अफ़ग़ान बॉर्डर पर हुई गोलाबारी… पाक ने किया इंकार…

जनता से रिश्ता वेबडेसक। पाकिस्तान और अफगानिस्तान की सीमा पर हुई घातक गोलीबारी के बाद दोनों देशों में तनाव चरम पर है। अफगानिस्तान ने भी बॉर्डर से सटे इलाकों में सेना को सतर्क कर दिया है। वहीं, पाकिस्तान ने दावा किया है कि उसके सैनिकों ने पहले गोलीबारी की शुरुआत नहीं की थी।

पाक बोला- उकसावे का दिया जवाब : पाकिस्तानी विदेश कार्यालय ने एक बयान जारी कर कहा कि पाकिस्तानी सैनिकों ने अफगान बलों द्वारा की गई गोलीबारी का जवाब दिया था। अफगान के नागरिकों पर गोलियां चलाने के आरोपों को खारिज करते हुए यह कहा कि पाकिस्तानी सेना ने पहले गोलीबारी नहीं की और केवल आत्मरक्षा में जवाबी कार्रवाई की।

बॉर्डर पार करने की कोशिश के दौरान फायरिंग : पाकिस्तान के इंफॉर्मेशन मिनिस्टर सीनेटर शिबली फराज ने कहा कि कुछ लोगों ने चमन सीमा को जबरन पार करने की कोशिश की थी और उसी समय अफगान की ओर से गोलियां चलाई गईं थीं। गुरुवार को यह घटना तब हुई जब कोविड -19 महामारी की वजह से पैदल चलकर सीमा पार करने और प्रतिबंधों के विरोध में एक अनियंत्रित भीड़ ने चमन सीमा पर फ्रंटियर कोर कार्यालयों और एक क्वारंटीन सेंटर पर हमला कर दिया।

पाक-अफगानिस्तान सीमा पर भारी तनाव, रेंजर्स की गोलीबारी में 15 अफगान नागरिकों की मौत

15 लोगों की गई जान, 80 घायल : पाकिस्तान ने दावा किया कि इस संघर्ष में चार लोगों की मौत हुई। जबकि, अफगान अधिकारियों ने कहा कि पाकिस्तानी सुरक्षाबलों की गोलियों से अफगानिस्तान के 15 लोगों की मौत हुई है जबकि 80 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। अफगान इस्लामिक प्रेस ने कहा कि पाकिस्तानी बलों ने कथित तौर पर प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चलाईं। पाकिस्तानी सुरक्षा बलों की कार्रवाई के जवाब में अफगान सीमा बल एक्शन में आए और उनका पाकिस्तान के साथ टकराव हुआ।