Top
विश्व

भारत-रूस के बीच AK-47 203 राइफल्स की डील पक्की, 1 मिनट में दागती है 600 गोलियां

Janta se Rishta
4 Sep 2020 9:58 AM GMT
भारत-रूस के बीच AK-47 203 राइफल्स की डील पक्की, 1 मिनट में दागती है 600 गोलियां
x

जनता से रिश्ता वेबडेस्क|शंघाई कॉरपोरेशन ऑर्गेनाइजेशन समिट के दौरान भारत और रूस के बीच एक खास डील (india russia AK-47 203 rifles deal) हुई है, जिसके बाद भारत की ताकत और बढ़ जाएगी। इस समिट में पहुंचे भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रूस के साथ एके-47 के सबसे एडवांस वर्जन की राइफल के लिए डील कर ली है। ये डील एके-47 203 के लिए की गई है, जो अब भारत में ही तैयार होंगी। इसका पुराना मॉडल हिमायल जैसे ऊंचे इलाकों में कमजोर पड़ जाता था, लेकिन ये एडवांस वर्जन वो कमजोरी दूर करने वाला है। माना जा रहा है कि यह अब इंडियन स्मॉल आर्म्स सिस्टम (इंसास) असॉल्ट राइफल की जगह लेगा।

india and russia finalise ak-47 203 rifles deal for more than 7 lakh rifles, fire 600 rounds in one minute

बेहद अहम है राइफल डील का ये मौका

इन दिनों भारत और चीन के बीच तनाव का माहौल है। पूर्वोत्तर राज्यों तक की सीमा पर तनाव जारी है और हाल के ही दिनों में दोनों सेनाओं में झड़प भी हुई है। इसी बीच बेहद एडवाइंस राइफल की डील करना भारत के लिए बेहद अहम है। बता दें कि भारतीय सेना ममें 1996 से ही इंसास (INSAS) का इस्तेमाल हो रहा है, लेकिन हिमालय की ऊंची चोटियों पर इसमें जैमिंग और मैगजीन के क्रैक होने जैसी समस्याएं सामने आती हैं और एके-47 203 इसका अच्छा विकल्प साबित हो सकता है।

भारत को चाहिए 7 लाख से ज्यादा राइफल!

-7-

रूस के मुताबिक भारतीय सेना को 7 लाख से भी अधिक एके-47 203 राइफल चाहिए। डील के तहत करीब 1 लाख राइफल तो सीधे रूस से आयात की जाएंगी, जबकि बाकी की भारत में ही तैयार की जानी हैं। भारत में ये राइफल इंडो-रशिया राइफल्स प्राइवेट लिमिटेड (IRRPL) के संयुक्त ऑपरेशन के तहत बनाई जाएंगी। यह ऑर्डिनेंस फैक्ट्री बोर्ड (OFB) और कालाश्निकोव कंसर्न और रोसोबोरोनएक्सपॉर्ट के बीच की गई डील है।

कितनी है इस राइफल की कीमत?

इस राइफल की कीमत करीब 1100 डॉलर हो सकती है। ये राइफल दुनिया की सबसे मॉडर्न और असॉल्ट राइफल में से एक है। इसे यूपी के अमेठी में स्थिति ऑर्डिनेंस फैक्ट्री में तैयार किया जाएगा, जिसका उद्घाटन पिछले ही साल खुद पीएम मोदी ने किया था। ये बेहद हल्‍की और छोटी है, जिससे चलते इसे कहीं ले जाना काफी आसान है। पूरी तरह से लोड किए जाने के बाद कुल वजन 4 किलोग्राम के आसपास होगा।

1 मिनट में दागती है 600 गोलियां

1-600-

इस राइफल में 7.62 एमएम की गोलियों का इस्‍तेमाल किया जाता है। इसकी ताकत का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि ये महज एक मिनट के अंदर ही 600 गोलियां दाग देती है। यानी महज एक सेकेंड में ही 10 गोलियां दागने की ताकत रखती है। इसे ऑटोमेटिक और सेमी ऑटोमेटिक दोनों ही मोड पर इस्‍तेमाल किया जा सकता है और इसकी मारक क्षमता 400 मीटर है।

https://jantaserishta.com/news/this-bank-will-launch-money-from-atm-through-mobile-app/

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it