ICC : एजबेस्टन के ऊपर विरोधी बैनर लगाकर उड़ा विमान

जनता से रिश्ता वेबडेस्क:-  राजनीतिक संदेश लिखे बैनर वाले छोटे विमानों से मेजबान देश का शर्मसार होना जारी है, क्योंकि गुरुवार को इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच दूसरे सेमीफाइनल के दौरान एक विमान एजबेस्टन क्रिकेट स्टेडियम के ऊपर से गुजरा जिस पर बलूचिस्तान के समर्थन का संदेश लिखा था। एक छोटे विमान ने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच सेमीफाइनल मैच के दौरान पांच बार घेरा लगाया और उस पर विरोध दर्ज कराने वाला बैनर लगा था।

बैनर में लिखा था, ‘दुनिया को बलूचिस्तान (पाकिस्तान में एक प्रांत) के बारे में बात करनी चाहिए।’ यह पहली बार नहीं है जब छोटे विमान राजनीतिक संदेश के बैनर लेकर मौजूदा विश्व कप के दौरान दिखाई दिए हों। लीड्स में दो ग्रुप मैचों के दौरान भी इसी तरह की घटना हुई थी। भारत-श्रीलंका ग्रुप मैच के दौरान हेडिंग्ले क्रिकेट मैदान पर एक विमान गुजरा जिस पर ‘कश्मीर के लिए न्याय और ‘भारत नरसंहार रोको, कश्मीर को आजाद करो के बैनर लगे थे। इसके बाद एक अन्य विमान पर ‘भारत भीड़ द्वारा पीटकर हत्या बंद करो संदेश लिखा था। इससे पहले पाकिस्तान-अफगानिस्तान के बीच मैच के दौरान भी बलूचिस्तान के बारे में संदेश लिखा एक विमान गुजरा था। इस तरह की लगातार हुई घटनाओं के बाद बीसीसीआई के दबाव में आईसीसी और स्थानीय आयोजन समिति ने ओल्ड ट्रैफर्ड के ऊपर ‘नो फ्लाईजोन’ घोषित किया, जिस पर भारत और न्यूजीलैंड के बीच मैच खेला जाना था। लेकिन इसमें एक अन्य ही ड्रामा हुआ जिसमें खालिस्तान का समर्थन करने वाले चार सिख दर्शकों को आईसीसी ने स्टेडियम से बाहर कर दिया था क्योंकि उन्होंने राजनीति से प्रेरित संदेश वाली टीशर्ट पहनी हुई थी।

आईसीसी फाइनल में लॉर्डस को ‘नो फ्लाईजोन’ बनाएगा
ऐसे में आईसीसी अब 14 जुलाई को होने वाले फाइनल मैच के दौरान लॉर्डस को ‘नो फ्लाईजोन’ बनाने पर काम कर रहा है। आईसीसी ने कहा, “आईसीसी विश्व कप में हम किसी भी प्रकार के राजनीतिक संदेशों की निंदा नहीं करते हैं। विश्व कप को राजनीतिक विरोध के लिए एक मंच के रूप में इस्तेमाल करने से रोकने के लिए हमने पूरे टूर्नामेंट के दौरान स्थानीय पुलिस के साथ मिलकर काम किया है।”

क्रिकेट की शीर्ष संस्था ने कहा, “हम संबंधित एजेंसियों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि लॉर्ड्स में फाइनल के दौरान मानवयुक्त और मानव रहित उड़ानों के लिए यह उड़ान निषिद्ध क्षेत्र है।”इससे पहले, भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेले गए पहले सेमीफाइनल मैच में ओल्ड ट्रेफर्ड स्टेडियम में से चार सिखों को इसलिए बाहर निकाल दिया गया था क्योंकि वह राजनीतिक संदेश लिखी टी-शर्ट पहन कर आए थे। आईसीसी ने इस विवाद के बारे में कहा था, “हमने पहली पारी के दौरान ओल्ड ट्रेफर्ड मैदान पर कुछ लोगों को इसलिए बाहर निकाल दिया क्योंकि उन्होंने टिकट नियमों का उल्लंघन कर राजनीतिक संदेश फैलाने की कोशिश की थी।”