खुशख़बरी: US ने इंसानों पर शुरू किया परीक्षण, साल के अंत तक आएगी वैक्सीन | जनता से रिश्ता

File Pic

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | नई दिल्ली: कोरोना वायरस के चलते दुनिया भर में हाहाकार मचा हुआ है. अभी तक इस वायरस का कोई वैक्सीन नहीं बना है. वहीं एक अमेरिकी अधिकारी के अनुसार कोरोना वायरस वैक्सीन का परीक्षण अगले सप्ताह से शुरू होने जा रहा है. साथ ही इस वायरस से संक्रमित पहले व्यक्ति पर सोमवार से परीक्षण किया जाएगा और देखा जाएगा कि इस वैक्सीन का कोई साइड इफेक्ट तो नहीं हो रहा है. इस परीक्षण को राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान कर रहा है. ये परीक्षण वॉशिंगटन के हेल्थ रिसर्च इंस्टीट्यूट में होगा. विशेषज्ञों का कहना है कि इसके सफल परीक्षण के बाद वैक्सीन को पूरी तरह से विकसित करने में एक साल का समय लग सकता है.

बता दें कि दुनिया भर में कई फार्मास्युटिकल कंपनियां वर्तमान में कोरोना वायरस के टीके पर काम कर रही हैं. अब तक कोरोना वायरस की वजह से 1 लाख 50 हजार से अधिक लोगों को संक्रमित हैं. वहीं इस वायरस की वजह से 6 हजार लोगों की मौत हो चुकी है. ऑस्ट्रेलिया की यूनिवर्सिटी ऑफ क्वींसलैंड की एक टीम ने पिछले महीने घोषणा की थी कि उन्होंने कोरोना वायरस से निपटने के लिए वैक्सीन तैयार कर लिया है. फिलहाल उस वैक्सीन का जानवरों पर परीक्षण चल रहा है. यूनिवर्सिटी के केमिस्ट्री प्रोफेसर पॉल यंग का कहना है कि इस पर 20 से अधिक टीमें काम कर रही हैं.

नहीं थम रहा है कोरोना वायरस

ताजा आकंड़े के मुताबिक, कोरोना वायरस से अबतक 6 हजार 515 मौतें हुई हैं. कोरोना से चीन में सबसे ज्यादा 3 हजार 213 मौतें हुईं हैं. चीन के बाद इटली में 1 हजार 809, ईरान में 724, स्पेन में 292, फ्रांस में 127 और अमेरिका में 68 मौतें हुईं हैं. वहीं इससे 1 लाख 69 हजार 415 लोग संक्रमित हैं.

भारत में कोरोना वायरस के अबतक 110 मामले

वहीं, भारत में कोरोना वायरस के अबतक 110 मामले सामने आए हैं. सबसे ज्यादा महाराष्ट्र में 32, केरल में 25, हरियाणा में 14, उत्तर प्रदेश में 12, राजधानी दिल्ली में 7, कर्नाटक में 6, राजस्थान में 4, तेलंगाना में तीन, लद्दाख में तीन, जम्मू-कश्मीर में दो, तमिलनाडु,पंजाब और आंध्र प्रदेश में एक-एक मरीज संक्रमित है. बता दें कि भारत में कोरोना से दो मौत हुईं हैं. एक कर्नाटक और दूसरी राजधानी दिल्ली में. देश भर में 42 हजार लोगों को सामुदायिक निगरानी में रखा गया है.

अगर बच्चों में कोरोना के लक्षण दिखें तो क्या करें?

अगर आपके बच्चे में कोरोना के लक्षण दिख रहे हैं तो चिकित्सीय सावधानी बरतें, लेकिन ये बात भी ध्यान में रखें कि अभी मौसम बदल रहा है और कोरोना के लक्षण और आम फ्लू और सर्दी ज़ुकाम के लक्षण लगभग एक जैसे होते हैं. इसलिए सावधानी बरतने की जरूरत है. लगातार हाथ धोएं, साफ सफाई का ध्यान रखें और खांसते-छींकते वक्त जरूरी चीजों का खास ख्याल रखें. साथ ही अपने बच्चे के टीकाकरण को समय पर कराते रहें. इससे आपका बच्चा/बच्ची वायरस और बैक्टीरिया जनित बीमीरियों से बचा रहेगा. अगर आपके बच्चे में लक्षण दिखें तो पब्लिक प्लेस में जानें से बचे ताकि ये दूसरों तक ना फैले.