कीविओं के लिए हर मुकाबला “करो यह मरो”, भारत इतिहास रचने से एक कदम दूर | जनता से रिश्ता

file pic

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | भारतीय टीम न्यूजीलैंड दौरे में शानदार प्रदर्शन करते हुए ऐतिहासिक पड़ाव पर खड़ी है. भारतीय टीम ने मेजबान न्यूजीलैंड (India vs New Zealand) से लगातार दो मैच जीत लिए हैं. अब दोनों टीमों के बीच बुधवार (29 जनवरी) को हैमिल्टन में तीसरा टी20 मैच (Hamilton T20I) खेला जाएगा. भारत के पास इस मैच में इतिहास रचने का मौका होगा. अगर भारतीय टीम (Team India) तीसरा मैच जीतती है तो सीरीज भी जीत लेगी. अगर ऐसा हुआ तो यह पहली बार होगा, जब भारतीय टीम न्यूजीलैंड में टी20 सीरीज जीतेगी. 

न्यूजीलैंड के मौजूदा दौरे में भारत ने दो मैच जीते हैं. दिलचस्प बात यह है कि पहले मैच में जीत का श्रेय जहां बल्लेबाजों को दिया जा सकता है तो दूसरे मैच में गेंदबाजों ने जीत दिलाई. पहले मैच में भारत ने 204 रन का लक्ष्य महज 19 ओवर में जीत लिया था. जबकि, दूसरे मैच में भारतीय गेंदबाजों ने न्यूजीलैंड (New Zealand) को महज 132 के स्कोर पर रोक दिया था. इसके बाद बल्लेबाजों ने टीम को सात विकेट से जीत दिला दी थी. 

भारतीय टीम का इससे पहले न्यूजीलैंड दौरे पर बेहद खराब रिकॉर्ड था. इस सीरीज से पहले तक भारत और न्यूजीलैंड के बीच 11 टी20 मैच खेले गए थे. इनमें से आठ मैच न्यूजीलैंड ने जीते थे. भारत को सिर्फ तीन मैचों में जीत मिली थी. 

विराट ब्रिगेड ने इस खराब रिकॉर्ड को महज तीन में काफी हद तक सुधार लिया है. उसने 24 और 26 जनवरी को मैच जीतकर मौजूदा टी20 सीरीज में 2-0 की बढ़त ले ली है. इसके साथ ही अब भारत का न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 रिकॉर्ड 5-8 हो गया है, जो एक सप्ताह पहले दिन पहले तक 3-8 था. 

भारत के पास अब तीसरा मैच जीतकर सीरीज अपने नाम करने का मौका है. ऐसा करने पर वह 3-0 की अजेय बढ़त ले लेगा. दूसरी ओर उसका न्यूजीलैंड के खिलाफ 6-8 का रिकॉर्ड हो जाएगा. न्यूजीलैंड की टीम के लिए सीरीज का हर मैच करो या मरो का हो गया है. अब वह अगर तीन में से एक भी मैच हारा तो सीरीज गंवा देगा.

दोनों टीमें इस प्रकार हैं: 
भारतीय टी20 टीम: विराट कोहली (कप्‍तान), रोहित शर्मा, केएल राहुल, संजू सैमसन, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, ऋषभ पंत, शिवम दुबे, रवींद्र जडेजा, वॉशिंगटन सुंदर, शार्दुल ठाकुर, मोहम्‍मद शमी, युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह, नवदीप सैनी और कुलदीप यादव.

न्यूजीलैंड टी20 टीम: केन विलियम्सन (कप्तान), मार्टिन गप्टिल, कॉलिन मुनरो, कॉलिन डी ग्रैंडहोम, रॉस टेलर, टिम सीफर्ट, मिचेल सैंटनर, डेरिल मिचेल, ब्लेयर टिकर, स्कॉट कुगलेजन, ईश सोढ़ी, टिम साउदी और हैमिश बेनेट