भी नहीं पड़ेगा। 

    काढ़े के मौजूद तत्व पहुंचा रहे नुकसान
    वरिष्ठ गैस्ट्रो इंट्रोलॉजिस्ट डॉ. एसपी मिश्र का कहना है कि काढ़े में इस्तेमाल होने वाले मसालों में मौजूद तत्व किडनी और लीवर को नुकसान पहुंचाते हैं। काढ़े का अत्यधिक सेवन इन मेटल्स को सक्रिय रखता है। ऐसे में कुछ ही दिनों में लीवर एप्सिस और पेट में अल्सर की शिकायत होने लगती है। 
    वरिष्ठ गैस्ट्रो इंट्रोलॉजिस्ट डॉ. आलोक मिश्रा का कहना है कि काढ़े के फायदे का कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। हो सकता है यह फायदेमंद हो लेकिन इसका अत्यधिक सेवन पेट का रोगी बना सकता है। 

    खानपान में संयम आपको बना सकता है स्वस्थ
    डॉक्टरों का कहना है कि कोरोना के खौफ से लोग शरीर को स्वस्थ रखने के लिए तरह-तरह के प्रयोग कर रहे हैं लेकिन शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना है तो खानपान में संयम रखें। योग व्यायाम करते हुए फल और दूध का इस्तेमाल करें। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। अगर आप ब्लड प्रेशर और सुगर के मरीज हैं तो इनकी दवाएं किसी भी हाल में बंद न करें।